चैंपियन्स ट्राफीः जीत का नया रिकार्ड बना सकता है भारत

भारतीय क्रिकेट टीम अगर अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान और फिर अगले मैच में श्रीलंका को हराने में सफल रहती है तो वह आईसीसी चैंपियन्स ट्राफी में लगातार सर्वाधिक मैच जीतने का नया रिकार्ड बना देगी।

लंदन। भारतीय क्रिकेट टीम अगर अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान और फिर अगले मैच में श्रीलंका को हराने में सफल रहती है तो वह आईसीसी चैंपियन्स ट्राफी में लगातार सर्वाधिक मैच जीतने का नया रिकार्ड बना देगी। चैंपियन्स ट्राफी में लगातार सर्वाधिक सात मैच जीतने का रिकार्ड वेस्टइंडीज के नाम पर है जिसने 2002 और 2006 के बीच यह रिकार्ड बनाया था लेकिन कैरेबियाई टीम इस बार टूर्नामेंट के लिये क्वालीफाई नहीं कर पायी और ऐसे में भारत के पास उसका रिकार्ड तोड़ने का मौका है जो 2009 से अब तक लगातार छह मैच जीत चुका है। भारत के लिये दक्षिण अफ्रीका में 2009 में खेली गयी चैंपियन्स ट्राफी अच्छी नहीं रही थी। वह अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से हार गया था जबकि आस्ट्रेलिया के खिलाफ उसका मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था लेकिन 30 सितंबर 2009 को वह जोहानिसबर्ग में खेले गये अपने आखिरी लीग मैच में वेस्टइंडीज को हराने में सफल रहा था। इसके बाद जब इंग्लैंड में 2013 में चैंपियन्स ट्राफी खेली गयी तो भारत ने अपने सभी मैच जीते। उसने लीग चरण में दक्षिण अफ्रीका, वेस्टइंडीज और पाकिस्तान को हराया और फिर सेमीफाइनल में श्रीलंका को आठ विकेट से करारी शिकस्त दी। फाइनल में उसका मुकाबला मेजबान इंग्लैंड से था। बर्मिंघम में खेला गया यह मैच भी बारिश से प्रभावित रहा था और आखिर में इसे 20 ओवरों का कर दिया गया जिसमें भारत ने पांच रन से जीत दर्ज की थी। इस तरह से भारत अभी चैंपियन्स ट्राफी में लगातार छह मैच जीतकर रिकार्ड बनाने की राह पर है। उसका पहला मुकाबला चार जून को पाकिस्तान से होगा जिसे वह आईसीसी के अधिकतर टूर्नामेंटों में हमेशा हराता रहा है। यह मैच बर्मिंघम में खेला जाएगा जहां पिछली बार भारतीय टीम ने अपने इस पड़ोसी को आठ विकेट से करारी शिकस्त दी थी। 

चैंपियन्स ट्राफी अपवाद कही जा सकती है जहां भारत और पाकिस्तान के बीच अब तक खेले गये तीन मैचों में से दो में पाकिस्तानी टीम विजयी रही। पाकिस्तान ने 2004 में बर्मिंघम और 2009 में सेंचुरियन में जीत दर्ज की थी लेकिन भारत 2013 में बर्मिंघम में उसे हराने में सफल रहा था। अब फिर से इन दोनों टीमों के बीच बर्मिंघम में ही मुकाबला होगा। बर्मिंघम के एजबेस्टन मैदान पर भारतीय रिकार्ड अच्छा रहा है। भारत ने इस मैदान पर आठ मैच खेले हैं जिनमें से पांच में उसे जीत और तीन में हार मिली। भारत ने इस मैदान पर अपना आखिरी मैच 2007 में गंवाया था। इसके बाद उसने एजबेस्टन में जो तीन मैच खेले उन सभी में उसने जीत दर्ज की। इसके विपरीत पाकिस्तान का बर्मिंघम में रिकार्ड अच्छा नहीं रहा है। उसने एजबेस्टन में 11 वनडे मैच खेले हैं जिनमें से सात में उसे हार का सामना करना पड़ा और केवल चार मैचों में उसे जीत मिली। पाकिस्तान ने इस मैदान पर अपना आखिरी मैच 2004 में जीता था और इसके बाद उसने यहां लगातार तीन मैच गंवाये हैं। चैंपियन्स ट्राफी में सर्वाधिक मैच जीतने का रिकार्ड भी मौजूदा चैंपियन भारत के नाम पर ही है। भारतीय टीम ने इस टूर्नामेंट में अब तक 24 मैच खेले हैं जिनमें से उसने 15 में जीत दर्ज की है जबकि छह मैचों में उसे हार मिली। बाकी तीन मैच का परिणाम नहीं निकला। श्रीलंका और वेस्टइंडीज 13–13 मैच जीतकर दूसरे स्थान पर है जबकि आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने 12–12 मैच जीते हैं। पाकिस्तान ने चैंपियन्स ट्राफी में 18 मैच खेले हैं लेकिन इनमें से वह सात में ही जीत दर्ज कर पाया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़