IPL 2020: यूएई में रहेंगे नाडा के अधिकारी, बनाए जाएंगे 5 डोप कंट्रोल स्टेशन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 25, 2020   14:08
IPL 2020: यूएई में रहेंगे नाडा के अधिकारी, बनाए जाएंगे 5 डोप कंट्रोल स्टेशन

नाडा के सूत्रों के अनुसार एजेंसी दस नवंबर तक चलने वाले इस टी20 टूर्नामेंट में प्रतियोगिता के दौरान और प्रतियोगिता से इतर कम से कम 50 नमूने एकत्रित करने का लक्ष्य लेकर चल रही है। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘नाडा के नौ लोग यूएई में रहेंगे।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) के तीन अधिकारी और छह डोप नियंत्रण अधिकारी (डीसीओ) 19 सितंबर से शुरू हो रहे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खिलाड़ियों के नमूने लेने के लिये संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) जाएंगे। नाडा के सूत्रों के अनुसार एजेंसी दस नवंबर तक चलने वाले इस टी20 टूर्नामेंट में प्रतियोगिता के दौरान और प्रतियोगिता से इतर कम से कम 50 नमूने एकत्रित करने का लक्ष्य लेकर चल रही है। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘नाडा के नौ लोग यूएई में रहेंगे और अगर उन्हें जरूरत पड़ी तो वे यूएई के राष्ट्रीय डोपिंग रोधी संगठन की मदद भी लेंगे। ’’ नाडा की तीन स्थलों में से प्रत्येक स्थल पर तीन टीमें होंगी जिसमें एक अधिकारी और दो डीसीओ शामिल होंगे।

इसे भी पढ़ें: कोविड संक्रमण के बाद दिमित्रोव ने जीता पहला मैच, महिला वर्ग में शीर्ष वरीय बाहर

इसके अलावा स्थानीय डोपिंग रोधी संगठन के कर्मचारी भी प्रत्येक स्थल पर रहेंगे। उन्होंने हालांकि यह नहीं बताया कि इसका पूरा खर्चा नाडा वहन करेगा या बीसीसीआई इसमें योगदान देगा क्योंकि टूर्नामेंट भारत से बाहर आयोजित किया जा रहा है। भारत में नमूने एकत्र करने, परिवहन और परीक्षण का खर्चा नाडा वहन करता है। सूत्रों ने बताया, ‘‘नाडा के अधिकारियों को बीसीसीआई के जैव सुरक्षित वातावरण में ही रहने के लिये कहा जाएगा। ’’ नाडा ने बीसीसीआई से यूएई में पांच डोप नियंत्रण स्टेशन तैयार करने के लिये कहा है। इनमें से तीन अबुधाबी, शारजाह और दुबई के मैच स्थल पर जबकि दो दुबई और अबुधाबी में अभ्यास केंद्रों पर होंगे। नमूनों की संख्या भले ही सीमित हो सकती है लेकिन संभावना है कि बीसीसीआई कुछ रक्त नमूने भी एकत्रित कर सकता है क्योंकि दुबई से दोहा तक नमूनों को पहुंचाना आसान होगा। दोहा में वाडा से मान्यता प्राप्त प्रयोगशाला है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।