इंग्लैंड टीम के कप्तान मोर्गन को इस साल टी20 विश्व कप के आयोजन को लेकर संदेह

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 28, 2020   14:11
इंग्लैंड टीम के कप्तान मोर्गन को इस साल टी20 विश्व कप के आयोजन को लेकर संदेह

इंग्लैंड की सीमित ओवरों की टीम के कप्तान इयोन मोर्गन को इस साल टी20 विश्व कप के आयोजन को लेकर संदेह है।‘प्रेस एसोसिएशन’ के अनुसार मोर्गन ने कहा, ‘‘अगर यह पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होता है तो मुझे हैरानी होगी।

लंदन। इंग्लैंड की सीमित ओवरों की टीम के कप्तान इयोन मोर्गन को लगता है कि टी20 विश्व कप इस साल पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नहीं हो पाएगा क्योंकि मेजबान आस्ट्रेलिया अपने देश में कोरोना वायरस के दूसरी बार फैलने के जोखिम को लेकर चिंतित रहेगा। आस्ट्रेलिया में पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 18 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच टी20 विश्व कप का आयोजन होना है। यह देश यात्रा प्रतिबंधों और अपनी सीमाओं को सील करने के कारण इस वायरस को फैलने से रोकने में काफी हद तक सफल रहा है। ‘प्रेस एसोसिएशन’ के अनुसार मोर्गन ने कहा, ‘‘अगर यह पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होता है तो मुझे हैरानी होगी। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘आस्ट्रेलिया जिस तरह से महामारी से निबटा है उसे देखकर मैं यह सब कह रहा हूं। उन्होंने काफी पहले सीमाएं बंद कर दी थी।

इसे भी पढ़ें: अनिल कुंबले और वीवीएस लक्ष्मण ने इस साल IPL आयोजन की उम्मीद जताई

वहां दुनिया के बाकी देशों की तुलना में सीमित संख्या में मामले सामने आये और कम लोगों की मौत हुई।’’ आस्ट्रेलिया में लगभग 7100 मामले ही सामने आये हैं जिनमें से 6500 संक्रमण से उबर चुके हैं जबकि 103 की मौत हुई है। मोर्गन ने कहा, ‘‘उनकी सबसे बड़ी चिंता यह होगी कि एक छोटे से कदम से कई ‘पॉजीटिव’ मामले सामने आ सकते हैं। उनको यह पता नहीं होगा कि अगर वायरस का फिर से प्रकोप होता है तो प्रतिरोधक क्षमता कैसी होगी। ’’ मोर्गन ने कहा कि टीमें दुनिया भर के देशों से वहां खेलने के लिये पहुंचेंगी और ऐसे में दूसरी बार कोविड-19 के प्रकोप की संभावना बन रहेगी। उन्होंने कहा, ‘‘विभिन्न मैच स्थलों पर 16 टीमों से खतरे की संभावना बनी रहेगी। हो सकता है कि कुछ मामले ही आएं लेकिन जब आप इस पर गौर करते हो कि यह कितनी तेजी से फैलता है तो इससे विश्व कप खेलने की संभावना कम हो जाती है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।