विश्व कप जीतने के बावजूद इयोन मोर्गन है नाखुश, कही ये बात!

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 21 2019 3:25PM
विश्व कप जीतने के बावजूद इयोन मोर्गन है नाखुश, कही ये बात!
Image Source: Google

इंग्लैंड के पहले विश्व कप खिताब जीतने के एक हफ्ते बाद भी कप्तान इयोन मोर्गन इस जीत से जुड़े सवालों से जूझ रहे हैं और उनका मानना है कि इस तरह का नतीजा उचित नहीं था। मेजबान इंग्लैंड ने 50 ओवर का मैच और फिर सुपर ओवर भी टाई रहने के बाद लार्ड्स के मैदान पर अधिक बाउंड्री लगाने के कारण न्यूजीलैंड को पछाड़कर विश्व कप जीता। ‘द टाइम्स’ ने मोर्गन के हवाले से कहा कि मुझे नहीं लगता कि इसे जीतने से स्थिति आसान हुई है। जब दोनों टीमों के बीच बेहद कम अंतर था तब मुझे नहीं लगता कि इस तरह का नतीजा उचित है।

लंदन। इंग्लैंड के पहले विश्व कप खिताब जीतने के एक हफ्ते बाद भी कप्तान इयोन मोर्गन इस जीत से जुड़े सवालों से जूझ रहे हैं और उनका मानना है कि इस तरह का नतीजा उचित नहीं था। मेजबान इंग्लैंड ने 50 ओवर का मैच और फिर सुपर ओवर भी टाई रहने के बाद लार्ड्स के मैदान पर अधिक बाउंड्री लगाने के कारण न्यूजीलैंड को पछाड़कर विश्व कप जीता। ‘द टाइम्स’ ने मोर्गन के हवाले से कहा कि मुझे नहीं लगता कि इसे जीतने से स्थिति आसान हुई है। जब दोनों टीमों के बीच बेहद कम अंतर था तब मुझे नहीं लगता कि इस तरह का नतीजा उचित है। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि कोई एक लम्हा था जब आप कह सको कि इसके कारण असल में मैच गंवाया। यह काफी संतुलित था।

इसे भी पढ़ें: ऐश्वर्य का जूनियर थ्री पोजीशन में नया विश्व रिकार्ड, पदक तालिका में शीर्ष पर रहा भारत

माना जा रहा था कि विजेता टीम का हिस्सा होना पर्याप्त होगा लेकिन जीत के तरीके से मोर्गन परेशान महसूस कर रहे हैं लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि अगर वह हारने वाली टीम का हिस्सा होते तो स्थिति और बदतर होती। उन्होंने कहा कि थोड़ा-बहुत (परेशान हूं) क्योंकि ऐसा कोई निर्णायक लम्हा नहीं था कि हम कह सके कि हां, हम इसके हकदार थे। यह अजीब है। बेशक, हारने पर हालात और अधिक मुश्किल होते।

इसे भी पढ़ें: विश्व कप में विफलता के बाद निलंबित होंगे श्रीलंका के कोचिंग सदस्य



मैच में हालांकि एक टर्निंग प्वाइंट रहा जब इंग्लैंड की पारी के अंतिम ओवर में मार्टिन गुप्टिल की थ्रो बेन स्टोक्स के बल्ले से टकराकर सीमा रेखा को पार कर गई और मेजबान टीम को छह रन दिए गए। बाद में नियमों के विश्लेषण से सुझाव मिला कि इंग्लैंड को पांच रन दिए जाने चाहिए थे।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video