कोरोना महामारी के बीच इंग्लिश प्रीमियर लीग के सबसे लंबे सत्र का हुआ अंत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 27, 2020   16:00
कोरोना महामारी के बीच इंग्लिश प्रीमियर लीग के सबसे लंबे सत्र का हुआ अंत

इंग्लिश प्रीमियर लीग को कोरोना वायरस के कारण 100 दिन तक लीग को निलंबित रखना पड़ा और इस दौरान अनिश्चितता बनी रही कि लीग दोबारा शुरू हो भी पाएगी या नहीं।रक्षा प्राथमिकता थी लेकिन 380 मुकाबले पूरे नहीं होने की स्थित में होने वाले नुकसान की भरपाई कैसे होगी इसका भी डर था।

लंदन।  इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) का सबसे लंबा सत्र शुरुआत के 352 दिन बाद जब खत्म हुआ तो कई लोगों ने राहत की सांस ली जबकि डीन स्मिथ दुखी हैं कि इस दौरान उनके पिता का निधन हो गया। एस्टन विला की टीम महामारी से प्रभावित सत्र के अंतिम दिन रेलीगेशन से बचने में सफल रही लेकिन टीम के मैनेजर स्मिथ को दुख का सामना भी करना पड़ा क्योंकि इस उपलब्धि को साझा करने के लिए उनके पिता जीवित नहीं हैं। रोन स्मिथ ब्रिटेन में कोरोना वायरस से जान गंवाने वाले 45752 लोगों की सूची में शामिल हैं। लीग को जब इस महामारी के कारण निलंबित किया गया था तब 79 बरस की उम्र में उनका निधन हो गया। स्मिथ ने रविवार को वेस्ट हैम के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ खेलने के बाद कहा, ‘‘यह भावनात्मक है। मुझे यकीन है कि वे स्वर्ग से हमें देख रहे होंगे।’’

इसे भी पढ़ें: अश्विन के खिलाफ दोहरा शतक बनाने वाले सिबले की स्पिन खेलने की क्षमता पर सवाल करना गलत: गॉ

वेस्ट हैम के खिलाफ अंक जुटाकर विला की टीम एक अंक से रेलीगेशन से बचने में सफल रही। बोर्नेमाउथ, वैटफोर्ड और नोर्विच की टीम निचली लीग में खिसक गईं। आर्सेनल और चेल्सी में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आने के बाद मार्च के दूसरे हफ्ते में जब लीग को निलंबित किया गया तो विला की टीम रेलीगेशन से खतरे से दो अंक ऊपर थी और टीम ने ब्रेक का अच्छा इस्तेमाल करते हुए एक बार फिर शीर्ष लीग में खेलना सुनिश्चित किया। कोरोना वायरस के कारण 100 दिन तक लीग को निलंबित रखना पड़ा और इस दौरान अनिश्चितता बनी रही कि लीग दोबारा शुरू हो भी पाएगी या नहीं। सुरक्षा प्राथमिकता थी लेकिन 380 मुकाबले पूरे नहीं होने की स्थित में होने वाले नुकसान की भरपाई कैसे होगी इसका भी डर था। लीग दोबारा शुरू होने पर हालांकि सिर्फ 300 लोगों को स्टेडियम में प्रवेश की स्वीकृति थी और ऐसे में लीवरपूल ने 30 साल बाद इंग्लैंड का चैंपियन बनने का जश्न एनफील्ड के खाली स्टेडियम में मनाया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

खेल

झरोखे से...