सुनील छेत्री की अगुवाई वाली बेंगलुरु FC के खिलाफ FC गोवा ने शुरू किया अभियान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2020   16:36
  • Like
सुनील छेत्री की अगुवाई वाली बेंगलुरु FC के खिलाफ FC गोवा ने शुरू किया अभियान
Image Source: Google

एफसी गोवा सुनील छेत्री की अगुआई वाली बेंगलुरू के खिलाफ अभियान शुरू करेगी।बेंगलुरू टीम काफी बेहतरीन इकाई है और वह गोवा की टीम के लिये कड़ी प्रतिद्वंद्वी साबित होगी। छेत्री अकेले दम पर मैच का रूख बदल सकते हैं और मजबूत टीम के साथ बेंगलुरू एफसी को हराना किसी भी टीम के लिये टेढ़ी खीर होगी।

मडगांव। नये मुख्य कोच और नये विदेशी खिलाड़ियों की मौजूदगी से मजबूत हुई एफसी गोवा की टीम रविवार को यहां बेंगलुरू एफसी के खिलाफ अपना इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) अभियान शुरू करेगी। नये लुक वाली एफसी गोवा इस बार पिछले प्रदर्शन से बेहतर करना चाहेगी जिसने एक भी बार आईएसएल ट्राफी अपने नाम नहीं की है जबकि वह 2018 और 2015 में उप विजेता रही थी। लेकिन इस बार कोच जुआन फेरांडो की टीम के लिये चीजें आसान नहीं होंगी। फेरांडो चाहते हैं कि क्लब आक्रामक फुटबॉल खेलना जारी रखे जो वे अपने पूर्व कोच सर्गियो लोबेरा के मार्गदर्शन में खेलते थे। फेरांडो ने कहा, ‘‘हम आक्रामक फुटबॉल खेलना जारी रखेंगे। क्लब का यही दर्शन है और मेरे पद में यही चीज मुझे आकर्षित लगी क्योंकि मैं इसी तरह की फुटबॉल में भरोसा करता हूं। ’’

इसे भी पढ़ें: गार्डियोला ने मैनचेस्टर सिटी के साथ दो साल का अनुबंध बढ़ाया

वहीं दूसरी ओर बेंगलुरू की टीम एक बार आईएसएल का खिताब अपने नाम कर चुकी है और वह भी जीत के साथ शुरूआत करना चाहेंगी जिसमें उसके स्टार स्ट्राइकर सुनील छेत्री अहम भूमिका अदा करेंगे। बेंगलुरू टीम काफी बेहतरीन इकाई है और वह गोवा की टीम के लिये कड़ी प्रतिद्वंद्वी साबित होगी। छेत्री अकेले दम पर मैच का रूख बदल सकते हैं और मजबूत टीम के साथ बेंगलुरू एफसी को हराना किसी भी टीम के लिये टेढ़ी खीर होगी। टीम में अनुभवी गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू भी शामिल हैं जो छेत्री जितने ही महत्वपूर्ण है।







जाने माने लेग स्पिनर नेपाली क्रिकेटर संदीप लामिछाने कोरोना वायरस से हुए संक्रमित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2020   14:46
  • Like
जाने माने लेग स्पिनर नेपाली क्रिकेटर संदीप लामिछाने कोरोना वायरस से हुए संक्रमित
Image Source: Google

टी20 क्रिकेट के जाने माने लेग स्पिनर नेपाल के संदीप लामिछाने बिग बैश लीग की शुरूआत से दो सप्ताह पहले कोरोना वायरस जांच में पॉजिटिव पाये गए हैं। लामिछाने को बीबीएल में होबार्ट हरीकेंस के लिये खेलना है।

होबार्ट। टी20 क्रिकेट के जाने माने लेग स्पिनर नेपाल के संदीप लामिछाने बिग बैश लीग की शुरूआत से दो सप्ताह पहले कोरोना वायरस जांच में पॉजिटिव पाये गए हैं। लामिछाने को बीबीएल में होबार्ट हरीकेंस के लिये खेलना है। बीस वर्ष के लामिछाने इंडियन प्रीमियर लीग में दिल्ली कैपिटल्स टीम में थे। उन्होंने ट्वीट किया ,‘‘ यह मेरा फर्ज है कि आप सभी को बता दूं कि मैं कोरोना वायरस जांच में पॉजिटिव पाया गया हूं।

इसे भी पढ़ें: ओलंपिक के लिए अमेरिका में एक महीने कैंप में ट्रेनिंग करेंगे बजरंग पूनिया, प्रशासन से मिली मंजूरी

बुधवार से मेरे शरीर में दर्द था लेकिन अब बेहतर महसूस कर रहा हूं। सब कुछ ठीक रहा तो मैदान पर लौटूंगा। दुआओं में याद रखना।’’ लामिछाने ने मेलबर्न स्टार्स के लिये बीबीएल में शानदार प्रदर्शन किया है लेकिन आगामी सत्र के लिये उन्होंने हरीकेंस के साथ करार किया था।

इसे भी पढ़ें: तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ी अमित कुमार का टोक्यो ओलंपिक के सिलेक्शन ट्रायल में चयन

वह आईपीएल से जुड़ने वाले नेपाल के पहले क्रिकेटर है जिनके साथ 2018 में दिल्ली कैपिटल्स ने करार किया था। यूएई में इस महीने खत्म हुए आईपीएल के 13वें सत्र में हालांकि उन्होंने एक भी मैच नहीं खेला।







ओलंपिक के लिए अमेरिका में एक महीने कैंप में ट्रेनिंग करेंगे बजरंग पूनिया, प्रशासन से मिली मंजूरी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2020   14:38
  • Like
ओलंपिक के लिए अमेरिका में एक महीने कैंप में ट्रेनिंग करेंगे बजरंग पूनिया, प्रशासन से मिली मंजूरी
Image Source: Google

मिशन ओलंपिक प्रकोष्ठ ने तोक्यो ओलंपिक में भारत की पदक उम्मीद पहलवान बजरंग पूनिया को अमेरिका में एक महीने के अभ्यास शिविर में भाग लेने की अनुमति दे दी है। एक विज्ञप्ति के अनुसार गुरूवार को मिशन ओलंपिक प्रकोष्ठ की बैठक में यह फैसला लिया गया।

नयी दिल्ली। मिशन ओलंपिक प्रकोष्ठ ने तोक्यो ओलंपिक में भारत की पदक उम्मीद पहलवान बजरंग पूनिया को अमेरिका में एक महीने के अभ्यास शिविर में भाग लेने की अनुमति दे दी है। एक विज्ञप्ति के अनुसार गुरूवार को मिशन ओलंपिक प्रकोष्ठ की बैठक में यह फैसला लिया गया। यह भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा गठित ईकाई है जो टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना (टॉप्स) में जगह पाने योग्य खिलाड़ियों का चयन करती है।

इसे भी पढ़ें: तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ी अमित कुमार का टोक्यो ओलंपिक के सिलेक्शन ट्रायल में चयन

यह शिविर चार दिसंबर से तीन जनवरी तक मिशिगन में चलेगा और इस पर 14 लाख रूपये खर्च आयेगा। कोरोना महामारी के बीच अभ्यास बहाल होने के बाद से बजरंग सोनीपत के साइ सेंटर में अभ्यास कर रहे हैं। वह अपने कोच एमजारियोस बेंटिनिडिस और फिजियो धनंजय के साथ अमेरिका जायेंगे। उन्हें मुख्य कोच सर्जेइ बेलोग्लाजोव के मार्गदर्शन में शीर्ष पहलवानों के साथ अभ्यास का मौका मिलेगा। बजरंग तोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके हैं।







जॉनी बेयरस्टॉ ने पहले टी20 में इंग्लैंड को दिलाई जीत, दक्षिण अफ्रीका को हराया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2020   12:29
  • Like
जॉनी बेयरस्टॉ ने पहले टी20 में इंग्लैंड को दिलाई जीत, दक्षिण अफ्रीका को हराया
Image Source: Google

जॉनी बेयरस्टॉ ने 48 गेंद में नाबाद 86 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टी20 क्रिकेट मैच में इंग्लैंड को जीत दिलाई। दक्षिण अफ्रीका ने छह विकेट पर 179 रन बनाये जिसके जवाब में इंग्लैंड ने चार गेंद बाकी रहते पांच विकेट पर 183 रन बनाये।

केपटाउन। जॉनी बेयरस्टॉ ने 48 गेंद में नाबाद 86 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टी20 क्रिकेट मैच में इंग्लैंड को जीत दिलाई। दक्षिण अफ्रीका ने छह विकेट पर 179 रन बनाये जिसके जवाब में इंग्लैंड ने चार गेंद बाकी रहते पांच विकेट पर 183 रन बनाये। बेयरस्टॉ ने एक चौका और एक छक्का लगाकर टीम को जीत तक पहुंचाया। दक्षिण अफ्रीका ने मैच पर दबदबा बनाये रखा था लेकिन बूरान हेंडरिक्स के डाले 17वें ओवर में बेयरस्टॉ और कप्तान इयोन मोर्गन ने 28 रन बना डाले। इसी ओवर से मैच का नक्शा बदल गया।

इसे भी पढ़ें: तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ी अमित कुमार का टोक्यो ओलंपिक के सिलेक्शन ट्रायल में चयन

इंग्लैंड को इस ओवर से पहले 24 गेंद में 51 रन चाहिये थे लेकिन इसके बाद 18 गेंद में 23 रन की जरूरत थी। मोर्गन अगले ओवर में लुंगी एंगिडि की गेंद पर मिडविकेट में कैच दे बैठे। इसके बावजूद बेयरस्टॉ ने संयम बनाये रखकर फिनिशर की भूमिका निभाई। उन्होंने अपनी पारी में नौ चौके और चार छक्के जड़े। इससे पहले इंग्लैंड के लिये गेंदबाजी में सैम कुरेन ने 28 रन देकर तीन विकेट लिये। कोरोना वायरस महामारी के कारण ब्रेक के बाद दक्षिण अफ्रीका में यह पहला अंतरराष्ट्रीय मैच था।