खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने कहा, भारत में सितंबर-अक्टूबर से खेल प्रतिस्पर्धा शुरू होने की उम्मीद

kiren rijiju
खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने गुरूवार को राष्ट्रमंडल देशों के मंत्रिस्तर मंच को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘सरकार ने कुछ खेल गतिविधियों को कुछ पांबदियों के साथ अनुमति दे दी है जिसमें कड़ी मानक परिचालन प्रक्रिया का पालन हो रहा है और इन दिशानिर्देशों का हर खेल संगठन द्वारा पालन किया जाना चाहिए।

नयी दिल्ली। खेल मंत्री किरेन रीजीजू उम्मीद कर रहे हैं कि भारत सितंबर-अक्टूबर से चरणबद्ध तरीके से खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन कर पायेगा और उनका कहना है कि इससे कोविड-19 महामारी के बीच लोगों के आत्मविश्वास को बढ़ाने में मदद मिलेगी। खेल मंत्रालय ने मई के अंतिम हफ्ते में कुछ ओलंपिक स्पर्धाओं के ट्रेनिंग शिविर बहाल किये और रीजीजू ने कहा कि निकट भविष्य में धीरे धीरे टूर्नामेंट भी आयोजित होने शुरू हो जायेंगे। रीजीजू ने गुरूवार को राष्ट्रमंडल देशों के मंत्रिस्तर मंच को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘सरकार ने कुछ खेल गतिविधियों को कुछ पांबदियों के साथ अनुमति दे दी है जिसमें कड़ी मानक परिचालन प्रक्रिया का पालन हो रहा है और इन दिशानिर्देशों का हर खेल संगठन द्वारा पालन किया जाना चाहिए। ’’ रीजीजू ने कहा, ‘‘मुझे यह सूचित करते हुए खुशी हो रही है कि हाल में विशेष शिविरों में हमारे एलीट और ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके खिलाड़ियों की ट्रेनिंग शुरू हो चुकी है। ’’

इसे भी पढ़ें: लीजेंड्स ऑफ चेस टूर्नामेंट में विश्वनाथन आनंद की लगातार तीसरी हार

इस संबोधन में रीजीजू ने कोविड-19 प्रकोप के कम होने के बाद भारत की खेल गतिविधियों के बहाल होने का खाका भी साझा किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के खेल मंत्रियों और राष्ट्रीय खेल महासंघों से भी बात की है और उन्हें धीरे धीरे कुछ खेल प्रतियोगिताओं को शुरू करने को कहा है। ’’ रीजीजू ने कहा, ‘‘हमें लोगों का आत्मविश्वास बढ़ाने की जरूरत है। मुझे उम्मीद है कि भारत सितंबर या अक्टूबर से खेल टूर्नामेंट आयोजित कर पायेगा, यहां तक कि विभिन्न खेलों की बड़ी लीग भी बहाली पर विचार कर रही हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़