Prabhasakshi
सोमवार, अक्तूबर 22 2018 | समय 19:16 Hrs(IST)

खेल

विश्व चैंपियनशिप और एशियाई खेलों में सीमित जोखिम उठाने को तैयार हैं प्रणय

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 22 2018 4:11PM

विश्व चैंपियनशिप और एशियाई खेलों में सीमित जोखिम उठाने को तैयार हैं प्रणय
Image Source: Google

नयी दिल्ली। उतार चढ़ाव भरे पिछले सत्र के बाद एचएस प्रणय ने कहा है कि वह दिल तोड़ने वाली हार के बाद नकारात्मकता से दूर रहना चाहते हैं और आगामी विश्व चैंपियनशिप तथा एशियाई खेलों में अच्छे नतीजों के लिए उनकी नजरें सीमित जोखिम उठाने पर टिकी हैं। मौजूदा सत्र में इस 26 वर्षीय खिलाड़ी ने कुछ तीन गेम तक चले रोमांचक मुकाबले खेले हैं। गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में सेमीफाइनल और कांस्य पदक प्ले आफ दोनों ही मैचों में उन्हें तीन गेम तक जूझने के बाद हार का सामना करना पड़ा। 

 
प्रणय ने कहा, ‘‘मैंने इन अहम मुकाबलों में शिकस्त के बारे में सोचना बंद कर दिया है क्योंकि इससे काफी नकारात्मकता आती है। मेरा ध्यान संपूर्ण खेल पर है जहां मुझे अपने शाट खेलने होंगे, सीमित जोखिम उठाना होगा और पीछे नहीं हटना होगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जब आप हारते हो तो लोग ध्यान देते हैं, जब आप जोखिम लेकर जीत दर्ज करते हो वे इस पर ध्यान नहीं देते। एबीसी (एशियाई बैडमिंटन चैंपियनशिप) एक ऐसा टूर्नामेंट है जहां यह मेरे पक्ष में रहा और मैंने पदक जीता। लेकिन मुझे लगता है कि आपको प्रयास जारी रखना होता है।’’ 
 
एबीसी में कांस्य पदक जीतने के दौरान भी प्रणय ने कई तीन गेम के मैच खेले और इस दौरान प्री क्वार्टर फाइनल में चीनी ताइपे के वैंग जू वेई और क्वार्टर फाइनल में दुनिया के पूर्व दूसरे नंबर के खिलाड़ी कोरिया के सोन वान हो को क्वार्टर फाइनल में हराया। प्रणय ने कहा, ‘‘सबसे बड़ी चीज यह है कि उस समय कुछ अलग करने से नहीं डरो जब आप अच्छी स्थिति में हों। अहम मौकों पर आप अपने ऊपर संदेह करते हो , कभी कभी आप जोखिम उठाने की कोशिश करते हो और कभी नही।’’ 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: