विश्व कप अभ्यास मैच में दर्शकों की हूटिंग पर बोले स्मिथ, मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 26 2019 4:45PM
विश्व कप अभ्यास मैच में दर्शकों की हूटिंग पर बोले स्मिथ, मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता
Image Source: Google

स्मिथ ने गेंद से छेड़छाड़ के मामले में एक साल का प्रतिबंध लगने के बाद पहली बार इंग्लैंड की सरजमीं पर कोई मैच खेला जिसमें उन्होंने 116 रन बनाये। उनकी इस पारी से आस्ट्रेलिया ने विश्व कप मेजबान और खिताब के प्रबल दावेदार इंग्लैंड को हराया।

साउथम्पटन। स्टीव स्मिथ को ऑस्ट्रेलिया की इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप अभ्यास मैच में 12 रन से जीत के दौरान दर्शकों की हूटिंग का भी सामना करना पड़ा लेकिन इस पूर्व कप्तान ने कहा कि इससे उन पर कोई असर नहीं पड़ता। स्मिथ ने गेंद से छेड़छाड़ के मामले में एक साल का प्रतिबंध लगने के बाद पहली बार इंग्लैंड की सरजमीं पर कोई मैच खेला जिसमें उन्होंने 116 रन बनाये। उनकी इस पारी से आस्ट्रेलिया ने विश्व कप मेजबान और खिताब के प्रबल दावेदार इंग्लैंड को हराया। 

इसे भी पढ़ें: मोईन अली ने की दर्शकों से अपील- स्मिथ और वार्नर के साथ आए सम्मान से पेश

स्मिथ और उनकी तरह एक साल का प्रतिबंध झेलने वाले डेविड वार्नर जब बल्लेबाजी के लिये आये और जब आउट होकर वापस लौटे तो दर्शकों ने उनकी खूब हूटिंग की। स्मिथ जब अर्धशतक और शतक तक पहुंचे तब भी उन्हें दर्शकों की फब्तियां सहनी पड़ी। स्मिथ ने मैच के बाद संवाददाताओं से कहा कि हर कोई अपने विचार रखने और वे किसी व्यक्ति के साथ कैसा व्यवहार करना चाहते हैं, इसके लिये स्वतंत्र है। मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। मैं इससे परेशान नहीं हूं। मैं इस पर ध्यान नहीं देता। उन्होंने कहा कि जब मैं क्रीज पर था तब मैंने इस पर ध्यान नहीं दिया कि दर्शक क्या कह रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: जस्टिन लैंगर ने कहा, इंग्लैंड में डटकर सामना करने को तैयार हैं वॉर्नर और स्मिथ



स्मिथ ने कहा कि उनका और वार्नर का उनके साथियों ने वापसी पर तहेदिल से स्वागत किया। उन्होंने कहा कि यह ऐसा है जैसे हम टीम से बाहर ही नहीं हुए थे। मैं जानता हूं कि मुझे बालकनी से मेरे साथियों का समर्थन मिल रहा था और मेरे लिये यह सबसे अधिक महत्वपूर्ण है। स्मिथ ने कहा कि अगर मैं उन्हें और आस्ट्रेलियाई लोगों को गौरवान्वित कर सकता हूं तो यही मेरा काम है। अपनी फार्म के बारे में उन्होंने कहा कि मैं इसको बहुत अधिक तवज्जो नहीं देता। ये केवल अभ्यास मैच हैं। उम्मीद है कि असली मैचों में भी मेरी यही फार्म रहेगी। लेकिन मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं। जब भी आप आस्ट्रेलिया के लिये शतक बनाते हो तो यह वास्तविक सम्मान होता है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video