न्यूजीलैंड को क्रॉसओवर मैच में हराने पर क्वार्टर फाइनल में बेल्जियम से भिड़ेगा भारत

India will face Belgium
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
भारत पूल डी में इंग्लैंड से गोल अंतर में पिछड़ने के कारण दूसरे स्थान पर रहा जिसके कारण उसे क्रॉसओवर दौर से गुजरना पड़ेगा। भारत को सीधे क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के लिए अपने अंतिम लीग मैच में वेल्स पर आठ गोल से जीत की दरकार थी लेकिन वह 4-2 से ही जीत दर्ज कर पाया।

मेजबान भारत अगर रविवार को भुवनेश्वर में होने वाले क्रॉसओवर मैच में न्यूजीलैंड को हरा देता है तो फिर एफआईएच हॉकी विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में उसका सामना मौजूदा चैंपियन बेल्जियम से होगा। भारत पूल डी में इंग्लैंड से गोल अंतर में पिछड़ने के कारण दूसरे स्थान पर रहा जिसके कारण उसे क्रॉसओवर दौर से गुजरना पड़ेगा। भारत को सीधे क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के लिए अपने अंतिम लीग मैच में वेल्स पर आठ गोल से जीत की दरकार थी लेकिन वह 4-2 से ही जीत दर्ज कर पाया।

प्रत्येक पूल से चोटी पर रहने वाली चार टीमों ने सीधे क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई जबकि दूसरे और तीसरे स्थान पर रहने वाली टीमों को अंतिम आठ में पहुंचने के लिए क्रॉसओवर मैच खेलने होंगे। बिरसा मुंडा स्टेडियम में खेले गए पूल बी के पहले मैच में बेल्जियम ने जापान को 7-1 से करारी शिकस्त देकर अपने ग्रुप में शीर्ष पर रहते हुए क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। बेल्जियम की तरफ से टॉम बून ने पांच गोल दागे। उन्होंने 22वें, 27वें, 28वें और 51वें मिनट में मैदानी गोल करने के अलावा 56वें मिनट में पेनल्टी स्ट्रोक को गोल में बदला।

उनके अलावा बेल्जियम की तरफ से सेड्रिक चार्लीयर (18वें) और सेबेस्टियन डॉकियर (52वें) ने गोल किए। जापान की तरफ से एकमात्र गोल केंतारो फुकुदा ने 46वें मिनट में किया। जापान ने अपने तीनों मैच गंवाए और इस तरह से वह टूर्नामेंट से बाहर हो गया। एक अन्य मैच में जर्मनी ने दक्षिण कोरिया को 7-2 से हराकर पूल बी में दूसरा स्थान हासिल किया। जर्मनी अब 23 जनवरी को भुवनेश्वर में क्रॉसओवर मैच में फ्रांस का सामना करेगा। दक्षिण कोरिया तीन अंक लेकर पूल ने तीसरे स्थान पर रहा और वह 23 जनवरी को क्रॉस ओवर मैच में अर्जेंटीना से भिड़ेगा।

जर्मनी और बेल्जियम दोनों के समान सात अंक रहे। बेल्जियम ने हालांकि बेहतर गोल अंतर के कारण पूल में पहले स्थान पर रहकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। दक्षिण कोरिया के खिलाफ मैच में जर्मनी की तरफ से वेलेन निकलास वेलेन (दूसरे, 17वें और 41वें मिनट) ने हैट्रिक जमायी जबकि गोंजालो पिलाट (43वें), जस्टस वेइगैंड (51वें), मैट्स ग्रामबश (53वें) और मोरिट्ज़ लुडविग (53वें) ने एक एक गोल किया। दक्षिण कोरिया के लिए दोनों गोल जंग जोंघ्युन ने 15वें और 60वें मिनट में किए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़