चीन के खिलाफ बोलने पर अचानक गायब हो जाते है जाने-माने लोग, टेनिस खिलाड़ी पेंग का आया सामने यह वीडियो

चीन के खिलाफ बोलने पर अचानक गायब हो जाते है जाने-माने लोग, टेनिस खिलाड़ी पेंग का आया सामने यह वीडियो

चीन की टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई 35 साल की है और उन्होंने टेनिस के महिला डबल्स इवेंट में शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने दो ग्रैंड स्लैम जीता है। पेंग ने सबसे पहले साल 2013 में विंबलडन और फिर 2014 में फ्रेंच ओपन का खिताब अपने नाम किया है।

चीन की टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई ने एक बड़ा खुलासा किया है जिससे काफी बवाल खड़ा हो गया है। आपको बता दें कि, 2 नवंबर को चीनी खिलाड़ी पेंग ने अपने सोशल मीडिया वीबो पर एक पोस्ट जारी किया था जिसमें उन्होंने चीन के पूर्व उप-प्रधानमंत्री झांग गाओली पर यौन संबंध बनाने के लिए मजबूर करने के आरोप लगाए थे। पेंग के इस पोस्ट के बाद वह एक बार भी सार्वजनिक रूप से नजर नहीं आई और न ही उनकी कोई अपडेट मिली। लेकिन अब एक वीडियो पोस्ट जारी किया गया है जिसमें बताया जा रहा है कि,लापता टेनिस स्टार पेंग मैच देख रही हैं। इस बीच अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थॉमस बाच ने चीनी टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई के साथ 30 मिनट के लंबे वीडियो कॉल में बातचीत भी की है।

चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के अखबार 'ग्लोबल टाइम्स' के संपादक ने यह पोस्ट जारी किया है। इस वीडियो में पेंग पांच खिलाड़ियों के साथ नजर आ रही है। महिला टेनिस एसोसिएशन (WTA) ने भी चीन से टूर्नामेंट्स की मेजबानी छीनने की धमकी देते हुए साफ कहा है कि, अगर चीन पेंग के सुरक्षित होने का आश्वासन नहीं देता है तो उनसे टूर्नामेंट्स की मेजबानी छीन ली जाएगी। शुक्रवार को एक सरकारी प्रवक्ता ने अपने बयान में कहा था कि, पेंग के लापता होने की कोई खबर नहीं है। 

कौन है  चीन की टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई

चीन की टेनिस खिलाड़ी पेंग शुआई 35 साल की है और उन्होंने टेनिस के महिला डबल्स इवेंट में शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने दो ग्रैंड स्लैम जीता है। पेंग ने सबसे पहले साल 2013 में विंबलडन और फिर 2014 में फ्रेंच ओपन का खिताब अपने नाम किया है। फरवरी 2014 में पेंग ने महिला डबल्स में नंबर वन पॉजिशन की कामयाबी हासिल की थी। वह चीन की जानी-मानी टेनिस खिलाड़ी है।

पेंग ने अक्टूबर महीने की शुरुआत में सोशल मीडिया पर एक बहुत बड़ा पोस्ट जारी किया था जिसमें उन्होंने  पूर्व सरकारी अधिकारी के खिलाफ यौन शोषण के गंभीर आरोप लगाए थे। पोस्ट पर लिखा था कि, पूर्व उप प्रधानमंत्री ने लगातार यौन संबंध बनाने के लिए मजबूर किया था जिसे पेंग ने इनकरा कर दिया था उसेक बावजूद उन्हें यौन संबंध बनाने के लिए बाध्य किया गया। पेंग के इस पोस्ट के बाद काफी बवाल मच गया था। वीबो सोशल मीडिया से पोस्ट को हटाया गया और इस मुद्दे से संबधित सभी खबरें अचानक से आना बंद हो गई। हालांकि यह विवाद पूरी दुनिया में तब तक फैल  चुका था और इन खबरों में पेंग के गायब होने की खबरें भी सामने आई। पेंग के समर्थन में कई टोनिस खिलाड़ी आगे आए। वहीं महिला टेनिस संघ के अध्यक्ष और सीईओ स्टीव साइमन ने चीनी सरकार के खिलाफ कड़ा विरोध जताया था और कहा था कि, अगर इस मामले को लेकर कोई उचित जवाब नहीं मिलता है तो चीन भविष्य में टेनिस टूर्नामेंट्स की कोई भी मेजबानी नहीं कर पाएगा।