KXIP के मालिक बोले- अभी तारीख तय करना मुश्किल, विदेशी खिलाड़ियों के बिना नहीं हो सकता IPL

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   16:47
KXIP के मालिक बोले- अभी तारीख तय करना मुश्किल, विदेशी खिलाड़ियों के बिना नहीं हो सकता IPL

कोरोना वायरस महामारी के कारण यह टूर्नामेंट अनिश्चित काल के लिए स्थगित है और बीसीसीआई सितंबर-अक्टूबर में इसके आयोजन की योजना बना रहा है। ऑस्ट्रेलिया में इस साल अक्टूबर-नवंबर में प्रस्तावित टी20 विश्व कप का आयोजन अगर नहीं होता है तो लीग के आयोजन की संभावना काफी बढ़ जाएगी।

नयी दिल्ली।आईपीएल को वैश्विक अपील वाला टूर्नामेंट बताते हुए , किंग्स इलेवन पंजाब के सह-मालिक नेस वाडिया ने कहा कि विदेशी सितारों के बिना इसके आयोजन का कोई मतलब नहीं होगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर चकाचौंध से भरे इस टी20 लीग के भाग्य पर फैसला करने के लिए बीसीसीआई को और समय चाहिए होगा। कोरोना वायरस महामारी के कारण यह टूर्नामेंट अनिश्चित काल के लिए स्थगित है और बीसीसीआई सितंबर-अक्टूबर में इसके आयोजन की योजना बना रहा है। ऑस्ट्रेलिया में इस साल अक्टूबर-नवंबर में प्रस्तावित टी20 विश्व कप का आयोजन अगर नहीं होता है तो लीग के आयोजन की संभावना काफी बढ़ जाएगी। लीग से जुड़े फ्रेंचाइजियों ने टूर्नामेंट को लेकर मिश्रित राय व्यक्त की है।

इसे भी पढ़ें: फोर्ब्स ने जारी की 2020 के सबसे अमीर खिलाड़ियों की लिस्ट, जानिए किस नंबर पर हैं कोहली

राजस्थान रॉयल्स ने यात्रा प्रतिबंधों का हवाला देते हुए सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ इसे आयोजित करने का सुझाव दिया तो तीन बार के चैम्पियन चेन्नई सुपरकिंग्स ने इस प्रस्ताव को खारिज करते हुए कहा कि इससे टूर्नामेंट सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट की तरह हो जाएगा। किंग्स इलेवन पंजाब ने भी इस मामले में चेन्नई सुपरकिंग्स का साथ दिया। वाडिया ने कहा, ‘‘ आईपीएल भारतीयों द्वारा बनाया गया एक अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट है। यह दुनिया के प्रमुख क्रिकेट आयोजनों में से एक है। ऐसे में इसे अंतरराष्ट्रीय मंच और अंतरराष्ट्रीय सितारों की आवश्यकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ अभी यह देखा जाना बाकी है कि उस समय किन विदेशी खिलाड़ियों को यात्रा करने की अनुमति (प्रतिबंधों को देखते हुए) होगी। मुझे लगता है कि इस समय बीसीसीआई को बहुत सारी चीजों पर विचार करना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ अगर मामले बढ़ते रहे तो क्या होगा। अभी कोरोना वायरस के अलावा कुछ और सोचना नासमझी होगी।’’ कुछ विशेषज्ञों ने संकेत दिया कि जुलाई-अगस्त में भारत में यह महामारी अपने चरम पर होगी, ऐसे में वाडिया ने कहा कि फिलहाल आईपीएल के बारे में बात करना सही नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘फिलहाल हमारे लिए सबसे जरूरी इस वायरस से निपटना है। यह एक, दो या उससे अधिक महीने तक रह सकता है। एक बार जब वायरस कम हो जाए तब आईपीएल कब और कहां आयोजित किया जा सकता है, इस बारे में अधिक स्पष्टता हो सकती है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।