आस्ट्रेलियाई ओपन फाइनल में पहुंचे नडाल, रिकॉर्ड 21वें ग्रैंडस्लैम से एक जीत दूर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 28, 2022   13:53
आस्ट्रेलियाई ओपन फाइनल में पहुंचे नडाल, रिकॉर्ड 21वें ग्रैंडस्लैम से एक जीत दूर

रफेल नडाल अब रोजर फेडरर और नोवाक जोकोविच को पछाड़कर पुरूष टेनिस में रिकॉर्ड 21वें एकल ग्रैंडस्लैम खिताब से महज एक जीत दूर हैं। स्पेन के 35 वर्ष के इस धुरंधर ने इटली के मात्तेओ बेरेत्तिनी को 6 . 3, 6 . 2, 3 . 6, 6 . 3 से हराकर छठी बार आस्ट्रेलियाई ओपन फाइनल में प्रवेश कर लिया।

मेलबर्न। रफेल नडाल अब रोजर फेडरर और नोवाक जोकोविच को पछाड़कर पुरूष टेनिस में रिकॉर्ड 21वें एकल ग्रैंडस्लैम खिताब से महज एक जीत दूर हैं। स्पेन के 35 वर्ष के इस धुरंधर ने इटली के मात्तेओ बेरेत्तिनी को 6 . 3, 6 . 2, 3 . 6, 6 . 3 से हराकर छठी बार आस्ट्रेलियाई ओपन फाइनल में प्रवेश कर लिया। साल के इस पहले ग्रैंडस्लैम से पूर्व कोरोना संक्रमण और चोटों से जूझते आये नडाल को खुद पता नहीं था कि उनका सफर कितना लंबा होगा। उन्होंने तैयारी के लिये हुआ एक टूर्नामेंट जीता और यहां लगातार छह मैच जीत चुके हैं। एक और मैच जीतकर वह फेडरर और जोकोविच को पीछे छोड़ देंगे। इसके साथ ही सभी चार ग्रैंडस्लैम कम से कम दो बार जीतने वाले दूसरे पुरूष खिलाड़ी बन जायेंगे।

इसे भी पढ़ें: लांबी सीट से छठी बार चुनाव लड़ेंगे 94 साल के प्रकाश सिंह बादल, सबसे कम उम्र और सबसे उम्रदराज मुख्यमंत्री रह चुके हैं

अब उनका सामना अमेरिकी ओपन चैम्पियन दानिल मेदवेदेव और स्टेफानोस सिटसिपास के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा। नडाल ने कहा ,‘‘ मेरा फोकस सिर्फ आस्ट्रेलियाई ओपन खिताब पर है। मैं यहां थोड़ा बदकिस्मत रहा और चोटों के कारण कई बार नहीं जीत सका। एक बार यहां जीता है और कभी सोचा नहीं था कि 2022 में फिर जीत के करीब पहुंच सकूंगा।’’ अब तक सिर्फ एक बार 2009 में आस्ट्रेलियाई ओपन जीत सके नडाल ने पहले दोनों सेटों में दबदबा बनाये रखा और इतालवी प्रतिद्वंद्वी को कोर्ट के चारों ओर घुमाया।

इसे भी पढ़ें: इमरती देवी को अपने राजनैतिक गुरु से मिली फटकार, सबके सामने मांगी नेत्री ने माफी

दूसरे सेट में उन्होंने 4 . 0 की बढत बना ली और सातवीं वरीयता प्राप्त बेरेत्तिनी 11 प्रयासों में सिर्फ एक बार अपनी दूसरी सर्विस पर अंक बना सके। भारी बारिश के कारण रॉड लावेर एरेना की छत बंद कर दी गई जिससे भीतर काफी उमस हो गई थी। ऐसे में गेंद भारी और सपाट हो गई थी। पहले दो सेट में सभी लंबी रेलियां छठी वरीयता प्राप्त स्पेनिश धुरंधर नडाल के पक्ष में गई। तीसरे सेट में बेरेत्तिनी ने वापसी की और आठवें गेम में तीन ब्रेक प्वाइंट बनाकर दूसरे को भुनाया और 5 . 3 की बढत बना ली। उन्होंने अगले गेम में सर्विस बरकरार रखते हुए लगातार चार अंकों के साथ मैच को चौथे सेट में खिंचा। चौथे सेट के आठवें गेम में नडाल ने उनकी सर्विस फिर तोड़ी और मैच अपने नाम कर लिया। फेडरर चोट के कारण नहीं खेल रहे हैं जबकि नौ बार के चैम्पियन जोकोविच को आस्ट्रेलिया के कड़े कोरोना टीकाकरण नियमों का पालन नहीं करने के कारण टूर्नामेंट से एक दिन पहले निर्वासित कर दिया गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।