अश्वेतों पर पुलिस अत्याचार के विरोध में हटी नाओमी ओसाका, टूर्नामेंट रोका गया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 27, 2020   10:33
अश्वेतों पर पुलिस अत्याचार के विरोध में हटी नाओमी ओसाका, टूर्नामेंट रोका गया

अश्वेतों पर पुलिस अत्याचार के विरोध में जापान की चौथी वरीयता प्राप्त नाओमी ओसाका टूर्नामेंट से हट गयी है।अमेरिकी टेनिस संघ (यूएसटीए), एटीपी टूर और डब्ल्यूटीए ने इसके बाद बयान जारी करके कहा, ‘‘एक खेल के रूप में टेनिस अमेरिका में नस्लीय असमानता और सामाजिक अन्याय के खिलाफ सामूहिक कदम उठा रहा है।

न्यूयार्क। जापान की चौथी वरीयता प्राप्त नाओमी ओसाका ने बुधवार को वेस्टर्न एंड सदर्न टेनिस टूर्नामेंट के महिला वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बनायी लेकिन इसके कुछ घंटों बाद ही वह नस्लीय न्याय की अपील करते हुए टूर्नामेंट से हट गयी और उन्हें तुरंत ही साथी खिलाड़ियों का समर्थन भी मिला। इसके बाद टूर्नामेंट एक दिन के लिये टाल दिया गया। अमेरिकी टेनिस संघ (यूएसटीए), एटीपी टूर और डब्ल्यूटीए ने इसके बाद बयान जारी करके कहा, ‘‘एक खेल के रूप में टेनिस अमेरिका में नस्लीय असमानता और सामाजिक अन्याय के खिलाफ सामूहिक कदम उठा रहा है। यूएसटीए, एटीपी और डब्ल्यूटीए ने समय की नजाकत को समझते हुए वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन टूर्नामेंट में 27 अगस्त, गुरुवार तक खेल बंद रखने का फैसला किया है।’’ महिला वर्ग में शीर्ष दस में शामिल ओसाका ने यह कदम एक अश्वेत नागरिक जैकब ब्लैक की पुलिसकर्मी द्वारा हत्या के बाद उठाया है।

इसे भी पढ़ें: राजस्थान रॉयल्स ने वर्चुअल कोचिंग शुरू की, डिजिटल क्रिकेट अकादमी एप बनाया

बास्केटबॉल, बेसबॉल और फुटबॉल में भी खिलाड़ी बदलाव की मांग कर रहे हैं। ओसाका ने ट्वीट किया कि अश्वेत महिला होने के कारण उन्हें लगता है कि अश्वेत लोगों पर पुलिस अत्याचार की तरफ ध्यान खींचने के लिये उन्हें टूर्नामेंट से हट जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि मेरे टूर्नामेंट से हटने से मुझ पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ेगा लेकिन अगर मैं श्वेत प्रभाव वाले खेल में चर्चा शुरू कर सकती हूं तो यह सही दिशा में उठाया गया कदम होगा। पुलिस के अश्वेत लोगों पर लगातार अत्याचार से मैं वास्तव में बहुत आहत हूं। ’’ अमेरिका की अश्वेत खिलाड़ी सलोनी स्टीफन्स ने ओसाका के ट्वीट के रिट्वीट करके कहा, ‘‘मुझे तुम पर गर्व है।’’ मिलोस राओनिच ने भी बुधवार को सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद कहा कि एटीपी और डब्ल्यूटीए को इस पर संयुक्त कार्रवाई के बारे में सोचना चाहिए। नेशलब बॉस्केटबॉल एसोसिएशन (एनबीए), महिला एनबीए, मेजर लीग बेसबॉल और मेजर लीग सॉकर (फुटबॉल) के मैच भी खिलाड़ियों द्वारा सामाजिक न्याय की मांग करने के कारण स्थगित कर दिये गये।

इसे भी पढ़ें: पहली ऑनलाइन राष्ट्रीय ताइक्वांडो पूमसे चैम्पियनशिप की मेजबानी करेगा ‘इंडिया ताइक्वांडो’

ओसाका ने इससे पहले 12वें नंबर की एनेट कोंटावीट को 4-6, 6-2, 7-5 से हराया था। उन्हें सेमीफाइनल में एलिस मर्टन्स से भिड़ना था। महिला वर्ग में दूसरा सेमीफाइनल विक्टोरिया अजारेंका और आठवीं वरीयता प्राप्त योहाना कोंटा के बीच खेला जाना है। कोंटा ने मारिया सकारी को जबकि अजारेंका ने ओंस जाबेर को हराया। पुरुष वर्ग में नोवाक जोकोविच को यान लेनार्ड स्ट्रफपर 6-3, 6-1 से जीत दर्ज करने में कोई परेशानी नहीं हुई। सेमीफाइनल में उनका सामना राबर्टो बातिस्ता आगुट से होगा जिन्होंने मौजूदा चैंपियन डेनिल मेदवेदेव को 1-6, 6-4, 6-3 से हराया। दूसरा सेमीफाइनल स्टेफेनोस सिटसिपास और राओनिच के बीच होगा। सिटिसिपास ने रीली ओपलेका के घुटने में चोट के कारण हटने से अंतिम चार में जगह बनायी जबकि राओनिच ने फिलिप क्रैजिनोविच को 4-6, 7-6 (2), 7-5 से हराया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।