बांग्लादेश के खिलाफ ‘असंभव को संभव’ करने के इरादे से उतरेगी पाकिस्तानी टीम

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 4 2019 1:55PM
बांग्लादेश के खिलाफ ‘असंभव को संभव’ करने के इरादे से उतरेगी पाकिस्तानी टीम
Image Source: Google

चिर प्रतिद्वंद्वी भारत से हारने के बाद पाकिस्तान ने वापसी करते हुए बाबर आजम और हैरिस सोहेल के शानदार बल्लेबाजी प्रदर्शन से दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान को शिकस्त दी।

लंदन। पूर्व चैम्पियन पाकिस्तान के लिये सेमीफाइनल में जगह बनाना अब महज गणितीय संभावना है क्योंकि इसके हिसाब से विश्व कप के अंतिम में प्रवेश करने के लिये उसे शुक्रवार को यहां होने वाले मैच में बांग्लादेश पर असंभव जीत हासिल करनी होगी। पाकिस्तान का विश्व कप में अभियान 1992 विश्व कप चरण में टीम के प्रदर्शन के समान दिख रहा था लेकिन भारत के इंग्लैंड से हारने से उसकी सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीद को करारा झटका लगा और जब बीती रात न्यूजीलैंड की टीम मेजबानों से हार गयी तो उसके लिये यह उम्मीद बिलकुल क्षीण हो गयी। अब यह मामला जोड़-घटाव मात्र रह गया है और ऐसा तभी हो सकता है जब पाकिस्तान टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करे। क्योंकि अगर पाकिस्तान टास हार गया और उसे क्षेत्ररक्षण के लिये कहा जाता है तो पहली गेंद खेलने से पहले ही यह खत्म हो जायेगा। न्यूजीलैंड के इंग्लैंड से 119 रन से हारने के बाद उसके नौ मैचों में 11 अंक हैं लेकिन इस करारी हार के बावजूद उसका नेट रन रेट पाकिस्तान की तुलना में काफी अधिक है जो प्लस 0.175 है जबकि पाकिस्तान का नेट रन रेट माइनस 0.792 है। 



 
आठ मैचों में नौ अंक से पांचवें स्थान पर बैठी पाकिस्तानी टीम को अगर न्यूजीलैंड को पछाड़ना है तो उसे टास जीतकर बल्लेबाजी करते हुए 350 रन बनाकर बांग्लादेश को 311 रन से हराना होगा या फिर 400 रन का स्कोर खड़ाकर 316 रन से शिकस्त देनी होगी जो सामान्य हालात में असंभव है। चिर प्रतिद्वंद्वी भारत से हारने के बाद पाकिस्तान ने वापसी करते हुए बाबर आजम और हैरिस सोहेल के शानदार बल्लेबाजी प्रदर्शन से दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान को शिकस्त दी। बायें हाथ के तेज गेंदबाज शाहीन अफरीदी का न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच विकेट झटकने वाला प्रदर्शन भी काफी सकारात्मक रहा जिससे मोहम्मद आमिर की अगुवाई वाले गेंदबाजी आक्रमण को पैनापन मिला। वहीं मौके चूकने वाली बांग्लादेश की टीम पाकिस्तान के खिलाफ मजबूत प्रदर्शन से घरेलू प्रशंसकों को खुशी का मौका देना चाहेगी जैसा उन्होंने 1999 चरण में किया था। 


दक्षिण अफ्रीका, अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के खिलाफ शानदार जीत से बांग्लादेश की टीम सातवें स्थान पर है। टीम ने उन मैचों में अच्छा जज्बा दिखाया है जिसमें उसे हार मिली है और मशरफी मुर्तजा की टीम शुक्रवार को पाकिस्तान के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करना चाहेगी। टीम अपने स्टार आल राउंडर शाकिबुल हसन पर काफी निर्भर है जो विश्व कप इतिहास में 10 विकेट झटकने के अलावा 500 रन बनाने वाले एकमात्र क्रिकेटर बन गये हैं। बांग्लादेश ने उनके प्रदर्शन से इस विश्व कप में लगातार 300 रन का आंकड़ा पार किया है लेकिन उनकी गेंदबाजी ने उन्हें निराश किया है, विशेषकर कप्तान मुर्तजा की निराशाजनक फार्म ने। मुस्तफिजुर रहमान ने अपनी वैरिएशन के बूते पर पांच विकेट चटकाये और मोहम्मद सैफुद्दीन के अर्धशतक से उन्होंने पिछले मैच में भारत को भी परेशान किया। 


टीमें इस प्रकार हैं। 
पाकिस्तान: 
सरफराज अहमद (कप्तान), फखर जमां, इमाम उल हक, बाबर आजम, हैरिस सोहेल, हसन अली, शाहदाब खान, मोहम्मद हफीज, मोहम्मद हसनैन, शाहीन शाह अफरीदी, वहाब रियाज, मोहम्मद आमिर, शोएब मलिक, इमरान अली।
बांग्लादेश: 
मशरफी मुर्तजा (कप्तान), तमीम इकबाल, सौम्य सरकार, शाकिब अल हसन, मुश्फिकुर रहीम (विकेटकीपर), महमूदुल्लाह रियाद, सब्बीर रहमान, मेहदी हसन मिराज, मोसादेक हुसैन, मोहम्मद सैफुद्दीन, मुस्तफिजुर रहमान, रूबेल हुसैन, लिटन दास, अबू जायद और मोहम्मद मिथुन। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video