नडाल ने 12वें फ्रेंच ओपन खिताब पर कब्जा कर 18वीं ग्रैंडस्लैम ट्रॉफी अपने नाम की

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 10 2019 11:55AM
नडाल ने 12वें फ्रेंच ओपन खिताब पर कब्जा कर 18वीं ग्रैंडस्लैम ट्रॉफी अपने नाम की
Image Source: Google

नडाल इस तरह रोजर फेडरर के सर्वकालिक 20 मेजर खिताब के रिकार्ड से महज दो ट्राफी पीछे हैं और नोवाक जोकोविच से तीन खिताब आगे हैं जिनकी चुनौती सेमीफाइनल में थिएम ने ही समाप्त की थी।

पेरिस। स्पेन के स्टार राफेल नडाल ने रविवार को यहां पुरूष फाइनल में आस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम पर 6-3, 5-7, 6-1, 6-1 की जीत से ऐतिहासिक 12वां रोलां गैरां खिताब और 18वीं ग्रैंडस्लैम ट्राफी अपने नाम की। तैंतीस साल का यह खिलाड़ी इस तरह एक ही ग्रैंडस्लैम 12 बार जीतने वाला पहला खिलाड़ी - पुरूष या महिला वर्ग - बन गया है। उन्होंने 2018 फाइनल के दोहराव वाले मुकाबले में थिएम को पराजित किया। नडाल इस तरह रोजर फेडरर के सर्वकालिक 20 मेजर खिताब के रिकार्ड से महज दो ट्राफी पीछे हैं और नोवाक जोकोविच से तीन खिताब आगे हैं जिनकी चुनौती सेमीफाइनल में थिएम ने ही समाप्त की थी। 

दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी नडाल ने पेरिस में अपना रिकार्ड 93 जीत का कर लिया है और उन्हें महज दो मैच में हार मिली है। वह इससे पहले 2005, 2008, 2010 से लेकर 2014, 2017 और 2018 में चैम्पियन बने थे। रविवार को मिली इस जीत से ‘बिग थ्री’ के ग्रैंडस्लैम में दबदबे की भी पुष्टि हो गयी जिन्होंने पिछले 10 खिताब आपस में जीते हैं। यह नडाल का 82वां कैरियर खिताब भी है और यह उनकी 950वें मैच में जीत भी है। पहला सेट 53 मिनट तक चला जिसमें काफी तेज तरार्र शाट शामिल थे और थिएम ने पहले सर्विस तोड़कर 3-2 की बढ़त हासिल की। लेकिन 25 साल के इस खिलाड़ी की खुशी थोड़ी देर तक ही टिक सकी क्योंकि नडाल ने छठे गेम में सर्विस ब्रेक की और अगले तीन गेम हासिल कर इसे जीत लिया। 





क्ले कोर्ट पर नडाल को चार बार हराने वाले थिएम ने दूसरे सेट में लंबी रैली में शानदार बैकहैंड से 5-4 की बढ़त बनायी हुई थी जिसमें दोनों खिलाड़ियों ने अपनी सर्विस गेम पर पकड़ बनाये रखी थी। लेकिन नडाल की जरा सी गलती थिएम के लिये फायदेमंद रही। नडाल का फोरहैंड शाट वाइड रह गया जिससे थिएम को 12वें गेम में दो सेट प्वाइंट मिले और इस चौथे वरीय खिलाड़ी ने इस तरह 1-1 की बराबरी हासिल कर ली। थिएम 1995 में पेरिस में खिताब जीतने वाले थामस मस्टर के बाद आस्ट्रिया का दूसरा ग्रैंडस्लैम चैम्पियन बनने की कोशिश में जुटे थे। लेकिन इसके बाद उनकी उम्मीदों को नडाल ने करारा झटका दिया। 

इसे भी पढ़ें: टेनिस में मेरा सफर शानदार रहा है, इतना लंबा करियर होना सौभाग्य की बात: लिएंडर पेस

दूसरे सेट को गंवाने से नडाल काफी आक्रामक हो गये। उन्होंने तीसरे सेट में पहले 10 प्वाइंट बनाकर 3-0 की बढ़त बनायी और फिर तीन ब्रेक प्वाइंट हासिल कर इसे 6-1 से अपने नाम कर लिया। थिएम लगातार चार दिन तक खेलकर रविवार के इस फाइनल तक पहुंचे थे और इस थकान का असर धीरे धीरे दिख भी रहा था क्योंकि उन्होंने चौथे सेट के पहले और तीसरे गेम में ब्रेक प्वाइंट का मौका बर्बाद कर दिया जिन्हें हासिल कर नडाल 3-0 से आगे हो लिये। इसके बाद जल्द ही नडाल ने इसे 5-1 कर लिया और दबदबा कायम रखते हुए दूसरे मैच प्वाइंट पर खिताब हासिल किया। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story