सुनील गावस्कर ने रवि शास्त्री की जमकर तारीफ की, जानें क्या कुछ कहा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 24, 2021   18:43
सुनील गावस्कर ने रवि शास्त्री की जमकर तारीफ की, जानें क्या कुछ कहा

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने राष्ट्रीय क्रिकेट कोच रवि शास्त्री की जमकर तारीफ की और कहा कि,रवि की युवाओं में आत्मविश्वास भरने की योग्यता अविश्वसनीय है।राष्ट्रीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने भी गावस्कर का समर्थन किया।

नयी दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने राष्ट्रीय क्रिकेट कोच रवि शास्त्री की जमकर प्रशंसा करते हुए शनिवार को उन्हें बेजोड़ ‘मेंटोर’ करार दिया जिनके पास युवाओं को उनके बुरे दौर में भी प्रेरित करने की अविश्सनीय क्षमता है। राष्ट्रीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने भी गावस्कर का समर्थन किया। गावस्कर ने यहां एक वेबीनार के दौरान कहा, ‘‘रवि के साथ अभ्यास सत्र के बाद 10 से 15 मिनट बिताने के बाद आप समझ जाते हो कि उनके पास युवाओं में आत्मविश्वास भरने की अद्भुत क्षमता है। यह अविश्वसनीय है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यदि वह (शास्त्री) उनकी क्षमता और कौशल पर विश्वास करते हैं तो फिर युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिये रवि शास्त्री से बेहतर व्यक्ति कोई दूसरा नहीं हो सकता है। वह आपको डांटेगा लेकिन साथ ही बताएगा कि बेहतर बनने के लिये आप क्या कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: कप्तान मिताली राज ने संन्यास को लेकर दिया बड़ा बयान!

असल में वह आपको ऐसा करके दिखाएगा।’’ गावस्कर ने भरत अरुण की भी प्रशंसा की जिन्होंने तेज गेंदबाजों की विश्वस्तरीय फौज तैयार की। उन्होंने कहा, ‘‘इसके अलावा आपके पास भरत हैं। यदि आप आस्ट्रेलिया दौरे के दूसरे चरण में अच्छा प्रदर्शन करने वाले किसी तेज गेंदबाज से बात करते हो तो वह भरत की जमकर प्रशंसा करता है कि किस तरह से उन्होंने उनका मार्गदर्शन किया। युवाओं को यही सब चाहिए। ’’ इस कार्यक्रम के दौरान अरुण ने तेज गेंदबाजों के कार्यभार प्रबंधन और तेज गेंदबाज टी नटराजन की चोट बढ़ने को लेकर बात की।

अरुण ने कहा, ‘‘शारीरिक फिटनेस और कौशल एक दूसरे के पूरक हैं। यह बराबरी में होना चाहिए। यदि आप कौशल पर अधिक ध्यान देते हैं तो चोटिल हो सकते हैं और यदि आप फिटनेस पर अधिक ध्यान देते हैं तो तब भी आप गलत कर रहे हैं। हमें यह भी समझना होता है कि प्रत्येक गेंदबाज की जरूरतें भिन्न होती हैं। ’’ पिछले लगभग 40 वर्षों से शास्त्री के मित्र अरुण ने मुख्य कोच के बारे में कहा, ‘‘रवि को यदि लगता है कि कोई खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर सकता है तो वह उसमें बहुत अधिक आत्मविश्वास भरता है। वह उसे अहसास दिलाता है कि वह सर्वश्रेष्ठ है जो कि महत्वपूर्ण है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।