Reid ने कहा कि वेल्स के खिलाफ बड़े अंतर से जीत के साथ शुरुआत नहीं करूंगा

Reid
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
मुख्य कोच ग्राहम रीड ने बुधवार को कहा कि भारत को एफआईएच पुरूष हॉकी विश्व कप के क्वार्टरफाइनल में सीधे क्वालीफाई करने के लिये वेल्स को बड़े अंतर से हराने की जरूरत होगी लेकिन मेजबान टीम दिमाग में यही सोचकर मुकाबले की शुरूआत नहीं करेगी बल्कि नैसर्गिक खेल खेलेगी।

मुख्य कोच ग्राहम रीड ने बुधवार को कहा कि भारत को एफआईएच पुरूष हॉकी विश्व कप के क्वार्टरफाइनल में सीधे क्वालीफाई करने के लिये वेल्स को बड़े अंतर से हराने की जरूरत होगी लेकिन मेजबान टीम दिमाग में यही सोचकर मुकाबले की शुरूआत नहीं करेगी बल्कि नैसर्गिक खेल खेलेगी। भारत पूल डी में दो मैचों में चार अंक लेकर दूसरे स्थान पर काबिज है और टीम गुरूवार को यहां अंतिम लीग मैच में वेल्स के सामने होगी।

इंग्लैंड की टीम बेहतर गोल अंतर की बदौलत पूल में शीर्ष पर है। भारत और इंग्लैंड के दो दो मैचों के बाद चार चार अंक हैं। इंग्लैंड की टीम गोल अंतर के हिसाब से भारत से आगे है। उसका गोल अंतर प्लस पांच है जबकि घरेलू टीम के प्लस तीन अंक हैं। भारत को हालांकि यह फायदा है कि उसे पता है कि अपने पूल डी के अंतिम मैच में क्या करना होगा क्योंकि इससे पहले स्पेन और इंग्लैंड का मुकाबला होगा। रीड ने मैच पूर्व संध्या पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘यह (मैच से पहले क्या करना है) जानना ही काफी अच्छा है लेकिन हम शुरू से ही इसके बारे में सोचते हुए नहीं उतरेंगे। ऐसा करना खतरनाक होगा। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम अपना नैसर्गिक खेल खेलेंगे, हम इसे सरल रखेंगे और संयमित बने रहेंगे। हम इसके बाद से तेजी बरत सकते हैं। ’’ भारत ने दो मैचों में केवल दो गोल किये हैं, गोल की कमी के बारे में पूछने पर रीड ने कहा, ‘‘इसके पीछे कोई विशेष कारण नहीं है। मैं तब चिंतित होता जब हम मौके नहीं बना रहे होते। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन हम मौके बना रहे हैं। बस ‘फिनिशिंग’ की कमी है। हम उम्मीद कर रहे हैं कि ऐसा भी होगा। ’’

इस आस्ट्रेलियाई ने हालांकि मिडफील्डर हार्दिक सिंह की चोट पर एमआरआई रिपोर्ट के बारे में जानकारी साझा करने से इनकार कर दिया जो इंग्लैंड के खिलाफ रविवार को गोलरहित ड्रा के दौरान चोटिल हो गये थे जिससे उनका वेल्स के खिलाफ खेलना संदिग्ध है। रीड ने कहा, ‘‘उसकी एमआरआई रिपोर्ट हमने जो सोचा था, उससे कहीं बेहतर थी। हम उम्मीद कर रहे हैं कि वह टूर्नामेंट में खेलेगा। ’’ यह पूछने पर कि क्या वह टीम में 18 के बजाय केवल 17 खिलाड़ियों का ही चयन करेंगे तो उन्होंने कहा, ‘‘हम कल फैसला करेंगे। ’’

कप्तान हरमनप्रीत सिंह से जब पेनल्टी कॉर्नर हिट नियम में बदलाव करने पर विचार के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह अच्छा होगा, अगर पेनल्टी कॉर्नर डिफेंडरों के पास ज्यादा समय होगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘इससे पेनल्टी कॉर्नर करने की दर ज्यादा प्रभावित नहीं होगी क्योंकि यह ड्रैग फ्लिकर की टाइमिंग पर निर्भर करता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़