सचिन ने फुट ओवरब्रिज की मरम्मत के लिए सांसद निधि से दिए दो करोड़

SACHIN TENDULKAR SANCTIONS RS 2 CRORE FROM MP FUND FOR MUMBAI FOB WORK
एलफिंस्टन रोड स्टेशन फुट ओवरब्रिज पर मची भगदड़ की दर्दनाक घटना के बाद क्रिकेटर और राज्यसभा सांसद सचिन तेंदुलकर ने अपने सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना (एमपीएलएडीएस) से दो करोड़ रुपये मुंबई में फुट ओवरब्रिजों की मरम्मत के लिए दिए है।

मुंबई। एलफिंस्टन रोड स्टेशन फुट ओवरब्रिज पर मची भगदड़ की दर्दनाक घटना के बाद क्रिकेटर और राज्यसभा सांसद सचिन तेंदुलकर ने अपने सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना (एमपीएलएडीएस) से दो करोड़ रुपये मुंबई में फुट ओवरब्रिजों की मरम्मत के लिए दिए है। 29 सितंबर को भारी बारिश के दौरान एलफिंस्टन रोड और परेल उपनगरीय स्टेशनों को जोड़ने वाले एक संकीर्ण फुट ओवरब्रिज पर मची भगदड़ में 23 लोगों की मौत हो गई थी।

तेंदुलकर ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को एक खत में कहा है कि वह मुंबई उपनगरीय जिला कलेक्टर से निर्माण के लिए दो करोड़ रू की राशि रखने के लिए कहा है। उन्होंने खत में लिखा है कि पश्चिमी रेलवे और मध्य रेलवे को एक-एक करोड़ रू की राशि उनकी एमपीएलएडीएस निधि से रेलवे फुट ओवर ब्रिज के तत्काल मरम्मत के लिए आवंटित की जाएगी। तेंदुलकर ने लिखा है, ' हाल ही में पश्चिमी रेलवे के एलफिंस्टन रोड स्टेशन पर हुई भगदड़ की घटना में निर्दोष लोगों की मौत हुई जो कि काफी दिल दुखाने वाला था और मैं मुंबई के लोगों के लिए इस सेवा में सुधार के लिए तत्काल मदद देता हूं।' 16 तारीख को लिखे गए खत में क्रिकेटर ने कहा, 'लाखों प्रभावित लोगों के लिए यह दिवाली खुशियों वाली नहीं थी।

भारत के किसी क्षेत्र में ऐसा न हो इसे सुनिश्चित करने के लिए भारत के जिम्मेदार नागरिक के तौर पर हम वह सभी कुछ करेंगे जो कर सकते हैं।' यह खत मुंबई उपनगरीय जिला कलेक्टर को भी भेजा गया है। खिलाड़ी ने कहा है कि उन्होंने रेल मंत्री, रेल बोर्ड और जोन के प्रमुखों को उपनगरीय सेवाओं के लिए अलग स्वतंत्र रूप से दो जो जोन बनाने की संभावना का अध्ययन करने को कहा है। प्रत्येक साल सांसदों को एमपीएलएडी योजना के तहत पांच करोड़ की राशि आवंटित की जाती है। यह राशि मुख्य तौर पर सांसदों को अपने क्षेत्र में निर्माण कार्य कराने के लिए दिया जाता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़