Tokyo Olympic 2020 Highlights Day 4: भारत के हाथ लगी निराशा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 26, 2021   23:25
Tokyo Olympic 2020 Highlights Day 4: भारत के हाथ लगी निराशा

कुवैत के अब्दुल्ला अलरशीदी ने ओलंपिक में कांस्य पदक अपने नाम किया। वहीं भारत की भवानी देवी ने तलवारबाजी के लिए क्वालीफाई कर लिया है और इसके साथ ही वह पहली भारतीय महिला बन गई हैं।

टोक्यो ओलंपिक का आज चौथा दिन था। आज के दिन अलग-अलग देशों के खिलाड़ियों ने कई उपलब्धियां अपने नाम की। कुवैत के अब्दुल्ला अलरशीदी ने ओलंपिक में कांस्य पदक अपने नाम किया। वहीं भारत की भवानी देवी ने तलवारबाजी के लिए क्वालीफाई कर लिया और इसके साथ ही वह पहली भारतीय महिला बनी लेकिन दूसरे राउंड में वह हर गयीं।  

58 वर्ष की उम्र में ओलंपिक पदक जीतकर मिसाल बने कुवैत के अब्दुल्ला अलरशीदी

 कुवैत के अब्दुल्ला अलरशीदी ने टोक्यो ओलंपिक निशानेबाजी में कांस्य पदक जीतकर दुनिया को दिखा दिया कि उनके लिये उम्र महज एक आंकड़ा है। सात बार के ओलंपियन ने सोमवार को पुरूषों की स्कीट स्पर्धा में कांस्य पदक जीता। यही नहीं पदक जीतने के बाद उन्होंने 2024 में पेरिस ओलंपिक में स्वर्ण पर निशाना लगाने का भी वादा किया जब वह 60 पार हो चुके होंगे। 

तोक्यो ओलंपिक में हारने के बाद भी हो रही वाहवाही! जानिए तलवारबाज भवानी देवी के बारे में

टोक्यो ओलंपिक में तलवारबाजी में भवानी देवी ने क्वालीफाई कर लिया है और इसके साथ ही वह तलवारबाजी में टोक्यो ओलंपकि में भारत का नेतृत्व करने वाली पहली भारतीय बन गई हैं। भवानी देवी के लिए यह मुकाम हासिल करना इतना आसान नहीं था। अनगिनत कठिनाईओ को पार करते हुए भवानी देवी ने अपना नाम इतिहास के पन्नों में लिख दिया है और देश का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया है, लेकिन अंत में निराशा उनके हाथ लगी और वह दूसरे राउंड में हार गईं।

मीराबाई चानू ने ट्रेनिंग के दौरान पिज्जा से बना ली थी दूरी, मेडल जीतने के बाद अब ख्वाहिशें करेंगी पूरी!

भारत की मीराबाई चानू ने देश का परचम लहराते हुए 49 किलोग्राम के प्रतिस्पर्धा में सिल्वर मेडल हासिल किया। इसके बाद से उन्हें लगातार बधाइयां मिल रही हैं। सिल्वर मेडल जीतने के बाद जब मीराबई चानू से पूछा गया कि अब उनका आगे का क्या प्लान है तो उन्होंने कहा कि वह पिज्जा खाना चाहती हैं। उनका यह बयान सुनने के बाद से डोमिनोज ने मीराबाई चानू को जीवनभर के लिए फ्री पिज्जा देने की पेशकश की है। इसी के साथ ही डोमीनोज ने शनिवार को ट्विटर पर यह घोषणा की कि वे ओलंपिक रजत पदक विजेता को अपने पूरे जीवन के लिए मुफ्त पिज्जा की पेशकश करेंगे। 

भारत की नजरें ओलंपिक पुरुष हॉकी प्रतियोगिता में स्पेन के खिलाफ वापसी करने पर

ऑस्ट्रेलिया से बुरी तरह शिकस्त का सामना करने वाली भारतीय पुरुष हॉकी टीम मंगलवार को यहां ओलंपिक के अपने तीसरे पूल ए मैच में अपने से कम रैंकिंग वाली टीम स्पेन के खिलाफ लय और टूटे हुए मनोबल को फिर से हासिल करने की कोशिश करेगी। अपने अभियान के शुरुआती मैच में न्यूजीलैंड पर 3-2 से जीत दर्ज करने के बाद भारतीय टीम को दूसरे मैच में दुनिया की नंबर एक टीम ऑस्ट्रेलिया से 1-7 के बड़े अंतर से हार का सामना करना पड़ा।

ओलंपिक पदक विजेता मीराबाई चानू लौटीं स्वदेश, दिल्ली एयरपोर्ट पर हुआ गर्मजोशी से स्वागत

टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने वाली भारतीय भारोत्तोलक मीराबाई चानू सोमवार को स्वदेश लौटी तो हवाई अड्डे पर उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया। चानू सुरक्षाकर्मियों के बीच इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से बाहर निकली, जहां उनके चेहरे पर मास्क और फेस शील्ड लगा था। उन्होंने यहां पहुंचने के बाद ट्वीट किया, ‘‘ इतने प्यार और समर्थन के बीच यहां वापस आकर खुशी हो रही है। बहुत - बहुत धन्यवाद।’’ इस 26 वर्षीय खिलाड़ी का ‘भारत माता की जय’ के नारों से स्वागत किया गया और भारतीय खेल प्राधिकरण के अधिकारियों सहित अन्य लोगों ने उनका अभिनंदन किया।

बाईचुंग भूटिया ने शुरू की ‘डेयर टू ड्रीम’ पहल की शुरूआत, इस स्कूल के साथ की साझेदारी


 ड्रीम स्पोर्ट्स फाउंडेशन (डीएसएफ) ने सोमवार को बाईचुंग भूटिया फुटबॉल स्कूल्स (बीबीएफएस) रिहायशी अकादमी के साथ साझेदारी करके ‘डेयर टू ड्रीम’ पहल शुरू की जिसमें छह प्रतिभावान युवा फुटबॉलरों का समर्थन किया जाएगा। बीबीएफएस की सहयोगी इंडियन फुटबॉल फाउंडेशन 12 से 17 बरस के इन खिलाड़ियों की पहचान करेगी और इन्हें मणिपुर, मेघालय और उत्तराखंड के वित्तीय रूप से कमजोर परिवारों से चुना जाएगा। इस पहल के तहत डीएसएफ उनकी ट्रेनिंग का खर्चा उठाएगा और साथ ही अगले एक साल तक उन्हें शिक्षा, पोषण और प्रतिस्पर्धी अनुभव भी दिलाएगा।

भारत की उम्मीदों को झटका, मनिका बत्रा तीसरे दौर में हारकर बाहर

भारतीय खिलाड़ी मनिका बत्रा टोक्यो ओलंपिक खेलों की टेबल टेनिस प्रतियोगिता के महिला एकल में सोमवार को यहां आस्ट्रिया की सोफिया पोलकानोवा से सीधे गेम में हारकर बाहर हो गयी। इससे पहले अपने से अधिक रैंकिंग की खिलाड़ियों को हराने वाले मनिका के पास विश्व में 16वें नंबर की पोलकानोवा के नियंत्रित और दमदार खेल का कोई जवाब नहीं था। उन्होंने 0-4 (8-11, 2-11, 5-11, 7-11) से यह मैच गंवाया।

दमदार शुरुआत के बाद अपने दूसरे मुकाबले में हारी भवानी देवी, तोक्यो ओलंपिक का सफर खत्म

भारतीय तलवारबाज भवानी देवी ने अपने ओलंपिक पदार्पण पर आत्मविश्वास भरी शुरुआत करके आसानी से पहला मैच जीता लेकिन सोमवार को यहां दूसरे मैच में चौथी वरीयता प्राप्त मैनन ब्रूनेट से हारकर वह तोक्यो ओलंपिक से बाहर हो गयी। भवानी देवी को महिलाओं की व्यक्तिगत साबरे के दूसरे मैच में रियो ओलंपिक के सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली ब्रूनेट से 7-15 से हार का सामना करना पड़ा। उन्होंने इससे पहले ट्यूनीशिया की नादिया बेन अजीजी को 15-3 से हराकर दूसरे दौर में प्रवेश किया था।

Tokyo Olympics 2020: सुमित नागल को सीधे सेटों में मेदवेदेव से मिली हार, टेनिस में भारतीय चुनौती समाप्त

 भारत के सुमित नागल पुरुष एकल के दूसरे दौर में रूस ओलंपिक समिति (आरओसी) के दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी दानिल मेदवेदेव के खिलाफ सीधे सेटों में शिकस्त के साथ तोक्यो ओलंपिक से बाहर हो गए जिससे टेनिस में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई। दुनिया के 160वें नंबर के खिलाड़ी नागल को दूसरे वरीय मेदवेदेव के खिलाफ एक घंटा और छह मिनट चले मुकाबले में 2-6, 1-6 से हार का सामना करना पड़ा। मेदवेदेव ने पहले सेट में दो जबकि दूसरे सेट में तीन बार नागल की सर्विस तोड़ी। 

दुनिया की नंबर वन जोड़ी से सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी को मिली हार

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की भारतीय बैडमिंटन जोड़ी को तोक्यो ओलंपिक के पुरुष युगल के ग्रुप ए के अपने दूसरे मैच में सोमवार को यहां मार्कस फर्नाल्डी गिडियोन और केविन संजय सुकामुल्जो की इंडोनेशिया की दुनिया की नंबर एक जोड़ी के खिलाफ सीधे गेम में शिकस्त का सामना करना पड़ा। दुनिया की 10वें नंबर की सात्विक और चिराग की भारतीय जोड़ी को इंडोनेशिया की शीर्ष वरीय जोड़ी ने 32 मिनट में 21-13, 21-12 से शिकस्त दी। गिडियोन और सुकामुल्जो के खिलाफ नौ मैचों में सात्विक और चिराग की यह नौवीं हार है।

बील शतरंज महोत्सव: भारतीय ग्रैंडमास्टर निहाल सरीन रेपिड स्पर्धा में दूसरे स्थान पर

भारत के युवा ग्रैंडमास्टर निहाल सरीन यहां बील अंतरराष्ट्रीय शतरंज महोत्सव के रेपिड वर्ग में चार जीत और दो ड्रॉ के साथ दूसरे स्थान पर रहे। सत्रह साल के सरीन (ईएलओ रेटिंग 2620) ने ग्रैंडमास्टर गाटा कामस्की (ईएलओ 2658) को बराबरी पर रोककर अमेरिकी खिलाड़ी के पांच मैच के विजय अभियान को थामा। सरीन ने रविवार देर रात संपन्न सात दौर की रेपिड स्पर्धा में संभावित 14 में से 10 अंक जुटाए।

विश्व कैडेट चैंपियनशिप में भारत ने जीते 5 गोल्ड सहित 13 मेडल, PM मोदी और खेल मंत्री ने दी बधाई

भारत में टोक्यो ओलंपिक में शानदार शुरुआत की है तो दूसरी ओर हंगरी के बुडापेस्ट में हुए विश्व कैडेट चैंपियनशिप में भी खिलाड़ियों का प्रदर्शन शानदार रहा है। इस चैंपियनशिप में भारत के खिलाड़ियों ने देश का झंडा बुलंद किया है। भारत के खिलाड़ियों ने कुल 13 पदक जीते जिसमें पांच स्वर्ण पदक शामिल है। देशभर में खिलाड़ियों के प्रदर्शन को लेकर खूब वाहवाही हो रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी खिलाड़ियों को शाबाशी दी है। नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि हंगरी के बुडापेस्ट में भारत ने विश्व कैडेट चैंपियनशिप में 5 स्वर्ण सहित 13 पदक जीते हैं। इसके लिए हमारी टीम को बधाई और भविष्य के प्रयासों के लिए उन्हें शुभकामनाएं। 

मंगलवार (27-7-2021) को भारत के मुकाबले 

तीरंदाजी- पुरुषों का व्यक्तिगत राउंड 64, राउंड ऑफ 32

तीरंदाजी- महिला व्यक्तिगत राउंड ऑफ 64, राउंड ऑफ 32

सेलिंग - पुरुषों की लेजर हीट

सेलिंग - महिला लेजर रेडियल हीट

सेलिंग – पुरुषों की 49er हीट

निशानेबाजी - मिश्रित 10 मीटर एयर पिस्टल टीम योग्यता, कांस्य पदक मैच, फाइनल - 5:30 से आगे

टेबल टेनिस – पुरुष एकल राउंड 3 – 5:30

टेबल टेनिस – महिला एकल राउंड 3 – 5:30

रोइंग – पुरुषों की लाइटवेट डबल स्कल्स फ़ाइनल C – 5:50

हॉकी – पुरुष बनाम स्पेन – 6.30

तैराकी - पुरुषों की 200 मीटर फ़्रीस्टाइल फ़ाइनल - 7:13

तैराकी – महिलाओं की 100 मीटर बैकस्ट्रोक फ़ाइनल – 7:21

तैराकी - पुरुषों की 100 मीटर बैकस्ट्रोक फ़ाइनल - 7:29

रोइंग – पुरुषों की लाइटवेट डबल स्कल्स सेमीफ़ाइनल ए/बी – 7:48

तैराकी - पुरुषों की 200 मीटर बटरफ्लाई सेमीफ़ाइनल - 8:05

निशानेबाजी - मिश्रित 10 मीटर एयर राइफल टीम योग्यता, फाइनल - 9:45 से आगे

रोइंग – मेन्स लाइटवेट डबल स्कल्स फ़ाइनल C, सेमीफ़ाइनल A/B – 5:50, 7:48

बॉक्सिंग – विमेंस वेल्टरवेट राउंड ऑफ़ 16 – लवलीना बोर्गोहेन बनाम नादिन एपेट्ज़ – 11:57 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।