WFI के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली पहलवान Vinesh Phogat हैं जानी मनी महिला पहलवान, देश को दिलाए हैं कई पदक

vinesh phogat
ANI Image
रितिका कमठान । Jan 19, 2023 4:26PM
इन दिनों महिला पहलवान विनेश फोगाट जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने के साथ ही चर्चा में आ गई है। उन्होंने भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर यौन उत्पीड़न समेत कई गंभीर आरोप लगाए है। उन्होंने साफ किया है उनके साथ ऐसी घटना नहीं हुई मगर संघ की कई महिलाओं के साथ ऐसा हुआ है।

पोडियम में खड़े होकर देश का मान बढ़ाने वाले पदकवीर इन दिनों जंतर मंतर पर इकट्ठा है। इंटरनेशनल लेवल के बड़े-बड़े पहलवानों को पटखने देने वाले पहलवान भारतीय कुश्ती महासंघ से नाराज है, जिसका सीधा प्रदर्शन जंतर मंतर पर अपनी नाराजगी जाहिर कर उन्होंने दिया है। इन पहलवानों में शामिल हैं महिला पहलवान विनेश फोगाट जिन्होंने भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर यौन उत्पीड़न के अलावा कई आरोप लगाए हैं जिन की लिस्ट काफी लंबी है।

विश्व चैम्पियनशिप पदक विजेता विनेश ने बृजभूषण शरण सिंह पर सीधे वार किया है। उन्होंने कहा कि हम झुकेंगे नहीं बल्कि अपने हक के लिए लड़ेंगे। विनेश फोगाट द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद से ही ये पूरा मुद्दा काफी गर्मा गया है। आपको बताते हैं विनेश फोगाट के करियर और उनकी सफलताओं के बारे में।

ऐसा रहा है विनेश फोगाट का करियर
विनेश फोगाट का जन्म हरियाणा के चरखी-दादरी जिले में 25 अगस्त 1994 को हुआ। विनेश पहलवान राजपाल फोगाट की बेटी है। देश की शान बढ़ाने वाले महिला पहलवान जैसे गीता फोगाट, बबिता फोगाट और रितु फोगाट उनकी चचेरी बहनें है। फोगाट परिवार की सभी महिला पहलवान काफी चर्चित भारतीय महिला पहलवानों में शुमार हैं। 

विनेश को घर में हमेशा से ही कुश्ती का माहौल मिला था। इसी माहौल की बदौलत वो कुश्ती के क्षेत्र में आई। वर्ष 2013 में महज 19 वर्ष की उम्र में जोहांसबर्ग में आयोजित यूथ रेसलिंग चैंपियनशिप में 51 किग्रा कैटेगरी में उन्होंने रजत पदक जीता। इस जीत से हर किसी का ध्यान इस युवा महिला रेसलर की तरफ बढ़ा।

इस जीत के बाद उनके हौंसले फिर बुलंद हुए। उन्होंने इचियोन में वर्ष 2014 में आयोजित एशियाई खेलों में 48 किग्रा भार वर्ग में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर देश का मान बढ़ाया। इसके बाद से विनेश लगातार सफलता की सीढ़ी चढ़ती गई है। विनेश की झोली में वर्तमान में एक दर्जन से अधिक पदक है। दो बार की ओलंपियक विजेता विनेश के पास राष्ट्र मंडल खेलों में दो स्वर्ण, एशियाई खेलों में एक स्वर्ण, विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक भी है। वो कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान भी है।

अर्जुन पुरस्कार से हैं सम्मानित
कुश्ती में उनके शानदार प्रदर्शन के लिए विनेश को भारत सरकार से अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। इनहें राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई पुरस्कार और सम्मान मिल चुके है। विनेश फोगाट को ट्र्रेनिंग उनके चाचा महावीर फोगाट से हासिल हुई है। 

अन्य न्यूज़