कुलदीप यादव बोले, 'जो कहा कई बार सच साबित हुआ, इसमें मेरी दूसरी हैट्रिक भी शामिल'

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 31, 2020   18:15
कुलदीप यादव बोले, 'जो कहा कई बार सच साबित हुआ, इसमें मेरी दूसरी हैट्रिक भी शामिल'

कुलदीप देश के एकमात्र गेंदबाज हैं जिन्होंने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में दो हैट्रिक बनाई हैं। उन्होंने 2017 में कोलकाता के ईडन गार्डन्स में आस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट्रिक के दो साल बाद वेस्टइंडीज के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की।

अबु धाबी। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की तरह भारत के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव का भी कहना है कि उनमें भविष्यवाणी करने की क्षमता है और इसमें उनकी दूसरी एकदिवसीय हैट्रिक की भविष्यवाणी भी शामिल है। कुलदीप देश के एकमात्र गेंदबाज हैं जिन्होंने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में दो हैट्रिक बनाई हैं। उन्होंने 2017 में कोलकाता के ईडन गार्डन्स में आस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट्रिक के दो साल बाद वेस्टइंडीज के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी कोलकाता नाइट राइडर्स ने कुलदीप के हवाले से कहा, ‘‘आप विश्वास नहीं करेंगे लेकिन जिस दिन मैंने दूसरी हैट्रिक ली उस दिन मैंने अपनी मां से कह दिया था कि मैं हैट्रिक लूंगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कई बार मैंने जो कहा वह सच निकला। मुझे लगता है कि कभी कभी ऐसा हो जाता है और जब हम वेस्टइंडीज के खिलाफ बल्लेबाजी कर रहे थे तो मुझे लगा कि मैं हैट्रिक लूंगा।’’ इस स्पिनर ने कहा, ‘‘चीजें उसी तरह हुई जैसी मैंने योजना बनाई थी।’’ आर्चर ने अपनी तेज गेंदबाजी के अलावा हाल के वर्षों में अपनी भविष्यवाणियों से भी सुर्खियां बटोरी हैं। अपनी पहली हैट्रिक के संदर्भ में कुलदीप ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी से जब तीसरी गेंद पर उन्होंने सहायता मांगी तो इस अनुभवी खिलाड़ी ने उनकी मदद की।

इसे भी पढ़ें: टेस्ट करियर को मजबूत करना चाहता हूं, अगर आईपीएल में मौका मिला तो यह बोनस होगा: कॉर्नवाल

कुलदीप ने कहा, ‘‘मैंने पहला विकेट मैथ्यू वेड का लिया और अगली गेंद पर एशटन एगर को आउट किया। तीसरी गेंद पर मैंने माही भाई (धोनी) से पूछा कि कहा गेंद करनी है।’’उन्होंने कहा, ‘‘जब आपके पास इतने सारे वैरिएशन होते हैं तो आप भ्रमित हो जाते हैं। उन्होंने मुझे वही करने दिया जो मुझे सही लगा लेकिन सुझाव दिया कि मैं गेंद विकेट पर करूं।’’ इस स्पिनर ने कहा, ‘‘मैंने विराट भाई से बात की और कहा कि क्या मैं दूसरे छोर से गेंदबाजी कर सकता हूं। उन्होंने कहा कि (युजवेंद्र) चहल का स्पैल खत्म होने के बाद मैं उस छोर से गेंदबाजी कर सकता हूं। मैंने काफी अच्छी लय हासिल की और सही लेंथ के साथ गेंद करने लगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने स्लिप और गली को लगाकर रखा। भाग्य से मैंने अच्छी गेंद फेंकी जिसने बल्ले का किनारा लिया।’’ कुलदीप ने कहा, ‘‘ईडन गार्डन पर हैट्रिक लेना, वह भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने पहले ही साल में, यह बड़ी चीज है और यह मेरे जीवन के सबसे बड़े लम्हों में से एक है। ’’ यूएई में 19सितंबर से शुरू हो रहे आईपीएल से उम्मीदों के बारे में पूछने पर कुलदीप ने कहा कि उनकी टीम सही संयोजन के साथ खिताब जीत सकती है। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे पिछले साल लग रहा था कि हम जीतेंगे। 2018 में भी हम शानदार क्रिकेट खेल रहे थे और मुझे यकीन था कि हम खिताब जीतेंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।