फेडरर और सेरेना के संन्यास से टेनिस में शुरु होगा अल्काराज, स्वियातेक का दौर

Roger Federer
प्रतिरूप फोटो
ANI
फेडरर ने कहा कि अगले सप्ताह लावेर कप कप में वह आखिरी बार कोर्ट में उतरेंगे। इन दोनों खिलाड़ियों विदाई से पहले ही टेनिस के भविष्य को लेकर काफी चर्चा की जा रही थी। लेकिन स्वियातेक और अल्काराज जैसे युवाओं ने हाल के दिनों में यह साबित किया कि खेल सही हाथों में है।

एक सप्ताह के अंदर दो दिग्गजों रोजर फेडरर और सेरेना विलियम्स के संन्यास जैसी घोषणाओं से टेनिस के एक युग का अंत हो रहा तो वही महज 21 साल की उम्र में अपना तीसरा ग्रैंड स्लैम जीतने वाली इगा स्वियातेक और 19 बरस की आयु में अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीतने वाले कार्लोस अल्काराज ने नये युग की शुरुआत की झलक दिखा दी। चालीस साल की सेरेना ने अमेरिकी ओपन के बाद इस तरह के संकेत दिये थे कि वह अपना आखिरी पेशेवर मैच खेल चुकी है तो वहीं फेडरर ने गुरुवार को खेल को अलविदा कहने की घोषणा की।

फेडरर ने कहा कि अगले सप्ताह लावेर कप कप में वह आखिरी बार कोर्ट में उतरेंगे। इन दोनों खिलाड़ियों विदाई से पहले ही टेनिस के भविष्य को लेकर काफी चर्चा की जा रही थी। लेकिन स्वियातेक और अल्काराज जैसे युवाओं ने हाल के दिनों में यह साबित किया कि खेल सही हाथों में है। ‘हॉल ऑफ फेम’ कोच निक निक बोलेटिएरी ने कहा, ‘‘ इन दोनों खिलाड़ियों ने टेनिस को उस स्वरूप में ढालने की कोशिश की जिसे हम आज देख रहे है। हमें उनकी कमी खलेगी।’’

विलियम्स बहनों (सेरेना और वीनस), आंद्रे अगासी, जिम कूरियर, मोनिका सेलेस और मारिया शारापोवा के साथ काम करने वाले बोलेटिएरी ने कहा,, ‘‘इन युवा खिलाडियों का रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचने से टूर (प्रतियोगिताओं) पर बड़ा फर्क पडेगा।’’ उन्होंने कहा कि फेडरर के जाने के बाद भी राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच सक्रिय है। यह जरूर है कि नडाल चोट से परेशान रह रहे और जोकोविच कोरोना वायरस टीका नहीं लगवाने के कारण सीमित प्रतियोगिताओं में खेल रहे है। इसके बाद भी दोनों ने साल के चार में तीन ग्रैंड स्लैम को अपने नाम किये।

सेरेना ने 23 और फेडरर ने 20 ग्रैंड स्लैम जीते। इन दोनों ने इसके साथ ही ओलंपिक पदक और कई टूर्नामेंट में जीत का परचम लहराया और सैकड़ों सप्ताह तक रैंकिंग में शिखर पर रहे। इन खिलाड़ियों की जगह को भरने के लिए हालांकि युवा ब्रिगेड तैयार है। स्वियातेक और अल्काराज ने छोटे अंतरराष्ट्रीय करियर में इसकी झलक पेश कर दी है। स्वियातेक छह महीने  पहले ऐश बार्टी के संन्यास के बाद से रैंकिंग में नंबर एक महिला खिलाड़ी है। वह 2016 के बाद से एक सत्र में दो ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने वाली पहली महिला हैं।

अल्काराज 1973 में कम्प्यूटरीकृत रैंकिंग शुरू होने के बाद से बीते सोमवार को नंबर एक रैंकिंग हासिल करने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने। वह 1990 में पीट सम्प्रास के बाद से अमेरिकी ओपन और नडाल (2005 में फ्रेंच ओपन) के बाद से किसी भी ग्रैंड स्लैम का पुरुष एकल खिताब को जीतने वाले पहले सबसे युवा खिलाड़ी हैं। खास बात यह है कि फेडरर ने जब अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था तब अल्काराज की उम्र महज दो महीने थी तो वहीं स्वियातेक दो साल की थी। इन दोनों खिलाड़ियों पर फेडरर और सेरेना के खेल की गहरी छाप है।

स्वियातेक और अल्काराज के अलावा नाओमी ओसाका, कोको गफ, फ्रांसिस टियाफो और यानिक सिनर, कैस्पर रुड और ओन्स जबूर जैसे खिलाड़ियों ने पिछले कुछ समय में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। लंबे समय तक फेडरर के प्रतिनिधि रहे टोनी गोडसिक ने कहा, ‘‘ टेनिस बहुत अच्छी जगह पर है। आप इस ‘छोटे बच्चे’ अलकराज को देखो, वह तेजी से आगे बढ़ रहा है। उसके पीछे और भी खिलाड़ी हैं। यह टेनिस के लिए अच्छा है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़