• अमेरिका ने त्रिनिदाद और टोबैगो को दान की वैक्सीन की 80 शीशियां, सोशल मीडिया पर उड़ा मजाक

अंकित सिंह Jun 17, 2021 12:32

दरअसल, दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका ने त्रिनिदाद और टोबैगो की ऐसी मदद की है जिसकी वजह से उसे आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। अब आप यह सोचेंगे कि मदद करने के बाद भी आलोचना क्यों, तो हम आपको बता रहे हैं।

कोरोना वायरस से पूरी दुनिया परेशान है। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए लगभग सभी देशों में टीकाकरण की रफ्तार को तेज किया जा रहा है। हालांकि, कई देश ऐसे भी हैं जहां टीका फिलहाल बड़ी मात्रा में उपलब्ध नहीं है। ऐसे देशों को दूसरे बड़े देशों की मदद मिल रही है। इन सब के बीच एक ऐसी खबर है जिसे आप भी सुन कर हैरान होंगे और आपको भी बुरा लगेगा। दरअसल, दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका ने त्रिनिदाद और टोबैगो की ऐसी मदद की है जिसकी वजह से उसे आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। अब आप यह सोचेंगे कि मदद करने के बाद भी आलोचना क्यों, तो हम आपको बता रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: राहुल ने बीजेपी पर टीके को लेकर झूठ बोलने का लगाया आरोप, हर्षवर्धन बोले- अब नही चलेगा भ्रम फैलाने का एजेंडा

त्रिनिदाद और टोबैगो 14 लाख की आबादी वाला देश है। लेकिन अमेरिका ने कोरोना वैक्सीन की मदद के नाम पर इस देश को टीके की 80 शीशियां दी है। इसकी वजह से अमेरिका का खूब मजाक उड़ाया जा रहा है। सोशल मीडिया पर उसकी ट्रॉलिंग की जा रही है। इतना ही नहीं, चीनी मीडिया में भी अमेरिका का मजाक उड़ाया जा रहा है। चीन के एक मीडिया ने कहा कि इसे सबसे बुरे पुरस्कार के तौर पर नामांकित किया जाना चाहिए। एक ओर दावा किया जा रहा है कि अमेरिका हर देश की मदद कर रहा है। उसने भारत की भी मदद की। लेकिन जिस तरीके से उसने त्रिनिदाद एंड टोबैगो की मदद की है वह कहीं ना कहीं आलोचना का कारण बना है।

इसे भी पढ़ें: भाजपा ने कांग्रेस पर टीकाकरण अभियान को पटरी से उतारने की कोशिश का लगाया आरोप

इस मदद की जानकारी खुद अमेरिका की ओर से दी गई। पोर्ट ऑफ स्पेन में स्थित अमेरिकी दूतावास ने वैक्सीन दान करते हुए ट्वीट में कहा कि अमेरिका की सरकार ने त्रिनिदाद और टोबैगो की सरकार को कोविड-19 टीको का दान दिया है। दान में फाइजर की 80 शीशियां शामिल है। आगे लिखा गया कि संयुक्त राज्य अमेरिका त्रिनिदाद और टोबैगो की सरकार की सहायता करने के लिए प्रतिबद्ध है। हम मानते हैं कि हर टीका मायने रखता है। लेकिन अमेरिका का वैक्सीन गिफ्ट का खूब मजाक उड़ाया जा रहा है। फाइजर की 1 सीसी में 5 खुराक देने होते है। 21 दिनों के अंतराल में 2 इंजेक्शनों में दी जाती है। कुल मिलाकर देखे तो 80 शीशियों का 400 इंजेक्शन दिया जा सकता है जो कि 200 लोगों के लिए पर्याप्त होगा। लेकिन त्रिनिदाद और टोबैगो की आबादी 14 लाख से ज्यादा है। ऐसे में इस तरह की मदद को आप क्या कहेंगे।