Prabhasakshi
शुक्रवार, सितम्बर 21 2018 | समय 05:31 Hrs(IST)

ट्रेंडिंग

बुराड़ी सामुहिक आत्महत्या: 11 लाशें, 11 पाइप और, 3 रजिस्टर का सच

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 4 2018 6:36PM

बुराड़ी सामुहिक आत्महत्या: 11 लाशें, 11 पाइप और, 3 रजिस्टर का सच
Image Source: Google

बुराड़ी के संत नगर मे हुई 11 लोगों की मौत के मामले में दिन पर दिन नये खुलासे हो रहै है पहले घर से पुलि को रजिस्टर मिला जिसमें आत्महत्या करने की पूरी विधि लिखी है और 11 मोतों को दुसरा कनेक्शन घर के बाहरी दिवार पर लगे 11 पाइपों से भी माना जा रहा हैं..... इन पाइपों के बरे में आप पास के लोग भी नहीं जानते... आइये देखते है इस रिपोर्ट में 11 मौत 11 पाइप और 3 रजिस्टर का सच...

बुराड़ी की 11 लाशों में उलझी दिल्ली पुलिस अब तीन रजिस्टर के पन्नों में फंस गई है.. ये रजिस्टर घर के छोटे मंदिर के पास मिले है... रजिस्टर में मौत का तरीका, मौत का दिन, मौत का वक्त... साफ साफ लिखा है...हैरान करने वासी बात ये है कि  परिवार ने अपनी जान हूबहू वैसे ही दी है...जैसे रजिस्टर में लिखा है।

रजिस्टर में लिखा है 

सभी लोग अपने आखों पर पट्टी अच्छे से बांधे.. 

और फंदे के लिए रस्सी के साथ साड़ी और सूती चुन्नी का इस्तेमाल करना होगा..

7 दिन लगन और श्रद्धा के साथ पूजा करनी होगी..

इस दौरान कोई घर में आये तो पूजा अगले दिन करनी होगी.. 

परिवार के सभी सदस्यों की सोच एक जैसी होना चाहिए

चौकाने वाली बात यह है कि बुराड़ी के इस परिवार ने बिलकुल उसी अंदाज में मौत को चुना.. जैसा पहले रजिस्टर में दर्ज था।

बुराड़ी का भाटिया परिवार

दिल्ली के इस परिवार की मौत ने सभी को झकझौर कर रख दिया है… हर जुबा पर बस एक ही सवाल है कि वो क्या वजह थी जो 11 लोगों को फांसी के फंदे से लटकने को मजबूर कर दिया...

75 साल की नारायणी घर की मुखिया थी उनके दो बेटे थे.. बड़ा बेटा 46 साल का भूपी और छोटा बेटा 42 साल का ललित... उनकी 60 साल की विधवा बेटी और नातिन थी..

बड़े बेटे भूपी की 42 साल की पत्नी, 1 बेटी और 2 बेटे थे... और ललिट की 38 साल की पत्नी और 1 बेटा था...

नारायणा की नातिन प्रियंका की बीते 17 जून को सगाई भी हुई थी.. वो खुद MBA करके  एक मल्टी नेशनल कंपनी में काम कर रही थी.. ऐसे में उसका फांसी लगाना लोगों के गले नही उतर पा रहा है... घर में रिनोवेशन का काम भी चल रहा था.. दुसरी तरफ पडोसी कह रहै है कि परिवार का व्यवहार सबसे बहुत अच्छा था कभी परिवार को किसी ने लडते झगडते नही देखा..

11 पाइपों का रहस्य

पुलिस ने हत्या और आत्म हत्या दोनों एंगल से जांच कर रही हैं.. लेकिन शुरूआती जांच में यही निकल कर सामने आ रहा है कि ये हत्या नही आत्म हत्या है... परिवार ने अंधविश्वास के चलते मौत को गले लगा लिया... 

रजिस्टर के अलावा घर में एक रहस्यमय चीज और देखी गई.. घर के बार 11 पाइप लगे थे इन पाइपो का मुह बाहर की ओर निकला हुआ है ये पाइप घर में किसी वेंटिलेश या किसी पानी के कनेक्शन के लिए नहीं लगाए गये.. घर में इन पाइपो का कही से कोई कनेक्शन नही है.. माना जा रहा हैं ये पाइप इस परिवार के आनुष्ठान का हिस्सा थे इन पाइपो के जरिये आत्मा को बाहर निकलने का रस्ता दिया गया.. ऐसा इस लिए भी माना जा रहा है क्योंकि दिवार में 11 पाइप थे और 4 सिधे और 7 मुड़े हुए.. और घर में 4 पुरुष थे और 7 महिलाएं इन सबके नाम का एक पाइप निकाला गया था..

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: