धोनी की लोकप्रियता उम्र, जाति, धर्म और राज्य की सीमाओं से परे
एक टाइम था जब भारतीय क्रिकेट में शायद ही किसी ने सोचा हो कि सचिन तेंदुलकर के बाद भी टीम इंडिया में कोई ऐसा खिलाड़ी आएगा जिसकी लोकप्रियता उम्र, जाति, धर्म और राज्य की सीमाओं से परे होगी... लेकिन ऐसा हुआ... क्रिकेट इतिहास में धोनी को एक धुरंधर बल्लेबाज़ या विकेटकीपर की बजाए एक महान कप्तान या यूं कहें कि एक लाजवाब लीडर के तौर पर जाना जाएगा।
 
इंटरनेशनल क्रिकेट में धमाकेदार एंट्री
भारत में जहां क्रिकेटरों को शीर्ष स्तर तक पहुंचने में जीवन लगा देना होता है, वहीं धोनी की प्रतिभा कुछ अलग ही थी। जूनियर क्रिकेट से बिहार क्रिकेट टीम, झारखंड क्रिकेट टीम से इंडिया ए टीम तक और वहां से भारतीय टीम तक का उनका सफर महज 5-6 साल में पूरा हो गया। उन्होंने 1998 में जूनियर क्रिकेट की शुरुआत की थी और दिसंबर 2004 में उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच के जरिए अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज कर दिया।
 
आईसीसी के तीनों ट्रॉफी के बॉस 
एक ही ऐसे कप्तान रहे हैं, जिन्होंने ICC ट्रॉफी के इतिहास  में टी20 वर्ल्ड कप, वनडे वर्ल्ड कप और अब चैंपियंस ट्रॉफी में भी अपनी कप्तानी का लोहा मनवाया और भारत की क्रिकेट टीम को एक नया मुकाम हासिल करवाया. वो ऐसे भी कप्तान हैं जिनकी टीम ने आईसीसी की वनडे और टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 पोजिशन हासिल की है।
 
500 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने की उपलब्धि
37वें जन्मदिन की पूर्व संध्या पर उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में उतरकर 500 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने की उपलब्धि हासिल की। धोनी इस मुकाम पर पहुंचने वाले तीसरे भारतीय हैं। उनसे पहले सचिन तेंडुलकर (664) और राहुल द्रविड((509) ने यह उपलब्धि हासिल की थी। धोनी 92 टी20, 90 टेस्ट मैच और 318 वनडे खेल चुके हैं।
 
संन्यास लेने से पहले धोनी का रिकॉर्ड
टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने से पहले धोनी ने 33 अर्धशतक और 6 शतकों के साथ 4876 रन बनाए। वनडे क्रिकेट में 67 अर्धशतक और 10 शतकों के साथ वह 9967 रन जुटा चुके हैं। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में 1455 रन बनाए हैं। 
 
विकेटकीपिंग का जवाब नहीं
विकेट के पीछे तो उनकी फुर्ती का कोई सानी नहीं है। अंतरराष्ट्रीय मैचों में विकेटकीपर के तौर पर वह 602 कैच लपकने के अलावा 178 खिलाड़ियों को स्टंप कर चुके हैं। 
 
साक्षी और जीवा का मिला साथ
करियर के शुरूआती दिनों में महेंद्र सिंह धोनी का नाम कई अभिनेत्रियों से जुड़ा था. लेकिन उन्होंने चार जुलाई 2010 को देहरादून की साक्षी रावत से शादी की। भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलिया में बेहतरीन प्रदर्शन के अलावा कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को विश्व कप शुरू होने के पहले नन्ही परी के आने की असीमित खुशी प्राप्त हुई। धोनी और साक्षी की एक बेटी भी है जिसका नाम जीवा है।
 
", "image": { "@type": "ImageObject", "url": "https://www.prabhasakshi.com/cms/gall_content/2018/7/_650x_2018070712361841.jpg", "height": 381, "width": 650 }, "publisher": { "@type": "Organization", "name": "Prabhasakshi", "logo": { "@type": "ImageObject", "url": "https://www.prabhasakshi.com/img/logo1.png", "width": 180, "height": 60 } } }
Prabhasakshi
गुरुवार, जुलाई 19 2018 | समय 23:11 Hrs(IST)

ट्रेंडिंग

महेंद्र सिंह धोनी ने अपने जन्मदिन पर इंग्लैंड की धरती पर रचा नया इतिहास

By renu@prabhasakshi.com | Publish Date: Jul 7 2018 12:36PM

महेंद्र सिंह धोनी ने अपने जन्मदिन पर इंग्लैंड की धरती पर रचा नया इतिहास
Image Source: Google

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का आज 37वां जन्मदिन है। धोनी फिलहाल भारतीय टीम के साथ इंग्लैंड के दौरे पर हैं । एमएस धोनी टीम इंडिया का वो सितारा है, जिन्होंने भारतीय क्रिकेट को बहुत कुछ दिया है। भारतीय क्रिकेट टीम के सीनियर खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में उतरकर 500 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने की नई उपलब्धि हासिल की। इसके साथ ही वो भारत के तीसरे खिलाड़ी बने जिसने ये मुकाम हासिल किया। धोनी के करियर का ये पहला रिकॉर्ड नहीं है धोनी पहले भी कई रिकॉर्ड तोड़ चुके है। धोनी ने अपने जन्मदिन पर ये मुकाम हासिल किया है। आइये जानते है धोनी की कुछ उपलब्धियां जिसे उन्होंने अपनी मेहनत के दम पर हासिल किया।

धोनी की लोकप्रियता उम्र, जाति, धर्म और राज्य की सीमाओं से परे
एक टाइम था जब भारतीय क्रिकेट में शायद ही किसी ने सोचा हो कि सचिन तेंदुलकर के बाद भी टीम इंडिया में कोई ऐसा खिलाड़ी आएगा जिसकी लोकप्रियता उम्र, जाति, धर्म और राज्य की सीमाओं से परे होगी... लेकिन ऐसा हुआ... क्रिकेट इतिहास में धोनी को एक धुरंधर बल्लेबाज़ या विकेटकीपर की बजाए एक महान कप्तान या यूं कहें कि एक लाजवाब लीडर के तौर पर जाना जाएगा।
 
इंटरनेशनल क्रिकेट में धमाकेदार एंट्री
भारत में जहां क्रिकेटरों को शीर्ष स्तर तक पहुंचने में जीवन लगा देना होता है, वहीं धोनी की प्रतिभा कुछ अलग ही थी। जूनियर क्रिकेट से बिहार क्रिकेट टीम, झारखंड क्रिकेट टीम से इंडिया ए टीम तक और वहां से भारतीय टीम तक का उनका सफर महज 5-6 साल में पूरा हो गया। उन्होंने 1998 में जूनियर क्रिकेट की शुरुआत की थी और दिसंबर 2004 में उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच के जरिए अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज कर दिया।
 
आईसीसी के तीनों ट्रॉफी के बॉस 
एक ही ऐसे कप्तान रहे हैं, जिन्होंने ICC ट्रॉफी के इतिहास  में टी20 वर्ल्ड कप, वनडे वर्ल्ड कप और अब चैंपियंस ट्रॉफी में भी अपनी कप्तानी का लोहा मनवाया और भारत की क्रिकेट टीम को एक नया मुकाम हासिल करवाया. वो ऐसे भी कप्तान हैं जिनकी टीम ने आईसीसी की वनडे और टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 पोजिशन हासिल की है।
 
500 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने की उपलब्धि
37वें जन्मदिन की पूर्व संध्या पर उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में उतरकर 500 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने की उपलब्धि हासिल की। धोनी इस मुकाम पर पहुंचने वाले तीसरे भारतीय हैं। उनसे पहले सचिन तेंडुलकर (664) और राहुल द्रविड((509) ने यह उपलब्धि हासिल की थी। धोनी 92 टी20, 90 टेस्ट मैच और 318 वनडे खेल चुके हैं।
 
संन्यास लेने से पहले धोनी का रिकॉर्ड
टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने से पहले धोनी ने 33 अर्धशतक और 6 शतकों के साथ 4876 रन बनाए। वनडे क्रिकेट में 67 अर्धशतक और 10 शतकों के साथ वह 9967 रन जुटा चुके हैं। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में 1455 रन बनाए हैं। 
 
विकेटकीपिंग का जवाब नहीं
विकेट के पीछे तो उनकी फुर्ती का कोई सानी नहीं है। अंतरराष्ट्रीय मैचों में विकेटकीपर के तौर पर वह 602 कैच लपकने के अलावा 178 खिलाड़ियों को स्टंप कर चुके हैं। 
 
साक्षी और जीवा का मिला साथ
करियर के शुरूआती दिनों में महेंद्र सिंह धोनी का नाम कई अभिनेत्रियों से जुड़ा था. लेकिन उन्होंने चार जुलाई 2010 को देहरादून की साक्षी रावत से शादी की। भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलिया में बेहतरीन प्रदर्शन के अलावा कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को विश्व कप शुरू होने के पहले नन्ही परी के आने की असीमित खुशी प्राप्त हुई। धोनी और साक्षी की एक बेटी भी है जिसका नाम जीवा है।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: