लापरवाही! नर्स ने गलती से काटा पांच महीने की मासूम का अंगूठा...

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 6 2019 12:09PM
लापरवाही! नर्स ने गलती से काटा पांच महीने की मासूम का अंगूठा...
Image Source: Google

पांच महीने की पीड़ित बच्ची को यहां निमोनिया के इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। बच्ची की मां फरहान बानो ने बुधवार को आरोप लगाया कि एक नर्स ने कैंची से बैंडेज हटाते वक्त दुर्घटनावश उनकी बेटी के बांये हाथ के अंगूठे को काट डाला।

अहमदाबाद। अहमदाबाद में एक बच्ची का बैंडेज हटाते वक्त उसके अंगूठे को जख्मी कर देने के आरोप में एक स्थानीय अस्पताल की अज्ञात नर्स के खिलाफ पुलिस केस दर्ज किया गया है। पीड़ित बच्ची की मां का आरोप है कि नर्स ने उनकी बेटी का अंगूठा काट दिया। हालांकि, अस्पताल का कहना है कि बच्ची सिर्फ जख्मी हुई है और उपचार के तौर पर सर्जरी कर दी गई है। यह घटना नगर निगम द्वारा संचालित वी एस अस्पताल में दो जून को हुई।

इसे भी पढ़ें: यात्री को दिल का दौरा पड़ने पर जामनगर वायुसेना स्टेशन पर उतरा एयर इंडिया का विमान

पांच महीने की पीड़ित बच्ची को यहां निमोनिया के इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। बच्ची की मां फरहान बानो ने बुधवार को आरोप लगाया कि एक नर्स ने कैंची से बैंडेज हटाते वक्त दुर्घटनावश उनकी बेटी के बांये हाथ के अंगूठे को काट डाला। बानो ने दावा किया कि घटना के दिन ही सर्जरी के जरिए अंगूठा फिर से जोड़ दिया गया, लेकिन डॉक्टरों ने बताया कि उन्हें इस बात पर पक्के तौर पर यकीन नहीं है कि सर्जरी कामयाब होगी कि नहीं। उन्होंने कहा कि डॉक्टरों ने उनसे अपनी बेटी को किसी बड़े अस्पताल में ले जाने को कहा। बानो ने कहा, ‘‘हम दिहाड़ी मजदूर हैं।

इसे भी पढ़ें: इंटरकांटिनेंटल कप फुटबॉल टूर्नामेंट का दूसरा सत्र अहमदाबाद में खेला जाएगा



हम बड़े अस्पताल में इलाज कराने का खर्च नहीं उठा सकते। मैं अपनी बेटी का अंगूठा पहले की तरह ही देखना चाहती हूं।’’ अस्पताल के रेजिडेंट मेडिकल अधिकारी जितेंद्र परमार ने बताया कि जांच की जाएगी और जिम्मेदार नर्स के खिलाफ कार्रवाई होगी। बहरहाल, परमार ने कहा कि अंगूठा कटा नहीं बल्कि सिर्फ जख्मी हुआ है। उस पर टांके लगा दिए गए और बच्चों में ऐसे जख्म जल्दी भर जाते हैं। एलिसब्रिज पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि : भारतीय दंड संहिता : आईपीसी :की धारा 337 के तहत अस्पताल के अज्ञात कर्मियों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गई है और मामले की जांच जारी है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video