राजस्थान का 'कालू' थाना बना देश का सबसे अच्छा पुलिस स्टेशन

By रेनू तिवारी | Publish Date: Jun 26 2019 6:44PM
राजस्थान का 'कालू' थाना बना देश का सबसे अच्छा पुलिस स्टेशन
Image Source: Google

पुलिस प्रशासन पर खर्च का सरकार अलग बजट बनाती है। उसी के हिसाब से थानों में सुविधाएं दी जाती हैं। सरकार की तरफ से पुलिस स्टाफ का हौसला अफजाई करने के लिए गृह मंत्रालय द्वारा बेहतरीन और सुविधाजनक पुलिस स्टेशनों की लिस्ट जारी की जाती है।

 देश की आर्मी को लोग सम्मान देते हैं, लेकिन बात जब पुलिस वालों की होती है तो बहुत कम ही अच्छा सुनने को मिलता है। अपराध, लड़ाई-झगड़े, विवाद या फिर किसी भी तरह से परेशान होने पर पुलिस में शिकायत की जाती है, पुलिस निपटारा भी करती है लेकिन फिर भी पुलिस की छवि भारत में ज्यादा सम्मानजनक नहीं है। ऐसा क्यों है इस पर सबके अपने अपने तर्क हैं- कोई कहता है सिस्टम ठीक नहीं है, तो कोई कहता है पुलिसवाले सबसे ज्यादा भ्रष्टाचारी होते हैं, कुछ लोगों का मामना है कि पुलिसवालों को बुनियादी सुविधाएं तक नहीं मिलती इसलिए उनकी हालत दयनीय है। बुनियादी सुविधाओं वाली बात पर गौर किया जाए तो ये बात काफी हद तक सही है। मेट्रो सिटी में भी कई ऐसे थाने हैं जहां एक पंखा भी नहीं है। पुलिस वाले भयानक गर्मी में भी काम करते हैं। चौकियों की हालत भी काफी बद्तर है। थाने में स्टाफ की भारी कमी है पुलिसवालों को कई बार एक साथ चार-चार शिफ्टे भी करनी पड़ती हैं। वारदात वाली जगह पर जाने के लिए पर्याप्त मात्रा में पीसीआर की भी कमी है। ऐसे में आप सोच सकते हैं कि दिल्ली-मुंबई जैसे शहरों में पुलिस वालों का यह हाल है तो ग्रामीण क्षेत्रों में हालत क्या होंगे? इन तमाम समस्याओं के बाद भी पुलिसवाले काम करते हैं, देरी होने पर सारा ठीकरा भी पुलिसवालों पर ही फोड़ दिया जाता है। 

इसे भी पढ़ें: कर्ज के बोझ तले मौत पाता अन्नदाता, कर्जमाफी के वादे कितने सही?

पुलिस प्रशासन पर खर्च का सरकार अलग बजट बनाती है। उसी के हिसाब से थानों में सुविधाएं दी जाती हैं। सरकार की तरफ से पुलिस स्टाफ का हौसला अफजाई करने के लिए गृह मंत्रालय द्वारा बेहतरीन और सुविधाजनक पुलिस स्टेशनों की लिस्ट जारी की जाती है। इस बार भी गृह मंत्रालय ने देश के टॉप-टेन पुलिस स्टेशनों की सूची जारी की है। इस सूची में राजस्थान के बीकानेर जिले का कालू पुलिस स्टेशन नंबर वन पर है। इसके अलावा अंडमान-निकोबार द्वीप का कैंपबेल बे थाना दूसरे नंबर पर है। 

इसे भी पढ़ें: राजस्थान में रामकथा के दौरान पंडाल गिरने से 14 की मौत, सीएम ने जताया दुःख



यहां देखें Top-10 सुविधाजनक थानों की लिस्ट-

कालू- बीकानेर, राजस्थान

कैंपबेल बे- निकोबार, अंडमान-निकोबार द्वीप

फरक्का- मुर्शीदाबाद, प. बंगाल

नेट्टापक्कम- पुड्डुचेरी



गुडागेरी- धारवाड़, कर्नाटक

चोपल- शिमला, हिमाचल प्रदेश

लखेरी- बूंदी, राजस्थान

पेरियाकुलम- थेनी, तमिलनाडु



मुंशियारी- पिथौरागढ़, उत्तराखंड

चर्चोरेम- दक्षिण गोवा, गोवा

इस लिस्ट को बनाने के लिए देश के 15,666 पुलिस स्टेशनों का सर्वे किया गया। इन सारे पुलिस स्टेशनों के सर्वे के बाद 87 थानों को छाटा गया जहां रिक्रिएशनल सुविधाएं, महिला हेल्पडेस्क, पीने का पानी, वाई-फाई सर्वर्स आदि मौजूद थी। इन 87 में से दस का चयन किया गया। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video