उत्तर प्रदेश से आयी चौंका देने वाली खबर! TTE ने सेना के जवान को दिया ट्रेन से धक्का, कुचलने के कारण फौजी की मौत

TTE
प्रतिरूप फोटो
ANI
रेनू तिवारी । Nov 24, 2022 3:00PM
पुलिस सूत्रों ने बृहस्पतिवार को बताया कि जयपुर में राजपूत बटालियन में तैनात 31 वर्षीय जवान सोनू सिंह 17 नवंबर को टीटीई सुपन बोरे द्वारा कहासुनी के बाद धक्का दिए जाने के कारण ट्रेन से नीचे गिर गया था।

बरेली। उत्तर प्रदेश से एक चौंकाने वाली खबर में आ रही हैं। बरेली जंक्शन पर यात्री टिकट परीक्षक (टीटीई) द्वारा कथित तौर पर ट्रेन के नीचे धक्का दिए जाने के बाद भारतीय सेना के एक जवान की मौत हो गई। राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) के एक अधिकारी के अनुसार, मृतक की पहचान 31 वर्षीय सोनू सिंह के रूप में हुई है जो उत्तर प्रदेश के बलिया का रहने वाला था। जीआरपी बरेली के प्रभारी निरीक्षक अजीत प्रताप सिंह ने बताया कि गुरुवार 24 नवंबर को पोस्टमार्टम के बाद जवान सूबेदार हरेंद्र कुमार सिंह का शव उसके परिवार को सौंप दिया गया।

इसे भी पढ़ें: Sidhu Moose Wala Murder | पाकिस्तान के इशारे पर की गयी सिद्धू मूसेवाला की हत्या? NIA को लॉरेंस बिश्नोई की 10 दिन की रिमांड मिली 

टीटीई ने ट्रेन से दिया सेना के जवान को धक्का

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में टीटीई के धक्के से ट्रेन से गिरकर गंभीर रूप से घायल हुए फौजी की इलाज के दौरान मौत हो गई है। पुलिस सूत्रों ने बृहस्पतिवार को बताया कि जयपुर में राजपूत बटालियन में तैनात 31 वर्षीय जवान सोनू सिंह 17 नवंबर को टीटीई सुपन बोरे द्वारा कहासुनी के बाद धक्का दिए जाने के कारण ट्रेन से नीचे गिर गया था। उन्होंने बताया कि ट्रेन की चपेट में आने से फौजी का एक पैर कट गया था, जबकि दूसरा पैर बुरी तरह से कुचल गया था। सूत्रों के मुताबिक, सैन्य अस्पताल में डॉक्टरों ने सोनू की तीन बार सर्जरी की, मगर सोमवार को उसका दूसरा पैर भी काटना पड़ा था। इस दौरान वह बेहोश ही रहा और बुधवार शाम उसने दम तोड़ दिया।

इसे भी पढ़ें: मैनपुरी उपचुनाव: केशव मौर्य का अखिलेश पर तंज, जो एक भी सभा नहीं करते थे, वह परिवार सहित घूम रहे हैं गली गली

ट्रेस से नीचे गिरे जवान की मौत

सूत्रों के अनुसार, लगातार बेहोशी में होने के कारण उसका बयान भी दर्ज नहीं किया जा सका। उन्होंने बताया कि जवान की मौत हो जाने के बाद बृहस्पतिवार को आरोपी टीटीई के खिलाफ दर्ज मुकदमे में गैर-इरादतन हत्या की धारा भी शामिल कर दी गई। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने बोरे की तलाश तेज कर दी है। उन्होंने बताया कि फौजी सोनू सिंह के शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद उसे परिजनों को सौप दिया गया है। सेना के स्थानीय सूबेदार हरेंद्र कुमार सिंह द्वारा इस घटना के संबंध में दर्ज कराए गए मुकदमे के मुताबिक, बलिया का रहने वाला जवान सोनू ट्रेन से दिल्ली जा रहा था।

बरेली स्टेशन पर 17 नवंबर को सुबह करीब सवा नौ बजे प्लेटफॉर्म नंबर दो पर उसकी ट्रेन रुकी थी। फौजी पानी की बोतल लेने के लिए स्टेशन पर उतरा था। मुकदमे के अनुसार, वह (सोनू) जब ट्रेन पर चढ़ने लगा तो टीटीई बोरे ने उसे कथित रूप से धक्का दे दिया, जिससे सोनू नीचे गिर गया और ट्रेन की चपेट में आने से उसका एक पैर कट गया और दूसरा बुरी तरह से कुचल गया।

अन्य न्यूज़