जिस Google पर आप पूरा दिन काम करते हो, क्या जानते हो इस सर्च इंजन के बारे में...

जिस Google पर आप पूरा दिन काम करते हो, क्या जानते हो इस सर्च इंजन के बारे में...

गूगल एक अमेरीकी बहुराष्ट्रीय सार्वजनिक कम्पनी है, जिसने इंटरनेट सर्च, क्लाउड कम्प्यूटिंग और विज्ञापन तंत्र में पूँजी लगायी है। यह इंटरनेट पर आधारित कई सेवाएँ और उत्पाद बनाता तथा विकसित करता है और यह मुनाफा मुख्यतया अपने विज्ञापन कार्यक्रम ऐडवर्ड्स से कमाती है।

आज कुछ भी किसी भी चीज के बारें में जानकारी चाहिए होती है तो सबसे पहले कुछ नहीं बस गूगल आता हैं दिमाग में, यहां तक की इस आर्टिकल को लिखते हुए भी मैंने गूगल की जानकारी के लिए गूगल का ही सहारा लिया। आज हर चीज के बारे में जानना हो तो गूगल है हमारे पास- दुनिया की हर चीज की परिभाषा आज इस सर्च इंजन में देख सकते हैं। गूगल न हुआ तो शायद हमारी दुनिया ही थम सी जाए, लेकिन आज जिस गूगल का सहारा लेकर हम धड़ल्ले से जानकारियों की खोज कर रहे हैं उस गूगल के बारे में हम क्या जानते हैं? 

इसे भी पढ़ें: आम लोगों को विरासत से रूबरू कराएगा नया एप ‘सफरनामा’

गूगल क्या है? 

गूगल एक अमेरीकी बहुराष्ट्रीय सार्वजनिक कम्पनी है, जिसने इंटरनेट सर्च, क्लाउड कम्प्यूटिंग और विज्ञापन तंत्र में पूँजी लगायी है। यह इंटरनेट पर आधारित कई सेवाएँ और उत्पाद बनाता तथा विकसित करता है और यह मुनाफा मुख्यतया अपने विज्ञापन कार्यक्रम ऐडवर्ड्स से कमाती है। यह कम्पनी स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से पी॰एच॰डी॰ के दो छात्र लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन द्वारा स्थापित की गयी थी। 1998 में पीएचडी के इन दोनों स्टूडेंट्स के दिमाग में लार्ज स्केल स्केल सर्च इंजन बनाने का आइडिया आया था। इंटरनेट सर्च इंजन के तौर पर आज गूगल सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म है। गूगल को 1998 में लैरी पेज और सर्जी बेन ने बनाया था।

इसे भी पढ़ें: बच्चों की privacy पर Google/YouTube की नज़र, क्या आपका भी निजी डा़टा हो रहा है शेयर?

मार्च 1999 में कम्पनी ने अपने कार्यालयों को पालो अल्टो, कैलिफ़ोर्निया में स्थानान्तरित किया, जो कि कई अन्य बड़ी सिलिकॉन वैली कम्पनियों का ठिकाना है। इसके एक वर्ष बाद पेज और ब्रिन के शुरूआती विमुखता के बावजूद, गूगल ने खोज-शब्दों/संकेतशब्द (Keywords) से जुड़े विज्ञापनों को बेचना शुरू किया। खोज-पृष्ठ को साफ-सुथरा तथा गति बनाये रखने के लिए, विज्ञापन केवल पाठ आधारित थे।

आपको बता दें कि आज गूगल 100 भाषाओं में ऑपरेट कर रहा है। अक्टूबर 2016 तक गूगल के 40 देशों में 70 ऑफिस हैं।