एक ही तारीख पर जन्मे थे राजेश खन्ना और ट्विंकल, पिता के साथ थी बेटी की खास बॉन्डिंग

एक ही तारीख पर जन्मे थे राजेश खन्ना और ट्विंकल, पिता के साथ थी बेटी की खास बॉन्डिंग

राजेश खन्ना बॉलीवुड के दिग्गज कलाकारों में से एक हैं। अपने जमाने के सुपरस्टार रहे राजेश खन्ना और उनकी बेटी ट्विंकल खन्ना का जन्मदिन एक ही तारीख (29 दिंसबर) को पड़ता है। राजेश खन्ना की दो बेटियां है।

राजेश खन्ना बॉलीवुड के दिग्गज कलाकारों में से एक हैं। अपने जमाने के सुपरस्टार रहे राजेश खन्ना और उनकी बेटी ट्विंकल खन्ना का जन्मदिन एक ही तारीख (29 दिंसबर) को पड़ता है। राजेश खन्ना की दो बेटियां है। दोनों के साथ ही राजेश खन्ना की काफी अच्छी बॉन्डिंग थी। बड़ी बेटी ट्विंकल उनकी लाडली थी। राजेश एक पिता के तौर पर ट्विंकल की हर ख्वाहिश को पूरा करते थे।

बेटी के साथ खास था राजेश खन्ना का रिश्ता 

कहते है कि ट्विंकल खन्ना को जब अक्षय कुमार से शादी करनी थी तो राजेश खन्ना को खिलाड़ी कुमार कुछ ज्यादा पसंद नहीं थे लेकिन अपनी बेटी के लिए उन्होंने शादी के लिए हां कर दी। राजेश खन्ना को अक्षय कुमार से कोई विवाद नहीं था लेकिन जिस तरह से उस समय अक्षय के नाम कई एक्ट्रेस के साथ जुड़े थे, उस चीज को लेकर पिता अपनी बेटी के लिए चिंतित थे लेकिन अपनी हर शक को दूर करके राजेश खन्ना ने ट्विंकल खन्ना का कन्यादान किया। 

इसे भी पढ़ें: कोरियोग्राफर फराह खान और अभिनेता विक्रांत मेस्सी का सोशल मीडिया अकाउंट हुआ हैक 

ट्विंकल खन्ना अपने पिता से किस तरह प्यार करती थी ये बात उन्होंने फादर्स दे पर एक पोस्ट के जरिए बताई। ट्विंकल खन्ना ने अपनी पोस्ट में एक पुरानी तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा कि मेरे पिता ने मां से मेरे जन्म पर कहा था कि - ये मेरी जिंदगी का बेस्ट गिफ्ट है। मेरे पिता मुझे बहुकत प्यार करते थे उन्होंने कभी भी मुझे बेबी नहीं कहा हमेशा मुझे टीना बाबा कर कर बुलाते थे। इस दुनिया में किसी के अंदर इतनी ताकत नहीं है कि वो मेरा दिल तोड़ सकें लेकिन बस एक मेरे पिता थे जो मेरा दिल तोड़ सकते थे। 

राजेश खन्ना के बारे में 

राजेश खन्ना का अस जतिन खन्ना था। उनका (29 दिसंबर 1942 - 18 जुलाई 2012) एक भारतीय अभिनेता, फिल्म निर्माता और राजनेता थे, जो हिंदी सिनेमा में अपने काम के लिए सबसे ज्यादा जाने जाते हैं। उन्हें भारतीय सिनेमा का "पहला सुपरस्टार" कहा जाता है। उन्होंने लगातार 15 सुपरहिट फिल्में की जिसका रिकॉर्ड आज तक कोई नहीं तोड़ सका हैं। 

उन्होंने 106 सोलो हीरो फिल्में की जिनमें से 97, 1967 और 2013 के बीच रिलीज हुईं। उन्होंने मल्टी स्टार कास्ट के साथ केवल 22 फिल्मों में अभिनय किया। राजेश खन्ना ने प्रमुख नायक के रूप में 127 में से 82 फ़िल्में जिसे समीक्षकों द्वारा प्रशंसित किया गया। इन फिल्मों को उस समय के विभिन्न अख़बारों के फ़िल्म समीक्षकों द्वारा 5 में से 4 स्टार से ऊपर की रेटिंग दी गयी थी।

इसे भी पढ़ें: इरफान खान की लास्ट फिल्म साल 2021 में बड़े पर्दे पर होगी रिलीज, देखना न भूलें 

राजेश खन्ना ने 1966 में फिल्म अखीरी खत से अपनी शुरुआत की, जो 1967 में भारत की पहली आधिकारिक ऑस्कर प्रविष्टि थी।  अपने करियर के दौरान उन्होंने 168 से अधिक फीचर फिल्मों और 12 लघु फिल्मों में अभिनय किया। उन्हें तीन बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का फिल्मफेयर पुरस्कार और चार बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (हिंदी) का बीएफजेए पुरस्कार मिला। 1991 में, उन्हें हिंदी सिनेमा में 26 साल पूरे करने के लिए फिल्मफेयर विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया गया और 2005 में, उन्हें फिल्मफेयर पुरस्कारों की 50 वीं वर्षगांठ पर फिल्मफेयर लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित किया गया। वह 1970 से 1987 तक सबसे अधिक भुगतान पाने वाले भारतीय अभिनेता थे।