नमाजियों के सामने 'जय श्री राम' के नारे लगाने से खफा हुई स्वरा भास्कर, कहा- हिंदू होने पर शर्म आती है

नमाजियों के सामने 'जय श्री राम' के नारे लगाने से खफा हुई स्वरा भास्कर, कहा- हिंदू होने पर शर्म आती है

नमाज के दौरान जय श्री राल के लगाने वाले सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल होने के बाद स्वरा भास्कर ने निराशा व्यक्त की। जिसमें कुछ हिंदू संगठनों ने गुरुग्राम के सेक्टर 12 और सेक्टर 47 में शुक्रवार की नमाज की नमाज को बाधित किया था।

बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर अपने बेबाक बयानों के लिए जानी जाती है। एक्ट्रेस को अक्सर राजनीतिक सहित समाजिक मुद्दों पर बोलते हुए देखा गया हैं। कई बार एक्ट्रेस को अपनी बेबाकी के कारण अलोचनाओं का भी सामना करना पड़ता है। एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने सोशल मीडिया पर अपने ताजा ट्वीट में लिखा है कि उन्हें हिंदू होने पर शर्म आती हैं। स्वरा भास्कर ने एक वीडियो साझा करते हुए ये टिप्पणी दी है।

इसे भी पढ़ें: कृष्ण के बाद अब शिव अवतार में नजर आएंगे अक्षय कुमार, जारी किया OMG 2 का पोस्टर 

स्वरा भास्कर ने एक ट्वीट में कहा कि जब मैं कुछ गुंडों को अन्य धर्मों के लोगों को परेशान करते हुए अपने भगवान के नाम का उपयोग करते देखती हूं, तो मुझे हिंदू होने पर शर्म आती हैं। वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि मुस्लिम समुदाय के कुछ लोग शांतिपूर्वक नमाज अदा कर रहे थे कुछ हिंदुओं ने उनके सामने जय श्री राम के नारे लगाए। यह मेरे भगवान और मेरे हिंदू धर्म का मुझे ऐसे लोगों पर शर्म आती है। मुझे एक हिंदू के रूप में शर्म आती है।

स्वरा भास्कर के इस ट्वीट के बाद उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जाने लगा। शुक्रवार को, स्वरा ने सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल होने के बाद निराशा व्यक्त की थी जिसमें कुछ हिंदू संगठनों ने गुरुग्राम के सेक्टर 12 और सेक्टर 47 में शुक्रवार की नमाज को बाधित किया था। हिंदू संगठनों, जिनमें कथित तौर पर बजरंग दल के सदस्य शामिल थे, ने । 'जय श्री राम' और 'भारत माता की जय' के नारे लगाए थे।

इसे भी पढ़ें: शाहरुख खान के अंगरक्षक ने NCB कार्यालय जाकर सीलबंद लिफाफे में दस्तावेज सौंपे 

स्वरा के ट्वीट के बाद कई नेटिज़न्स उनके समर्थन में सामने आए। एक ट्विटर यूजर ने कहा, धार्मिक असहिष्णुता किसी भी समय से अधिक है। अन्य धर्मों को समझने और यह स्वीकार करने का समय आ गया है कि हम धर्मनिरपेक्ष हैं।

हालांकि, कई ट्विटर यूजर्स ने स्वरा से मतभेद करते हुए कहा कि लोगों को अपने घरों में ही अपने धर्म का पालन करना चाहिए। एक अन्य यूजर ने कहा, "आपको किस बात पर शर्म आ रही है? धर्म का पालन घर पर ही करना चाहिए, न कि सड़कों पर यातायात अवरुद्ध करके और दूसरों को असुविधा पहुंचाकर। ऐसा यूएई में भी नहीं होता है - कोई भी सड़कों या यातायात को अवरुद्ध नहीं करता है।"