खुदरा कारोबार में अगले 3 साल में 20 हजार करोड़ रुपये का बाजार बनने की क्षमता

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 14 2019 6:17PM
खुदरा कारोबार में अगले 3 साल में 20 हजार करोड़ रुपये का बाजार बनने की क्षमता
Image Source: Google

प्रदशर्नी में इन-स्टोर खुदरा कारोबार के मौजूदा 12 हजार करोड़ रुपये से बढ़कर अगले तीन साल में 20 हजार करोड़ रुपये तक पहुंच जाने की क्षमता को रेखांकित किया गया।

नयी दिल्ली। देश में स्टोर के जरिये की जाने वाली खरीदारी (इन स्टोर रिटेल) बदलाव के नये मुहाने पर है और यह पारंपरिक खुदरा कारोबार का भविष्य तय करेगा। इस बाजार के मौजूदा 12 हजार करोड़ रुपये से बढ़कर अगले तीन साल में 20 हजार करोड़ रुपये के हो जाने की क्षमता है। खुदरा क्षेत्र की प्रदर्शनी इन-स्टोर एशिया के 12वें संस्करण में ये बातें कही गयीं हैं।
भाजपा को जिताए

 
प्रदर्शनी का 12वां संस्करण बांबे प्रदर्शनी केंद्र में बृहस्पतिवार से शुरू हुआ। यह 16 मार्च तक चलेगा। प्रदशर्नी में इन-स्टोर खुदरा कारोबार के मौजूदा 12 हजार करोड़ रुपये से बढ़कर अगले तीन साल में 20 हजार करोड़ रुपये तक पहुंच जाने की क्षमता को रेखांकित किया गया।


प्रदर्शनी में छह देशों के 150 प्रदर्शकों के भाग ले रहे हैं। इन-स्टोर एशिया अब यूरोशॉप, मेसे डुसेलडॉर्फ जीएमबीएच का हिस्सा है।इन-स्टोर एशिया के संस्थापक एवं निदेशक वसंत जांते ने कहा, ‘‘इन-स्टोर एशिया खुदरा क्षेत्र को खुदरा डिजाइन, प्रौद्योगिकी, खुदरा प्रदर्शनी और इन-स्टोर विपणन में नये नवोन्मेषी समाधानों और विचारों का फायदा उठाने में मदद करता है। फिजिटल (फिजिकल और डिजिटल) परिस्थिति में बदलाव का नया कारक है और ऑफलाइन अब नया ऑनलाइन है। नये जमाने के स्टोर अब देश के हर कोने में खुलने लगे हैं।’’
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप