इंडियन ओवरसीज बैंक ने MCLR में 0.10% तक की कटौती की

indian-overseas-bank-cuts-mclr-by-0-10
बैंक ने कहा कि उसने एक वर्ष की अवधि वाले ऋण पर सीमांत लागत आधारित ब्याज दर में 0.10 प्रतिशत की कमी की है। यह दर अब 8.70 प्रतिशत है।

नयी दिल्ली। सरकारी क्षेत्र के इंडियन ओवरसीज बैंक ने एक दिन और एक महीने की परिपक्वता अवधि को छोड़कर विभिन्न परिपक्वता अवधि वाले कर्ज पर कोष की सीमांत लागत आधारित दर(एससीएलआर) में 0.10 प्रतिशत तक की कटौती की है। नयी दरें रविवार(10मार्च) से लागू होंगी। बैंक ने कहा कि उसने एक वर्ष की अवधि वाले ऋण पर सीमांत लागत आधारित ब्याज दर में 0.10 प्रतिशत की कमी की है। यह दर अब 8.70 प्रतिशत है। 

इसे भी पढ़ें: औद्योगिक श्रमिकों के लिए जनवरी में खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर 6.6 % रही

इसके अलावा, बैंक ने दो और तीन साल के कर्ज के लिए एमसीएलआर में 0.10 प्रतिशत की कटौती कर के क्रमश:8.80 प्रतिशत और 8.90 प्रतिशत कर दिया है। छह महीने की अवधि के लिए एमसीएलआर को 8.60 प्रतिशत से घटाकर 8.50 प्रतिशत जबकि तीन महीने की अवधि के लिए एमसीएलआर को 8.50 प्रतिशत से घटाकर 8.45प्रतिशत किया है। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़