एनसीएलटी ने टाटा टेलीसर्विसेज के भारती एयरटेल में विलय को मंजूरी दी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 22 2019 3:37PM
एनसीएलटी ने टाटा टेलीसर्विसेज के भारती एयरटेल में विलय को मंजूरी दी
Image Source: Google

इस सौदे में एयरटेल ने घाटे में चल रही टाटा टेलिसविर्सिज के करीब 40,000 करोड़ रुपये के कर्ज में से कुछ भी अपने ऊपर नहीं लिया और न ही इसके लिये कोई नकद भुगतान किया।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) ने घाटे में चल रही टाटा टेलीसर्विसेज के भारती एयरटेल में विलय को मंजूरी दे दी है। इस विलय के लिए दूरसंचार विभाग की स्वीकृति आवश्यक है। भारती एयरटनेल ने बीएसई को दी गयी जानकारी में कहा है, “माननीय राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण, नयी दिल्ली की प्रधान पीठ ने 17 जनवरी, 2019 के अपने आदेश के जरिए टाटा टेलीसर्विसेज लिमिटेड, भारती एयरटेल लिमिटेड और भारती हेक्साकॉम लिमिटेड एवं उनके हितधारकों एवं ऋणदाताओं के बीच व्यवस्था की समग्र योजना को मंजूरी दे दी है।”

इसे भी पढ़ें- गोदावरी-कावेरी नदियों को जोड़ने की परियोजना जल्द शुरु करेगी सरकार: गडकरी

भारती हेक्साकॉम, भारती एयरटेल की अनुषंगी है। घाटे में चल रही टाटा टेलीसर्विसेज ने अक्टूबर, 2017 में भारती एयरटेल में विलय की घोषणा की थी। इस सौदे में एयरटेल ने घाटे में चल रही टाटा टेलिसविर्सिज के करीब 40,000 करोड़ रुपये के कर्ज में से कुछ भी अपने ऊपर नहीं लिया और न ही इसके लिये कोई नकद भुगतान किया।

इसे भी पढ़ें- अभी वैश्विक आर्थिक मंदी का नहीं है कोई खतरा: दावोस प्रतिनिधि

 
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप