Ashes 2021-22 | आस्ट्रेलिया ने पहले एशेज टेस्ट में इंग्लैंड को नौ विकेट से हराया

Ashes 2021-22 Australia beat England by nine wickets in first Ashes Test
नाथन लियोन ने अपना 400वां विकेट हासिल करने के बाद तीन और विकेट अपने नाम पर लिखवाये जिससे आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड की वापसी की उम्मीदों पर पानी फेरकर शनिवार को यहां पहले एशेज टेस्ट क्रिकेट मैच में चौथे दिन ही नौ विकेट से जीत दर्ज की।

ब्रिसबेन। नाथन लियोन ने अपना 400वां विकेट हासिल करने के बाद तीन और विकेट अपने नाम पर लिखवाये जिससे आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड की वापसी की उम्मीदों पर पानी फेरकर शनिवार को यहां पहले एशेज टेस्ट क्रिकेट मैच में चौथे दिन ही नौ विकेट से जीत दर्ज की। इंग्लैंड ने दिन की शुरुआत दो विकेट पर 220 रन से की। लियोन ने चौथे ओवर में ही विकेट लिया जिसके बाद इंग्लैंड की पारी बिखर गयी। उसने 77 रन के अंदर आठ विकेट गंवाये। इंग्लैंड को दूसरी पारी में 297 रन पर रोकने के बाद आस्ट्रेलिया को जीत के लिये केवल 20 रन चाहिए थे जो उसने 5.1 ओवर में सलामी बल्लेबाज के रूप में उतरे एलेक्स कैरी (नौ) का विकेट गंवाकर हासिल कर दिये। मार्कस हैरिस (नाबाद नौ) ने विजयी चौका लगाया।

इसे भी पढ़ें: साल भर निडर होकर चला किसान आंदोलन खत्म! खाली हुए दिल्ली के सभी बॉर्डर, घर वापस लौटे अन्नदाता

लियोन ने डाविड मलान (82) को आउट करके अपना 400वां टेस्ट विकेट लिया और इंग्लैंड की पारी के पतन की शुरुआत की। लियोन 400 विकेट लेने वाले तीसरे आस्ट्रेलियाई गेंदबाज बन गये हैं। उनसे पहले लेग स्पिनर शेन वार्न (708) और तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा (563) ने यह उपलब्धि हासिल की थी। यह 34 वर्षीय ऑफ स्पिनर टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट के मुकाम पर पहुंचने वाले दुनिया के 17वें गेंदबाज बन गये हैं। श्रीलंका के लेग स्पिनर मुथैया मुरलीधरन 800 विकेट लेकर इस सूची में शीर्ष पर हैं। लियोन ने मलान को आउट करके कप्तान जो रूट (89) के साथ उनकी तीसरे विकेट के लिये 162 रन की साझेदारी का भी अंत किया। लियोन ने 91 रन देकर चार विकेट लिये। डेविड वार्नर तीसरे दिन क्षेत्ररक्षण नहीं कर पाये थे और इसलिए वह पारी का आगाज करने के लिये नहीं उतर सकते थे। ऐसे में कैरी को यह जिम्मेदारी निभानी पड़ी। अपने पदार्पण मैच में खेल रहे कैरी ने विकेटकीपर के रूप में रिकार्ड आठ कैच लिये। आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को पहली पारी में 147 रन पर आउट करने के बाद ट्रैविस हेड के 152 रन की मदद से 425 रन बनाकर 278 रन की विशाल बढ़त हासिल की थी।

इसे भी पढ़ें: हमारा काम मंच की तटस्थता, समान अवसर सुनिश्चित करना: प्रतिस्पर्धा आयोग प्रमुख

रूट और मलान ने तीसरे दिन अच्छी बल्लेबाजी करके इंग्लैंड की वापसी की उम्मीद जगायी थी। लेकिन चौथे दिन उनका संघर्ष अधिक देर तक नहीं चला। लियोन की गेंद मलान के बल्ले और पैड से लगकर मार्नस लाबुशेन के सुरक्षित हाथों में चली गयी। रूट अपने कल के स्कोर में केवल तीन रन और जोड़ पाये और उन्होंने दिन के सातवें ओवर में कैमरन ग्रीन की गेंद पर विकेट के पीछे कैच दे दिया। लियोन ने अगले ओवर में ओली पोप (चार) को स्लिप में कैच कराकर स्कोर दो विकेट पर 222 रन से पांच विकेट पर 234 रन कर दिया। विकेट गिरने का क्रम इसके बाद भी जारी रहा। बेन स्टोक्स (14) ने कप्तान पैट कमिन्स की गेंद पर गली में ग्रीन को कैच दिया जबकि जोस बटलर (23) ने जोश हेजलवुड की गेंद पर विकेट के पीछे कैच थमाया।

लियोन ने ओली रोबिनसन (आठ) और फिर मार्क वुड (छह) को पवेलियन भेजा जबकि ग्रीन ने क्रिस वोक्स (16) को कैरी के हाथों कैच कराकर इंग्लैंड की पारी का अंत किया। इंग्लैंड इस तरह से 2010-11 के बाद से आस्ट्रेलिया और 1986 के बाद गाबा में कोई टेस्ट नहीं जीत पाया है। पांच मैचों की श्रृंखला का दूसरा दिन रात्रि टेस्ट मैच गुरुवार से एडीलेड में खेला जाएगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़