मानसिक रूप से मजबूत बन गया हूं, असफलता से डरता नहीं हूं : कुलदीप

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 29, 2022   07:58
मानसिक रूप से मजबूत बन गया हूं, असफलता से डरता नहीं हूं : कुलदीप
ANI Photo.

मैन ऑफ द मैच कुलदीप ने मैच के बाद कहा, ‘‘अब मैं बेहतर और मानसिक रूप से मजबूत गेंदबाज़ बन गया हूं। आप जिन चीजों का सामना कर लेते हो तो फिर उनसे डरते नहीं हो। मुझे अब असफल होने का कोई डर नहीं है।’’

मुंबई| दिल्ली कैपिटल्स की जीत में फिर से अहम भूमिका निभाने वाले बायें हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव ने कहा कि वह अब मानसिक रूप से मजबूत गेंदबाज बन गये हैं और असफलता से घबराते नहीं हैं।

कुलदीप की अपनी पूर्व टीम कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के खिलाफ शानदार गेंदबाजी से दिल्ली ने गुरुवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में चार विकेट से जीत दर्ज की। केकेआर ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर नौ विकेट पर 146 रन बनाये जिसके जवाब में दिल्ली ने 19 ओवर में छह विकेट पर 150 रन बनाये। कुलदीप ने तीन ओवर में 14 रन देकर चार विकेट लिये।

मैन ऑफ द मैच कुलदीप ने मैच के बाद कहा, ‘‘अब मैं बेहतर और मानसिक रूप से मजबूत गेंदबाज़ बन गया हूं। आप जिन चीजों का सामना कर लेते हो तो फिर उनसे डरते नहीं हो। मुझे अब असफल होने का कोई डर नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह मेरे आईपीएल करियर का सबसे अच्छा सत्र है। मैं अपनी क्षमता और कौशल पर विश्वास कर रहा हूं और अपने खेल का आनंद ले रहा हूं। ’’ कुलदीप ने इसके साथ ही कहा कि वह चाहते हैं कि राजस्थान रॉयल्स की तरफ सेखेलने वाले उनके साथी युजवेंद्र चहल सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज को मिलने वाली ‘पर्पल कैप’ हासिल करें।

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे और चहल के बीच में कोई प्रतिस्पर्धा नहीं है। उसने मुझे लगातार प्रोत्साहित किया है। वह मेरे बड़े भाई जैसा है और जब मैं चोटिल भी था तब भी उसने मेरा साथ दिया। मैं दिल से चाहता हूं कि वह (चहल) पर्पल कैप जीते क्योंकि पिछले चार वर्षों में उसने बढ़िया गेंदबाज़ी की है।’’

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत ने कहा के बीच में दो रन के अंदर तीन विकेट गंवाने से उनकी पेशानी पर बल आ गये थे। पंत ने कहा, ‘‘लगातार विकेट गंवाने के बाद हम चिंता कर रहे थे लेकिन हमें लगा कि अगर हम मैच को आखिर तक लेकर जाएंगे तो हमें जीत मिलेगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम अभी अंक तालिका नहीं देख रहे हैं। हमारी नज़र अगले मैच पर हैं। मैं चाहता हूं कि हम अपनी रणनीति पर टिके रहें। ’’ केकेआर के कप्तान श्रेयस अय्यर ने स्वीकार किया कि उनकी टीम ने कम स्कोर बनाया था जिसका बचाव करना आसान नहीं था।

अय्यर ने कहा, ‘‘हमने शुरू में धीमी बल्लेबाज़ी की। गेंद रुककर आ रही थी लेकिन इस पिच पर यह स्कोर छोटा था। हमें देखना होगा कि हम कहां ग़लतियां कर रहे हैं। हमारी सलामी जोड़ी तय नहीं हो पा रही जो हमारे लिये चिंता का विषय है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम अब ज़्यादा बदलाव नहीं कर सकते। हम अपने खिलाड़ियों पर भरोसा जताएंगे।

अगले पांच मैच में हमें बेहतर और आक्रामक क्रिकेट खेलना होगा। तैयारी अच्छी हो रही है लेकिन खिलाड़ियों को अपनी मानसिकता में बदलाव लाना होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।