यूनिस खान ने स्पष्ट किया, हसन अली के साथ बहस के कारण बल्लेबाजी कोच का पद नहीं छोड़ा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 30, 2021   11:08
यूनिस खान ने स्पष्ट किया, हसन अली के साथ बहस के कारण बल्लेबाजी कोच का पद नहीं छोड़ा

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान यूनिस खान ने इन खबरों को खारिज किया है कि बल्लेबाज हसन अली के साथ बहस के बाद उन्होंने राष्ट्रीय टीम के बल्लेबाजी कोच का पद छोड़ा था। यूनिस ने हालांकि अनुबंध से जुड़ी बाध्यताओं का हवाला देकर अपने फैसले के असल कारणों के बारे में खुलासा करने से भी इनकार कर दिया।

कराची। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान यूनिस खान ने इन खबरों को खारिज किया है कि बल्लेबाज हसन अली के साथ बहस के बाद उन्होंने राष्ट्रीय टीम के बल्लेबाजी कोच का पद छोड़ा था। यूनिस ने हालांकि अनुबंध से जुड़ी बाध्यताओं का हवाला देकर अपने फैसले के असल कारणों के बारे में खुलासा करने से भी इनकार कर दिया। यूनिस ने कुछ दिन पहले इस्तीफा दे दिया था लेकिन ना तो उन्होंने और ना ही पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने इसके संदर्भ में कोई स्पष्टीकरण दिया। बाद में मीडिया में आई खबरों में कहा गया कि ट्रेनिंग सत्र के बाद ‘आइस बाथ’ को लेकर अली के साथ बहस के बाद हुई घुटनाओं के कारण यूनिस ने ऐसा किया।

इसे भी पढ़ें: सरकार ने चुनावी बांड की 17वीं किस्त को मंजूरी दी, एक जुलाई से शुरू होगी बिक्री

यूनिस ने ‘जंग’ समाचार पत्र को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘‘मैं स्पष्ट कर देता हूं कि बल्लेबाजी कोच का पद छोड़ने के मेरे फैसले के पीछे का कारण हसन अली के साथ हुई घटना नहीं है। इस पूरे प्रकरण को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हां, ट्रेनर यासिर मलिक ने मुझे हसन अली से बात करने और उन्हें यह समझाने के लिए कहा था कि उन्हें आइस बाथ लेना चाहिए। इसके बाद बहस हुई लेकिन हसन ने बाद में माफी मांग ली और यह मामला खत्म हो गया।’’

इसे भी पढ़ें: शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 200 अंक चढ़ा, निफ्टी 15,800 के पार

यूनिस ने कहा कि उनके इस्तीफा देने का कारण कुछ और था लेकिन वह पीसीबी के साथ अनुबंध से बंधे हुए हैं जो उन्हें छह महीने तक इस मामले में बोलने की स्वीकृति नहीं देता। उन्होंने कहा, ‘‘पाकिस्तान क्रिकेट और पीसीबी के हित में मैंने अब तक इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं की है और हमारी टीम इंग्लैंड का दौरा भी कर रही है। ’’ यूनिस ने कहा कि पीसीबी में कुछ ऐसे लोग हैं जिन्होंने चीजों को लीक करके उनका भरोसा तोड़ा और प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।