1980 के दशक की तुलना में छह गुना तेजी से पिघल रही है अंटार्कटिका में बर्फ

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 15 2019 2:22PM
1980 के दशक की तुलना में छह गुना तेजी से पिघल रही है अंटार्कटिका में बर्फ
Image Source: Google

उन्होंने पाया कि बर्फ बहुत तेजी से पिघल रही है और मानवीय कारणों से होने वाला जलवायु परिवर्तन इसका मुख्य कारण है। अध्ययन के अनुसार अंटार्कटिका में 2009 से हर साल 278 अरब टन बर्फ पिघल रही है, जबकि 1980 के दशक में 44 अरब टन बर्फ पिघल रही थी।

वाशिंगटन। अंटार्कटिका में बर्फ 1980 की तुलना में छह गुना तेजी से पिघल रही है। एक नए अध्ययन में यह खुलासा हुआ है। वैज्ञानिकों ने ऊपर से ली गई तस्वीरों, उपग्रह माप और कंप्यूटर मॉडल का इस्तेमाल कर यह पता लगाया कि 1979 से अंटार्कटिका पर बर्फ कैसे पिघल रही है।

इसे भी पढ़ें- चीन, रूस, जापान और भारत के साथ संबंध रखना अच्छा है: डोनाल्ड ट्रंप

उन्होंने पाया कि बर्फ बहुत तेजी से पिघल रही है और मानवीय कारणों से होने वाला जलवायु परिवर्तन इसका मुख्य कारण है। अध्ययन के अनुसार अंटार्कटिका में 2009 से हर साल 278 अरब टन बर्फ पिघल रही है, जबकि 1980 के दशक में 44 अरब टन बर्फ पिघल रही थी।

इसे भी पढ़ें- डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी का तुर्की ने दिया मुंहतोड़ जवाब





बर्फ पिघलने की हालिया औसत दर पिछले साल के मुकाबले 15 प्रतिशत अधिक है। कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में वैज्ञानिक एरिक रिगटन ने बताया कि उपग्रह आधारित अध्ययन में बड़ा अंतर यह दिखाई दिया कि स्थिर समझे जाने वाले पूर्वी अंटार्कटिका में भी एक वर्ष में 56 अरब टन बर्फ पिघल रही है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप