भारत, मालदीव ने शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग के लिए अहम समझौते पर हस्ताक्षर किए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 27, 2022   09:17
भारत, मालदीव ने शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग के लिए अहम समझौते पर हस्ताक्षर किए

राष्ट्रीय ज्ञान नेटवर्क बहु-गीगाबाइट राष्ट्रीय अनुसंधान और शिक्षा नेटवर्क है, जिसका उद्देश्य भारत में शिक्षा तथा अनुसंधान संस्थानों के लिए एकीकृत उच्च गति वाला नेटवर्क मुहैया कराना है। इस नेटवर्क की देखरेख राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) करता है।

माले,| विदेश मंत्री एस. जयशंकर और मालदीव के उनके समकक्ष अब्दुल्ला शाहिद ने शनिवार को माना कि क्षमता निर्माण और प्रशिक्षण के क्षेत्रों में प्रगति हुई है।

दोनों देशों ने एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के साथ ही भारत के राष्ट्रीय ज्ञान नेटवर्क (एनकेएन) और मालदीव के हायर एजुकेशन नेटवर्क के बीच संपर्क के लिए मार्ग प्रशस्त किया।

राष्ट्रीय ज्ञान नेटवर्क बहु-गीगाबाइट राष्ट्रीय अनुसंधान और शिक्षा नेटवर्क है, जिसका उद्देश्य भारत में शिक्षा तथा अनुसंधान संस्थानों के लिए एकीकृत उच्च गति वाला नेटवर्क मुहैया कराना है। इस नेटवर्क की देखरेख राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) करता है।

जयशंकर ने यहां वार्ता के बाद मालदीव के विदेश मंत्री शाहिद के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘विदेश मंत्री शाहिद और मैंने क्षमता निर्माण और प्रशिक्षण के क्षेत्रों में की गयी प्रगति को स्वीकार किया।

समझौते पर हस्ताक्षर के साथ ही सिंगापुर, यूरोप और अमेरिका से 1500 से अधिक भारतीय संस्थान, विश्वविद्यालय और केंद्र भारत के राष्ट्रीय ज्ञान नेटवर्क के जरिए मालदीव से जुड़ गए हैं।’’

शाहिद ने कहा कि मालदीव के राष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी केंद्र और एनआईसी के बीच हस्ताक्षरित समझौता शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग के लिए महत्वपूर्ण कदम है, जिससे ‘‘मालदीव के हायर एजुकेशन नेटवर्क और भारत के नेशनल नॉलेज नेटवर्क के बीच संपर्क का मार्ग प्रशस्त हो गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।