जब अफगानिस्तानी पत्रकार के भारत से जुड़े सवालों पर फंस गए पाक विदेश मंत्री कुरैशी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 22, 2021   21:47
जब अफगानिस्तानी पत्रकार के भारत से जुड़े सवालों पर फंस गए पाक विदेश मंत्री कुरैशी

अपने देश के विकास के लिए अफगानिस्तानी सरकार भारत की राह ताक रही है लेकिन पाकिस्तान को ये खल रहा है। ऐसे में अब हाल में पाक के विदेश मंत्री महमूद शाह कुरैशी का अफगानिस्तान के एक चैनल ने इंटरव्यू लिया।

अफगानिस्तान और पाकिस्तान के आपसी संबंध काफी मधुर हैं। हाल ही में पाकिस्तान ने सीआईए को अपनी जमीन का इस्तेमाल करने देने से भी इंकार कर दिया। दरअसल अमेरिका अपने खुफिया मिशन को पाकिस्तान के एयर बेस से अंजाम देना चाहता था लेकिन लाख कोशिशों के बावजूद भी पाक नहीं माना। वहीं यह भी माना जा रहा है कि अफगानिस्तान में मौजूद अमेरिका और नाटो के सैनिक 11 सितंबर 2021 तक वापस लौट जाएंगे। अपने देश के विकास के लिए अफगानिस्तानी सरकार भारत की राह ताक रही है लेकिन पाकिस्तान को ये खल रहा है। ऐसे में अब हाल में पाक के विदेश मंत्री महमूद शाह कुरैशी का अफगानिस्तान के एक चैनल ने इंटरव्यू लिया। 

पाकिस्तान के खिलाफ अफगानिस्तानी धरती के इस्तेमाल से दिक्कत

इस इंटरव्यू के दौरान महमूद शाह कुरैशी भारत से जुड़े सवालों पर फंसते नजर आए। इस बातचीत के कई वीडियो क्लिप ट्विटर पर चैनल ने शेयर किए हैं। इस इंटरव्यू के दौरान कुरैशी ने अफगानिस्तान में भारत की मौजूदगी को लेकर सवाल खडे किए। चैनल के वरिष्ठ पत्रकार के एक सवाल पर महमूद शाह कुरैशी ने कहा कि भारत और अफगानिस्तान के द्विपक्षीय रिश्ते हैं। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच व्यवसायिक संबंधों से भी पाकिस्तान को कोई दिक्कत नहीं है लेकिन उन्हें लगता है कि अफगानिस्तान में भारत की मौजूदगी जरुरत से ज्यादा हो रही है। इसके बाद पत्रकार ने ऐसा सवाल पूछा जिसपर कुरैशी ने साफतौर पर आपत्ति जताई। दरअसल पत्रकार ने पूछा कि क्या आपको भारत की अफगानिस्तान में मौजूदगी से कोई परेशानी है? इस पर कुरैशी ने कहा कि अगर अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल पाकिस्तान के खिलाफ होगा तो उन्हें आपत्ति है। 

तालिबानी नेता से जुड़े सवाल पर परेशान हुए कुरैशी

आगे पत्रकार ने पूछा कि क्या भारत ने ऐसा किया है इस सवाल पर कोई जवाब देने की जगह कुरैशी मुस्कुराने लगे। कुरैशी से इंटरव्यू के दौरान पूछा गया कि भारत के अफगानिस्तान में कितने वाणिज्य दूतावास हैं। इस पर उन्होंने कहा कि आधिकारिक तौर पर तो 4 हैं लेकिन अनाधिकारिक रुप से कितने हैं यह तो अफगानिस्तान ही बता सकता है। अफगानिस्तानी पत्रकार के तालिबानी नेता से जुड़े सवाल पूछे जाने पर कुरैशी थोड़ा परेशान नजर आए। पत्रकार ने पूछा क्या तालिबानी नेता हैबतुल्लाह अखुंदजादा, मुल्ला याकूब या सिराजुद्दानी हक्कानी पाकिस्तान में नही हैं? इसपर उन्होंने कहा कि ये सवाल अपने देश की सरकार से पूछें लेकिन इस जवाब पर पत्रकार ने उन्हें टोका और कहा कि मई में तालिबानी नेता शेख अब्दुल हकीम अफगानिस्तान में अपने नेताओं से मिलने आए थे तो उन्होंने सार्वजनिक तौर पर कहा कि वो पाकिस्तान आए हैं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...