जेल में बंद जूलयिन असांजे की हालत नाजूक, 60 से ज्यादा डॉक्टरों ने ब्रिटेन सरकार को लिखा पत्र

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 25, 2019   12:14
जेल में बंद जूलयिन असांजे की हालत नाजूक, 60 से ज्यादा डॉक्टरों ने ब्रिटेन सरकार को लिखा पत्र

चिकित्सकों ने गृह सचि़व प्रीति पटेल और ब्रिटेन के गृह मंत्रालय को लिखे पत्र में असांजे को दक्षिणपूर्व लंदन के बेलमार्श जेल से विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल में भर्ती कराने का अनुरोध किया है।

लंदन। विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे के स्वास्थ्य को लेकर 60 से अधिक डॉक्टरों ने एक खुला पत्र लिखा है और उसकी नाजुक हालत को लेकर चिंता जताते हुए उसके ब्रिटेन की जेल में दम तोड़ देने की आशंका व्यक्त की है। उल्लेखनीय है कि असांजे जासूसी के आरोपों में अमेरिका प्रत्यर्पित किये जाने की मांग के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं। जासूसी अधिनिधयम के तहत दोषी पाए जाने पर उन्हें अमेरिकी जेल में 175 साल बिताने पड़ सकते हैं।

चिकित्सकों ने गृह सचि़व प्रीति पटेल और ब्रिटेन के गृह मंत्रालय को लिखे पत्र में असांजे को दक्षिणपूर्व लंदन के बेलमार्श जेल से विश्वविद्यालय शिक्षण अस्पताल में भर्ती कराने का अनुरोध किया है। चिकित्सक इस निष्कर्ष पर लंदन में 21 अक्टूबर को असांजे की अदालत में पेशी और एक नवम्बर को जारी हुई निल्स मेल्जर की रिपोर्ट के आधार पर पहुंचे है।

इसे भी पढ़ें: ब्रिटेन जाने के लिए रेफ्रिजरेटर कंटेनर में छिपे थे 25 लोग, नीदरलैंड में उतारे गए

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के स्वतंत्र विशेषज्ञ ने कहा कि असांजे का जिस तरह से उत्पीड़न किया जा रहा है वह उनके जीवन के लिए घातक हो सकता है। डॉक्टरों ने 16 पृष्ठों के इस खुले पत्र में कहा कि हमने चिकित्सक के तौर पर यह पत्र जूलियन असांजे के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के बारे में हमारी गंभीर चिंताओं को व्यक्त करने के लिए लिखा है। उन्होंने लिखा कि असांजे के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को देखते हुए उन्हें तत्काल विशेषज्ञ चिकित्सा की आवश्यकता है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।