• विदेश यात्रा करना है? वेक्सीनेशन सर्टिफिकेट को पासपोर्ट से लिंक कराना होगा जरूरी!

टीओआई की एक खबर के मुताबिक, जून महीने की शुरूआत में ही भारत सरकार ने कोरोना टीकाकरण के लिए नए गाइडलाइंस की घोषणा की थी, जिसमें यह कहा गया था कि एजुकेशन, नौकरी या तोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए भारतीय विदेश यात्रा करने वालों को अपना वेक्सीनेशन सर्टिफिकेट अपने पासपोर्ट से लिंक कराना होगा।

बढ़ते कोरोना महामारी के साथ टीकाकरण की प्रक्रिया भी तेजी से बढ़ रही है। बता दें कि वैक्सीन लगने के साथ ही लोगों को डिजिटल सर्टिफिकेट भी साथ ही साथ प्रदान किया जा रहा है। आपको बता दें कि जल्द ही अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रतिबंधों में ढील दे दी जाएगी जिसके लिए आपको यात्रा के समय कोरोना वैक्सीन का सर्टिफिकेट दिखाना अनिवार्य होगा। इसके जरिए यह पता लगया जाएगा कि आपको कोरोना का टीका लगया गया है या नहीं।

टीओआई की एक खबर के मुताबिक, जून महीने की शुरूआत में ही भारत सरकार ने कोरोना टीकाकरण के लिए नए गाइडलाइंस की घोषणा की थी, जिसमें यह कहा गया था कि एजुकेशन, नौकरी या तोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए भारतीय विदेश यात्रा करने वालों को अपना वेक्सीनेशन सर्टिफिकेट अपने पासपोर्ट से लिंक कराना होगा। जानकारी के मुताबिक, अब को-विन ऐप में पासपोर्ट नंबर को वेकेशन सर्टिफिकेट से लिंक करने के लिए कहा गया है। इसकी घोषणा आरोग्य सेतु के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के जरिए की गई है।

इसे भी पढ़ें: बड़ा फैसला, राजनयिकों की सुरक्षा के लिए 650 अमेरिकी सैनिक अफगानिस्तान में बने रहेंगे

यहां जानिए आप अपने वैक्सीन सर्टिफिकेट में अपना पासपोर्ट नंबर कैसे जोड़ सकते हैं?

1- Cowin.gov.in पर लॉग इन करें। 

2-अपना यूजर नेम और पासवर्ड डाले। 

3-  रेस ईसु को सेलेक्ट करें।

4- पासपोर्ट ऑप्शन चुनें।

5- ड्रॉप डाउन मेनू से व्यक्ति का चयन करें।

6-  पासपोर्ट नंबर दर्ज करें।

7- सबमिट कर दें। 

बता दें कि आरोग्य सेतु ने अपने एक ट्वीट में कहा कि, यदि पासपोर्ट और वैक्सीन प्रमाण पत्र में नाम मिसमैच हो रहे है, तो नाम सुधार के लिए अनुरोध करने का भी प्रावधान इसमें शामिल होगा।आपको बता दें कि पासपोर्ट नंबर दर्ज करना और नाम बदलने का अनुरोध केवल एक बार किया जा सकता है, इसलिए अपनी डिटेल्स डालने में कोई गलती न हो।