ब्रिटेन के PM ने ऐतिहासिक ब्रेक्जिट समझौते पर किए हस्ताक्षर, समझौते को बताया नई शुरूआत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 31, 2020   11:01
ब्रिटेन के PM ने ऐतिहासिक ब्रेक्जिट समझौते पर किए हस्ताक्षर, समझौते को बताया नई शुरूआत

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने ऐतिहासिक ब्रेक्जिट समझौते पर हस्ताक्षर किए है।यूरोपीय परिषद अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल और यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने इस दस्तावेज पर बुधवार सुबह हस्ताक्षर किए जिसके बाद दस्तावेज को रॉयल एयर फोर्स (आरएएफ) के विमान से लंदन लाया गया।

अदिति खन्ना लंदन। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने बुधवार को यूरोपीय संघ (ईयू) के साथ ब्रेक्जिट व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किए। उससे पहले संसद सदस्यों ने इससे संबंधित प्रस्ताव के समर्थन में भारी मतदान किया। प्रस्ताव को 73 के मुकाबले 521 मतों से मंजूरी मिली। जॉनसन ने कहा, जिस संधि पर मैंने अभी हस्ताक्षर किए हैं, यह समापन नहीं है, बल्कि नयी शुरुआत है और मेरे ख्याल से ब्रिटेन और ईयू में हमारे दोस्तों और साझेदारों के बीच शानदार रिश्तों की शुरूआत होगी। यूरोपीय परिषद अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल और यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने इस दस्तावेज पर बुधवार सुबह हस्ताक्षर किए जिसके बाद दस्तावेज को रॉयल एयर फोर्स (आरएएफ) के विमान से लंदन लाया गया।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका ने भारत में स्थित कॉल सेटरों से चल रहीं धोखधड़ी योजना पर लगाया प्रतिबंध

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने यूरोपीय संघ (ईयू) से अलग होने के तहत हुए मुक्त व्यापार समझौता (एफटीए) को संसदीय मंजूरी दिलाने के लिए क्रिसमस की छुट्टियों के बाद बुधवार को संसद का सत्र बुलाया था ताकि अगले साल एक जनवरी को ईयू से भविष्य में होने वाले संबंधों के लिए प्रभावी हो रहा कानून संसदीय मंजूरी के साथ सभी बाधाएं पार कर जाए। ब्रेक्जिट के लिए 31 दिसंबर तक की समय सीमा से महज कुछ समय पहले बनी सहमति के बाद 80 पन्नों का विधेयक संसद में पेश किया गया। इस पर पहले हाउस ऑफ कॉमन्स में सांसदों ने चर्चा की और उसके बाद विधेयक पर हाउस ऑफ लार्ड में चर्चा हुयी। जॉनसन ने सांसदों से ‘ऐतिहासिक विधेयक’ का समर्थन करने का आह्वान किया था। उन्होंने कहा कि यह ब्रिटेन की यूरोपीय पड़ोसियों के साथ दरार नहीं बल्कि समाधान है। दोनों सदनों से पारित होने के बाद विधेयक को ब्रिटेन की रानी के पास भेजा जाएगा ताकि उनकी मंजूरी मिल सके।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।