UP में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 165 नये मामले आये, अब तक 3 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज लगाई गई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 30, 2021   21:20
UP में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 165 नये मामले आये, अब तक 3 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज लगाई गई

प्रदेश में अब तक सर्विलांस टीम के माध्यम से 3,58,42,378 घरों के 17,23,05,501 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में 2,67,41,158 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 44,68,894 लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। अब तक कुल 3,12,10,052 डोजें लगायी गयी हैं।

मुख्यमंत्री के 3टी ट्रेस, ट्रैक और ट्रीट अभियान के साथ-साथ आशिंक कोरोना कफ्र्यू तथा टीकाकरण से प्रदेश में कोरोना का संक्रमण कम हो रहा है। आंशिक कोरोना कफ्र्यू के समय से प्रदेश में अभिनव प्रयोग करते हुए जीवन और जीविका बचाने के उद्देश्य से औद्योगिक, आर्थिक गतिविधियां, चीने मिले और गेहूॅ खरीद चालू रही। सर्विलांस के माध्यम से निगरानी समितियों द्वारा ट्रेसिंग के तहत घर-घर जाकर संक्रमण की जानकारी ली। ग्रामीण पंचायतों में 5 मई, 2021 से एक विशेष अभियान चलाकर, जिसमें निगरानी समितियों द्वारा घर-घर जाकर उन लोगों का जिनमें किसी प्रकार के संक्रमण के लक्षण होने पर उनका एन्टीजन टेस्ट भी कराया जा रहा है। प्रदेश में सरकारी अस्पतालों तथा सरकार द्वारा अधिग्रहीत अस्पतालों में कोविड-19 टेस्ट, इलाज और दवाइयां निःशुल्क सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक लगभग 17.22 करोड़ से अधिक लोगों से उनका हालचाल जाना गया। मुख्यमंत्री के निर्देशन में जिन प्रदेशों में डेल्टा प्लस संक्रमण है, उन प्रदेशों से आने वाले लोगों की निगरानी, टेस्टिंग तथा उनकी जीनोम सिक्वेंसिंग भी करवायी जा रही है। मुख्यमंत्री की 3टी फार्मूले के कारण प्रदेश में कोविड-19 का संक्रमण नियंत्रण में आ रहा है, जबकि अन्य प्रदेशों में कोविड के केस ज्यादा आ रहे हैं। सभी लोग सावधानी बरते, प्रदेश में कोविड संक्रमण कम हुआ है लेकिन अभी पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है इसलिए सभी लोग कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए मास्क पहने तथा सामाजिक दूरी का पालन करे। 5,000 नए सब हेल्थ सेंटर स्थापित करने की प्रक्रिया प्रारम्भ हो गयी है, जिसे दो माह में बनाकर इन सेंटरों में स्टाफ की तैनाती की जायेगी। सब हेल्थ सेंटर के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मिलेगा, लोगों को त्वरित चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध कराने में उपयोगी सिद्ध होंगे। वर्तमान में प्रदेश में 18 हजार से अधिक सब हेल्थ सेंटर संचालित हैं, इसे बढ़ाकर 30,000 करने का लक्ष्य रखा गया। 

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये है कि प्रदेश के सभी जनपदों की सीएचसी और पीएचसी में उपकरणों की मरम्मत, क्रियाशीलता, परिसर की रंगाई-पुताई, स्वच्छता कार्यक्रम चलाया जाए। मुख्यमंत्री ने कोरोना के कारण निराश्रित हुईं महिलाओं की आजीविका के लिए समुचित प्रबंध करने के निर्देश दिये है जिसके क्रम में निराश्रित महिलाओं के आर्थिक उन्नयन के लिए राज्य सरकार सभी आवश्यक व्यवस्थाएं करायी जायेंगी। मुख्यमंत्री ने बाल सेवा योजना की तर्ज पर महिला एवं बाल विकास विभाग ऐसी महिलाओं के संबंध में भी विस्तृत कार्ययोजना तैयार करने को कहा गया है। निराश्रित महिला पेंशन के लिए अर्ह महिलाओं को पेंशन वितरण के लिए ब्लॉक/न्याय पंचायत स्तर पर विशेष शिविर आयोजित किए जायेंगे। राजस्व विभाग द्वारा ऐसी महिलाओं को प्राथमिकता के साथ नियमानुसार पारिवारिक उत्तराधिकार लाभ दिलाया जाना सुनिश्चित किया जायेगा। गंगा एक्सप्रेस वे के लिए भूमि के क्रय सहित अन्य सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को तेजी से किया जा रहा है, अब तक 63,362 किसानों से 5,261 हेक्टेयर भूमि क्रय की जा चुकी है। मिशन रोजगार के माध्यम से रोजगार देने का कार्य किया जा रहा है। निजी क्षेत्र में एमएसमएई के माध्यम से अधिक से अधिक रोजगार सृजित किया जा रहा है। 23 जून को मुख्यमंत्री जी द्वारा लगभग 31 हजार नई इकाइयों को बैंकों से समन्वय करके लगभग 2505 करोड़ से अधिक ऋण उपलब्ध कराया गया। नई इकाइयों से अधिक से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे।

सरकारी नौकरियों में लोगों को नौकरी देने के लिए निगमों, परिषदों, विभागों आदि के यहां रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया चल रही है। प्रदेश सरकार किसानों के हितों के लिए कृतसंकल्प है। रबी की फसल में सरकारी क्रय केन्द्रों पर गेहूँ की रिकार्ड खरीद की गई। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीद किसानों से की गई है। खरीफ की फसल के लिए खाद, बीज उपलब्ध कराया जा रहा है। गत एक दिन में कुल 2,57,818 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में अब तक कुल 5,78,44,027 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 165 नये मामले आये हैं। प्रदेश में विगत 24 घंटे में 292 लोग तथा अब तक 16,80,720 लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के कुल 2,796 एक्टिव मामले हैं, जिनमें से 1,810 लोग होम आइसोलेशन में हैं। प्रदेश में रिकवरी रेट 98.5 प्रतिशत है। सर्विलांस की कार्यवाही निरन्तर चल रही है। प्रदेश में अब तक सर्विलांस टीम के माध्यम से 3,58,42,378 घरों के 17,23,05,501 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में 2,67,41,158 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 44,68,894 लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। अब तक कुल 3,12,10,052 डोजें लगायी गयी हैं।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने करीब सौ विधान सभा सीटों के लिए तय किए प्रत्याशियों के नाम

अपर मुख्य सचिव ‘सूचना’ नवनीत सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री के 3टी ट्रेस, ट्रैक और ट्रीट अभियान के साथ-साथ आशिंक कोरोना कफ्र्यू तथा टीकाकरण से प्रदेश में कोरोना का संक्रमण कम हो रहा है। आंशिक कोरोना कफ्र्यू के समय से प्रदेश में अभिनव प्रयोग करते हुए जीवन और जीविका बचाने के उद्देश्य से औद्योगिक, आर्थिक गतिविधियां, चीने मिले और गेहूॅ खरीद चालू रही। उन्होंने बताया कि सर्विलांस के माध्यम से निगरानी समितियों द्वारा ट्रेसिंग के तहत घर-घर जाकर संक्रमण की जानकारी ली जा रही है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण पंचायतों में 5 मई, 2021 से एक विशेष अभियान चलाकर, जिसमें निगरानी समितियों द्वारा घर-घर जाकर उन लोगों का जिनमें किसी प्रकार के संक्रमण के लक्षण होने पर उनका एन्टीजन टेस्ट भी कराया जा रहा है। प्रदेश में सरकारी अस्पतालों तथा सरकार द्वारा अधिग्रहीत अस्पतालों में कोविड-19 टेस्ट, इलाज और दवाइयां निःशुल्क हैं। उन्होंने बताया कि सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक लगभग 17.22 करोड़ से अधिक लोगों से उनका हालचाल जाना गया है। सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशन में जिन प्रदेशों में डेल्टा प्लस संक्रमण है, उन प्रदेशों से आने वाले लोगों की निगरानी, टेस्टिंग तथा उनकी जीनोम सिक्वेंसिंग भी करवायी जा रही है। मुख्यमंत्री जी की 3टी फार्मूले के कारण प्रदेश में कोविड-19 का संक्रमण नियंत्रण में आ रहा है, जबकि अन्य प्रदेशों में कोविड के केस ज्यादा आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी लोग सावधानी बरते, प्रदेश में कोविड संक्रमण कम हुआ है लेकिन अभी पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए सभी लोग कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए मास्क पहने तथा सामाजिक दूरी का पालन करे।

इसे भी पढ़ें: जिला पंचायत अध्यक्षः बागपत में हाईवोल्टेज ड्रामा, अज्ञात महिला वापस ले गई रालोद प्रत्याशी का नामांकन

सहगल ने बताया कि 5,000 नए सब हेल्थ सेंटर स्थापित करने की प्रक्रिया प्रारम्भ हो गयी है। जिसे दो माह में बनाकर इन सेंटरों में स्टाफ की तैनाती की जायेगी। इन सब हेल्थ सेंटर के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मिलेगा। लोगों को त्वरित चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध कराने में उपयोगी सिद्ध होंगे। वर्तमान में प्रदेश में 18 हजार से अधिक सब हेल्थ सेंटर संचालित हैं। इसे बढ़ाकर 30,000 करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिये है कि प्रदेश के सभी जनपदों की सीएचसी और पीएचसी में उपकरणों की मरम्मत, क्रियाशीलता, परिसर की रंगाई-पुताई, स्वच्छता कार्यक्रम चलाया जाए। इसके साथ-साथ मुख्यमंत्री जी ने कोरोना के कारण निराश्रित हुईं महिलाओं की आजीविका के लिए समुचित प्रबंध करने के निर्देश दिये है जिसके क्रम में निराश्रित महिलाओं के आर्थिक उन्नयन के लिए राज्य सरकार सभी आवश्यक व्यवस्थाएं करायी जायेंगी। मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की तर्ज पर महिला एवं बाल विकास विभाग ऐसी महिलाओं के संबंध में भी विस्तृत कार्ययोजना तैयार करने को कहा गया है। इसके अलावा, निराश्रित महिला पेंशन के लिए अर्ह महिलाओं को पेंशन वितरण के लिए ब्लॉक/न्याय पंचायत स्तर पर विशेष शिविर आयोजित किए जायेंगे। राजस्व विभाग द्वारा ऐसी महिलाओं को प्राथमिकता के साथ नियमानुसार पारिवारिक उत्तराधिकार लाभ दिलाया जाना सुनिश्चित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि गंगा एक्सप्रेस वे के लिए भूमि के क्रय सहित अन्य सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को तेजी से किया जा रहा है। अब तक 63,362 किसानों से 5,261 हेक्टेयर भूमि क्रय की जा चुकी है।

सहगल ने बताया कि मिशन रोजगार के माध्यम से रोजगार देने का कार्य किया जा रहा है। निजी क्षेत्र में एमएसमएई के माध्यम से अधिक से अधिक रोजगार सृजित किया जा रहा है। 23 जून को मुख्यमंत्री जी द्वारा लगभग 31 हजार नई इकाइयों को बैंकों से समन्वय करके लगभग 2505 करोड़ से अधिक ऋण उपलब्ध कराया गया। इन नई इकाइयों से अधिक से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। उन्होंने बताया कि सरकारी नौकरियों में लोगों को नौकरी देने के लिए निगमों, परिषदों, विभागों आदि के यहां रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया चल रही है। सहगल ने बताया कि प्रदेश सरकार किसानों के हितों के लिए कृतसंकल्प है। रबी की फसल में सरकारी क्रय केन्द्रों पर गेहूँ की रिकार्ड खरीद की गई है। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूँ खरीद किसानों से की गई है। खरीफ की फसल के लिए खाद, बीज उपलब्ध कराया जा रहा है। अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि गत एक दिन में कुल 2,57,818 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में अब तक कुल 5,78,44,027 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 165 नये मामले आये हैं। प्रदेश में विगत 24 घंटे में 292 लोग तथा अब तक 16,80,720 लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के कुल 2,796 एक्टिव मामले हैं, जिनमें से 1,810 लोग होम आइसोलेशन में हैं। प्रदेश में रिकवरी रेट 98.5 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि सर्विलांस की कार्यवाही निरन्तर चल रही है। प्रदेश में अब तक सर्विलांस टीम के माध्यम से 3,58,42,378 घरों के 17,23,05,501 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में 2,67,41,158 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 44,68,894 लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। अब तक कुल 3,12,10,052 डोजें लगायी गयी हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...