UPTET पेपर लीक मामले में लखनऊ से प्रयागराज तक एक्शन, CM योगी ने दोषियों की संपत्ति जब्त करने का दिया निर्देश

UPTET पेपर लीक मामले में लखनऊ से प्रयागराज तक एक्शन, CM योगी ने दोषियों की संपत्ति जब्त करने का दिया निर्देश

यूपीटीईटी परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद रद्द किए जाने पर उत्तर प्रदेश के एडीजी क़ानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों से हमने अब तक 23 लोगों को गिरफ़्तार किया है। इनके पास से परीक्षा पत्र की फोटोकॉपी मिली है।

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा 2021 का पेपर लीक होने की वजह से परीक्षा को रद्द कर दिया गया है। यह पेपर सोशल मीडिया पर गाजियाबाद, मथुरा, बुलंदशहर में वायरल हो रहा था। पेपर लीक होने की खबर आने के बाद से ही विपक्षी दलों की तरफ से यूपी सरकार पर निशाना साधा जा रहा था। पुलिस ने लखनऊ से प्रयागराज तक छापामारी जारी रखी। पुलिस ने इस मामले में प्रश्न पत्र लीक करने वाले गिरोह के 23 सदस्यों को राज्‍य के विभिन्‍न जिलों से गिरफ्तार किया है। वहीं योगी सरकार ने कहा “दोषियों के विरुद्ध गैंगस्टर ऐक्ट के तहत मामला दर्ज कर उनकी संपत्ति भी जब्त की जाएगी।

एक्शन मोड में पुलिस 

यूपीटीईटी परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद रद्द किए जाने पर उत्तर प्रदेश के एडीजी क़ानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों से हमने अब तक 23 लोगों को गिरफ़्तार किया है। इनके पास से परीक्षा पत्र की फोटोकॉपी मिली है। परीक्षा को एक महीने के अंदर फिर से कराई जाएगी। जो लोग पकड़े गए हैं उसमें कुछ लोग बिहार, लखनऊ, मेरठ, गोरखपुर और वाराणसी से हैं, जांच जारी है। परीक्षार्थियों से परिवहन में कोई पैसे नहीं लिए जाएंगे। बच्चे एडमिट कार्ड दिखाकर परीक्षा केंद्र तक पहुंच सकते हैं उनसे पैसे नहीं लिए जाएंगे।

इसे भी पढ़ें: बेटों ने ठुकराया तो आगरा के बुजुर्ग ने सबक सिखाने के लिए अनोखा कदम उठाया, DM के नाम कर दी करोड़ों की जायदाद

संपत्ति जब्त की जाएगी

यूपी टीईटी पेपर लीक मामले पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि पेपर लीक करने वालों की संपत्ति जब्त की जाएगी। दोषियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई होगी। सीएम योगी ने कहा कि बच्चों के भविष्य के साथ नहीं होने देंगे खिलवाड़। बता दें कि सीएम योगी आज उत्तर प्रदेश के देवरिया का दौरा किया। वहां उन्होंने अपने संबोधन के दौरान उन्होंने टीईटी की होने वाली परीक्षा से पहले पेपर लीक होने के मामले पर बयान दिया।  

विपक्ष ने साधा निशाना

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) का प्रश्नपत्र लीक होने और फिर इसे रद्द करने को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा तथा आरोप लगाया कि भर्ती में भ्रष्टाचार भाजपा सरकार की पहचान बन गया है। प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘‘भर्तियों में भ्रष्टाचार, पेपर आउट ही भाजपा सरकार की पहचान बन चुका है। आज यूपी टेट का पेपर आउट होने की वजह से लाखों युवाओं की मेहनत पर पानी फिर गया।’’ कांग्रेस की महासचिव ने कहा, ‘‘हर बार पेपर आउट होने पर योगी आदित्यनाथ जी की सरकार ने भ्रष्टाचार में शामिल बड़ी मछलियों को बचाया है, इसलिए भ्रष्टाचार चरम पर है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...