अखिलेश बना रहे थे राष्ट्रपति, मायावती ने कहा- मैं प्रधानमंत्री बनना पसंद करूंगी, जानें क्या है पूरा मामला

अखिलेश बना रहे थे राष्ट्रपति, मायावती ने कहा- मैं प्रधानमंत्री बनना पसंद करूंगी, जानें क्या है पूरा मामला

अखिलेश यादव ने मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अपना वोट बीजेपी को दे दिया है। इसके साथ उन्होंने मायावती पर कटाक्ष कर कहा कि देखिए बीजेपी उन्हें राष्ट्रपति बनाती है या नहीं।

देश में राष्ट्रपति चुनाव में कुछ ही महीनों का वक्त शेष है। राष्ट्रपति चुनाव को लेकर जहां बीजेपी की तरफ से कई नामों को लेकर चर्चा चल रही हैं। कभी जेडीयू नेता और बिहार सीएम नीतीश कुमार का नाम सामने आ जाता है तो कभी किसी अन्य चेहरे को लेकर दावे किए जाते हैं। लेकिन इन सब के बीच समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने बसपा सुप्रीमो को लेकर एक ऐसा दावा कर दिया जिसके तुरंत बाद मायावती की तरफ से इस पर प्रतिक्रिया भी आ गई। अखिलेश यादव ने मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अपना वोट बीजेपी को दे दिया है। इसके साथ उन्होंने मायावती पर कटाक्ष कर कहा कि देखिए बीजेपी उन्हें राष्ट्रपति बनाती है या नहीं। 

इसे भी पढ़ें: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दावा, हमने साबित किया कि उत्तर प्रदेश दंगामुक्त हो सकता है

बसपा अध्यक्ष मायावती ने उनको राष्ट्रपति बनाए जाने संबंधी अखिलेश के बयान को खारिज करते हुए कहा कि वह देश की प्रधानमंत्री बनना पसंद करेंगी और राष्ट्रपति बनने का सपना कभी नहीं देख सकतीं। मायावती ने यहां एक बयान में कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने हाल ही में राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में बसपा पर भाजपा को अपना वोट दिलाने का आरोप लगाया है,जो पूरी तरह से मनगढंत है बल्कि सच्चाई यह है कि सपा की वजह से ही भाजपा सत्ता में लौटी है। मायावती ने कहा कि वह देश के दबे-कुचले लोगों को अपने पैरों पर खड़ा करने का कार्य देश का राष्ट्रपति बनकर नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री या देश की प्रधानमंत्री बनकर ही कर सकती हैं, इसलिये सपा के लोग अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिये उन्हें राष्ट्रपति बनाने का जो सपना देख रहे हैं, उसे वह भूल ही जाएं।  

इसे भी पढ़ें: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दावा, हमने साबित किया कि उत्तर प्रदेश दंगामुक्त हो सकता है

गौरतलब है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को मैनपुरी में संवाददाताओं से बातचीत में कहा था बसपा ने उत्तर प्रदेश चुनाव में अपना वोट भाजपा को हस्तांतरित कर दिया। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि भाजपा मायावती को राष्ट्रपति बनाती है या नहीं। मायावती ने सपा पर पलटवार करते हुए कहा, ‘‘ तमाम गठबंधन करने के बावजूद सपासरकार बनाने में कामयाब नहीं हो सकी। अब जनता को एहसास हो चुका है और अब वह आगे किसी भी चुनाव में सपा के बहकावे में नहीं आएगी।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...