कांग्रेस पार्टी के नेता जयराम सरकार की कार्यप्रणाली से घबराए : नंदा

कांग्रेस पार्टी के नेता जयराम सरकार की कार्यप्रणाली से घबराए : नंदा

उन्होंने कहा कि चाहे वह केंद्र की सरकार हो या प्रदेश की भाजपा सरकार , हमारी सरकार जो कहती है वो करके दिखाती है। कांग्रेस के नेताओ को हिमाचल के 225000 कर्मचारी नहीं दिखते है जिनको पे कमीशन का लाभ हुआ है, उनको हिमाचल के पेंशन उपभोगता एवं पुलिस कांस्टेबल नहीं दिखते है जिनकी लंबित मांगों को पूरा किया गया है।

शिमला।   भाजपा सह मीडिया प्रभारी कर्ण नंदा ने कहा कि कांग्रेस के नेता जयराम सरकार की कार्यप्रणाली से घबरा गए है यही एक बड़ा कारण है कि कांग्रेस के नेता बेबुनियाद बयानबाजी कर जनता को गुमराह करने में लगे है। 

 

उन्होंने कहा कि चाहे वह केंद्र की सरकार हो या प्रदेश की भाजपा सरकार , हमारी सरकार जो कहती है वो करके दिखाती है। कांग्रेस के नेताओ को हिमाचल के 225000 कर्मचारी नहीं दिखते है जिनको पे कमीशन का लाभ हुआ है, उनको हिमाचल के पेंशन उपभोगता एवं पुलिस कांस्टेबल नहीं दिखते है जिनकी लंबित मांगों को पूरा किया गया है। 

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री से भेंट की

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जनता को बिजली के बिलों में राहत प्रदान की है इसके बारे में कांग्रेस पार्टी का क्या कहना है, कांग्रेस को इस बात का झटका लगा है की सरकार द्वारा बिजली में राहत पहुंचाई गई।  आज कांग्रेस पार्टी चारों खाने चित्त हो गई है, कांग्रेस का केवल वन प्वाइंट एजेंडा है और वो है सत्ता में आना।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में आज भी अंतरकाला चल रही है , उनमें वर्चस्व की लड़ाई कभी समाप्त नहीं हो सकती। 

 

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने हाॅकी टीम के पूर्व कप्तान के निधन पर शोक व्यक्त किया

 

आज जयराम सरकार ने सिद्ध कर दिया है की वो जन, कर्मचारी एवं समाज हितैषी सरकार है। 

जिस प्रकार से सरकार ने हिमाचल में काम किया है और केंद्र ने हिमाचल का ख्याल रखा है उससे यह साफ दिख रहा है की 2022 के आम चुनावों में भाजपा की सरकार एक बार फिर बनने जा रही है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...