कोरोना नियमों की उड़ी धज्जियां, जिला मजिस्ट्रेट पूर्वी दिल्ली ने इन जगहों पर लगाया प्रतिबंध

कोरोना नियमों की उड़ी धज्जियां, जिला मजिस्ट्रेट पूर्वी दिल्ली ने इन जगहों पर लगाया प्रतिबंध
प्रतिरूप फोटो

पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मी नगर और उसके आस पास के इलाकों में स्थिति बाजारों को एक बार फिर से बंद कर दिया गया। क्योंकि यहां पर कोरोना नियमों का पालन नहीं हो रहा था और भारी संख्या में भीड़ बाजारों में दिखाई दे रही थी।

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर ने पूरे देश में हाहाकार मचाया हुआ था। लेकिन संक्रमण के मामलों में कमी आने के बाद धीरे-धीरे प्रतिबंधों में ढील दी जा रही थी। इसी क्रम में दिल्ली सरकार ने यहां के कई बाजारों को खोल दिया। हालांकि बाजारों के खुलते ही भारी संख्या में भीड़ उमड़ती हुई देखी गई। जिसके बाद एक बार फिर से कुछ बाजारों को बंद कर दिया गया है। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना की तीसरी लहर अक्टूबर या नवम्बर में, बच्चों को कैसे रखें सुरक्षित? 

पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मी नगर और उसके आस पास के इलाकों में स्थिति बाजारों को एक बार फिर से बंद कर दिया गया। क्योंकि यहां पर कोरोना नियमों का पालन नहीं हो रहा था और भारी संख्या में भीड़ बाजारों में दिखाई दे रही थी। ऐसे में जिला मजिस्ट्रेट पूर्वी दिल्ली ने 5 जुलाई की रात 10 बजे तक बाजार को बंद कर दिया है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पूर्वी दिल्ली में कोविड नियमों का ठीक से पालन नहीं होने के कारण लक्ष्मी नगर का मुख्य बाजार और उसके आसपास के बाजार जैसे मंगल बाजार, विजय चौक, सुभाष चौक, जगतराम पार्क, गुरु रामदास नगर को 5 जुलाई की रात 10 बजे तक बंद कर दिया है। यह निर्देश जिला मजिस्ट्रेट पूर्वी दिल्ली ने दिया है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खिलाफ लड़ाई तेज, DCGI ने सिप्ला को दी मॉडर्ना वैक्सीन के आयात की मंजूरी

चार और लोगों की हुई मौत 

दिल्ली में मंगलवार को कोविड-19 के 101 नए मामले सामने आए, जबकि चार और लोगों की वायरस संक्रमण से मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक संक्रमण की दर सोमवार को 0.10 से आंशिक रूप से बढ़कर 0.15 हो गई। वहीं, चार और लोगों की मौत होने के साथ राष्ट्रीय राजधानी में महामारी से मरने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़कर 24,971 पहुंच गई।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...