डॉ. शाही ने अपने हुनर से गले का ऑपरेशन कर डेढ़ किलो का ट्यूमर निकाला

डॉ. शाही ने अपने हुनर से गले का ऑपरेशन कर डेढ़ किलो का ट्यूमर निकाला
प्रतिरूप फोटो

डॉक्टर शिव शंकर शाही ने बताया कि महिला के गले में डेढ़ किलो का थायराइड का ट्यूमर बना हुआ था। इस बीमारी को लेकर महिला गोरखपुर, लखनऊ यहां तक दिल्ली का भी चक्कर काट चुकी थी,लेकिन कहीं भी इसे सफलता नहीं मिली ।

गोरखपुर। शाही ग्लोबल हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने एक मरीज के गले में थायराइड ग्रंथि का ट्यूमर जो बढ़कर डेढ़ किलो का हो गया था, सफल ऑपरेशन करके निकाला।  शाही ग्लोबल हॉस्पिटल के डायरेक्टर तथा सर्जन डॉक्टर शिव शंकर शाही ने बताया कि महिला के  गले में डेढ़ किलो का थायराइड का ट्यूमर बना हुआ था। इस बीमारी को लेकर महिला गोरखपुर, लखनऊ यहां तक दिल्ली का भी चक्कर काट चुकी थी,लेकिन कहीं भी इसे सफलता नहीं मिली। चुकी गले में इतना बड़ा ट्यूमर आज के जमाने में देखने को बहुत कम मिलता है। उन्होंने कहा कि मरीज उनके पास आई थी और उन्होंने ऑपरेशन के लिए आश्वस्त किया था।

 

डॉक्टर शाही ने कहा कि हारा हुआ जीत के लिए कुछ भी कर सकता है और महिला ने ऑपरेशन की अनुमति दे दिया। डॉ भूपेंद्र प्रताप सिंह तथा  डॉक शिव शंकर शाही ने  इस मरीज का सफल ऑपरेशन किया। डॉक्टर शाही ने कहा कि गले में इतनी बड़ी ट्यूमर का ऑपरेशन करने से कई बार सांस की नली ब्लॉक हो जाती हैं ,मरीज बोल नहीं पाता है या जिंदगी भर सांस का रास्ता गले से बना कर रहना पड़ता है। लेकिन सफल ऑपरेशन होने की वजह से मरीज को कोई परेशानी नहीं हुई। डॉक्टर शाही ने जानकारी देते हुए कहा कि मरीज का नाम चिंता देवी पति स्वर्गीय बब्बन यादव ,करकटही, परासिया ,देवरिया के रहने वाली हैं। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।